Home > राज्य > मध्यप्रदेश > मप्र उपचुनाव 2020 > शिवराज का आरोप कमलनाथ ने किसानों के सर रखी ब्याज की गठरी

शिवराज का आरोप कमलनाथ ने किसानों के सर रखी ब्याज की गठरी

घर बैठकर नेताओं ने दागे जुबानी बाण

शिवराज का आरोप कमलनाथ ने किसानों के सर रखी ब्याज की गठरी
X

भोपाल l मतदान के 48 घंटे पहले बंद हुए चुनाव-प्रचार के कारण नेता भले ही घर बैठ गए हैं, लेकिन उनका सियासी दांव जारी रहा। सत्तारूढ़ दल भाजपा और कांग्रेस के नेता इस कड़ी में एक दूसरे पर जुबानी हमले करते नजर आए। प्रदेश विधानसभा की 28 सीटों के लिये हो रहे मतदान के ठीक एक दिन पहले मुख्यंत्री शिवराज ङ्क्षसह चौहान ने जहां कमलनाथ पर किसानों के सर पर ब्याज की गठरी रखने का आरोप लगाया है, वहीं दूसरी ओर कमलनाथ ने इस आरोप को नकारते हुए जबाव में कहा कितनी बेशर्मी से यह झूठ बोल लेते हैं।

एक-दूसरे को मात देने की कोशिशों के बीच यह वक्तव्य आज मंगलवार हो रहे मतदान में क्या असर डालेंगे, यह तो आगामी 10 नवंबर को सामने आएगा। बावजूद इसके राजधानी में चुनावी थकावट दूर करते हुए इन नेताओं के अलावा दूसरे भी शब्दबाण से एक-दूसरे पर निशाना साधते हुए दिखाई दिये। इस कड़ी में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने मतदान से पहले कमलनाथ को अहंकार में चूर और मद में मस्त बताते हुए कहा कि इसलिए आपके महापाप भी आपको दिखाई नहीं पड़ रहे हैं। किसानों, युवाओं और महिलाओं के साथ पाप करने का आरोप लगाते हुए कहा कि इसका जबाव 3 नवंबर को जनता जनता देगी और 10 नवंबर के परिणाम आपको आपके महापाप बता देंगे। जबकि चुनाव प्रचार के लिये लंबे समय तक ग्वालियर-चंबल में रहे कांग्रेस विधायक पीसी शर्मा ने लौटकर सोमवार दावा किया कि यहां 16 सीटों में एक सीट भी बीजेपी को नही मिलेगी। इतना ही नहीं उन्होंने विश्वास जताया कि 3 तरीख को जो वोटिंग होगी कांग्रेस के पक्ष में होगी क्योंकि जनता खुद यह उपचुनाव लड़ रही है।

कांग्रेस को घेरने उठाया कर्जमाफी का मुद्दा

मतदान के ठीक पहले भाजपा ने कर्जमाफी का मुद्दा उठाया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस को घेरते हुए कहा कि कांग्रेस सिर्फ कहती थी, लेकिन किसानों के लिए कुछ नही किया। कर्जमाफी के नाम पर जानबूझकर कमलनाथ ने किसानों के सिर पर ब्याज की गठरी रख दी। क्योंकि उन्होंने सहकारी बैंक से सार्टिफिकेट बटवाए और पैसे नही दिए। यहां तक कि कमलनाथ ने पीएम सम्मान निधि की सूची तक केंद्र को नही भेजी है।

झूठ के सहारे भाजपा के शिवराज

कर्जमाफी के सवाल पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने भाजपा के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को झूठा कहा है। उन्होंने कहा कि सरकार ने विधानसभा में ख़ुद स्वीकारा है कि 27 लाख किसानों का कर्ज माफ हुआ है और कर्ज माफी का तीसरा चरण भी प्रारंभ होने जा रहा था। इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि यह कहते हैं कि मैने बच्चों की पढ़ाई का पैसा रोक लिया। एक-एक बात उनकी झूठी है। मुझे तो आश्चर्य होता है कि कितनी बेशर्मी से ये इतना झूठ कैसे बोल लेते हैं।

कांग्रेस ने जताई बूथ कैप्चरिंग की आशंका

चुनाव से ठीक 12 घंटे पहले कांग्रेस ने निर्वाचन आयोग से शिकायत करते हुए बूथ कैप्चरिंग की आशंका जताई है। चुनाव प्रभारी जेपी धनोपिया ने बदनावर सीट का उल्लेख करते हुए भाजपा के राज्यवर्धन सिंह और उनके भाई हर्षवर्धन सिंह को आतंक का पर्याय बताया है। इसके साथ ही पोहरी विधानसभा क्षेत्र का उल्लेख करते हुए कहा है कि अपराधी तत्वों द्वारा बूथ कैप्चरिंग की घटना को अंजाम देकर चुनाव को प्रभावित किया जा सकता है। यहां के 40 मतदान केन्द्रों को अति संवेदनशील मतदान केन्द्र घोषित करने की मांग भी की गई है।

28 सीटों पर 9 हजार 361 मतदान केंद्र

प्रदेश के 19 जिलों के 28 विधानसभा क्षेत्रों में आज मतदान होगा। सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे के बीच 9 हजार 361 मतदान केंद्रों में 63 लाख 51 हजार से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। उप निर्वाचन में कुल 355 अभ्यर्थी चुनाव लड़ रहे हैं। अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अरूण कुमार तोमर ने बताया कि मतों की गणना 10 नवम्बर को संबंधित विधानसभा क्षेत्र व जिला मुख्यालय पर होगी। मतदान के लिये 13 हजार 115 बैलेट यूनिट, 13 हजार 115 कंट्रोल यूनिट एवं 14 हजार 50 वीवीपेट जिलों में उपलब्ध कराई गई हैं। साथ ही 30 प्रतिशत मतदान दलों को रिजर्व के रूप में रखा गया है। आयोग द्वारा मतदाताओं को मतदान पर्ची उपलब्ध कराई गई है। उप निर्वाचन में कुल 3 हजार 38 क्रिटिकल मतदान केन्द्र एवं 358 वल्नरेबल हेमलेट्स चिन्हित किए गए हैं।

Updated : 2021-10-12T16:46:35+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top