Home > राज्य > मध्यप्रदेश > मप्र उपचुनाव 2020 > कांग्रेस मध्यप्रदेश का माहौल बिगाडऩे की कोशिश कर रही: शर्मा

कांग्रेस मध्यप्रदेश का माहौल बिगाडऩे की कोशिश कर रही: शर्मा

कांग्रेस मध्यप्रदेश का माहौल बिगाडऩे की कोशिश कर रही: शर्मा
X

ग्वालियर, न.सं.। यह चुनाव विकास का और मध्यप्रदेश को आगे बढ़ाने का चुनाव है। एक तरफ कमलनाथ और दिग्विजय सिंह हैं जिन्होंने 15 महीने प्रदेश की दुर्दशा की और दूसरी तरफ गरीबों के लिए कल्याणकारी योजनाओं को चालू करने वाले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान हैं। यह चुनाव विकास और विनाश के बीच का चुनाव है। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने ग्वालियर में पत्रकारों से चर्चा करते हुए कही।

प्रदेश अध्यक्ष श्री शर्मा ने कहा कि कमलनाथ आज चुनाव आयोग की कार्यवाही को लेकर लोकतंत्र की दुहाई दे रहे हैं उन कमलनाथ को याद रखना चाहिए कि आवाज को दबाने और लेखनी को बंद करने का इतिहास कांग्रेस का रहा है। उन्होंने कहा कि अपने खिलाफ उठी आवाज को दबाने के लिए इंदिरा गांधी ने देश पर इमरजेंसी थोपी और इस इमरजेंसी के लिए जो मंडली काम कर रही थी उसके मुख्य रणनीतिकार कमलनाथ थे। उन्होंने कहा कि कमलनाथ जी झूठ बोलकर जनता का ध्यान भटकाने की कोशिश कर रहे है। उन्होंने कहा कि कमलनाथ जी 84 के दंगे और आपके मंत्री रहते कॉमर्स मिनिस्ट्री में जो कुछ हुआ

कांग्रेस अपने भाषणों में दलित और पिछड़ों की बात करती है लेकिन हकीकत में कांग्रेस के नेता दलित, पिछड़ों और गरीब जनता का अपमान कर रहे हैं। दुर्भाग्य है कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने उनके मंत्रीमंडल की सदस्य रही, दलित महिला श्रीमती इमरती देवी का अपमान किया। केंद्रीय चुनाव आयोगए अनुसूचित जाति आयोग तक ने फटकार लगाई। कांग्रेस के नेता राहुल गांधी तक ने कहा कि यह नारीशक्ति का अपमान है, इस पर कमलनाथ जी को माफी मांगनी चाहिए। लेकिन इन सबके बावजूद दंभ और अहंकार से भरे कमलनाथ का यह कहना कि वे माफी नहीं मांगेंगे। चुनाव आयोग के आदेश को न मानकर बाबा साहब के बनाये हुए संविधान की खिल्ली उड़ाने का काम कमलनाथ और दिग्विजय सिंह ने किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता 3 नवम्बर को दिग्विजय सिंह और कमलनाथ को करारा जवाब देगी। श्री शर्मा ने कहा कि इस चुनाव में एक तरफ झूठ वचन और वादे करने वाली कांग्रेस है तो दूसरी ओर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जैसा संवेदनशील नेतृत्व जिन्होंने लगातार 15 वर्षों तक मध्यप्रदेश का विकास किया। उन्होंने कहा कि जब 15 महीने तक मुख्यमंत्री कमलनाथ रहे तब उन्होंने पैसा न होने का हवाला देकर विकास कार्यों को रोका लेकिन वहीं दूसरी ओर आईफा अवार्ड के नाम पर करोड़ों रुपए फूकने का काम किया। उन्होंने कहा कि बीते छह माह में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किसानों के खातों में 22 हजार करोड़ रुपए पहुंचाकर एक इतिहास बनाया है। कमलनाथ सरकार ने गरीबों की जो योजनाएं बंद की थीं, उन योजनाओं को पुन: शुरू करने का काम शिवराज जी ने किया। उन्होंने कहा कि चुनाव प्रचार में भारतीय जनता पार्टी को जनता का अपार समर्थन मिला है। 28 सीटों पर भारतीय जनता पार्टी जनता के आशीर्वाद से ऐतिहासिक जीत हासिल करेगी।

Updated : 2021-10-12T16:46:35+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top