Home > राज्य > मध्यप्रदेश > मप्र उपचुनाव 2020 > यह चुनाव मध्यप्रदेश का भविष्य तय करेगा: कमलनाथ

यह चुनाव मध्यप्रदेश का भविष्य तय करेगा: कमलनाथ

पूर्व मुख्यमंत्री ने ग्वालियर पूर्व और ग्वालियर में ली सभाएं

यह चुनाव मध्यप्रदेश का भविष्य तय करेगा: कमलनाथ
X

ग्वालियर, न.सं.। प्रदेश में होने जा रहे विधानसभा उपचुनाव के लिए अब प्रचार अभियान चरम पर पहुंच गया है। राजनीतिक दल अब एक-दूसरे पर जमकर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं। मंगलवार को पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ग्वालियर एवं ग्वालियर पूर्व विधानसभा में दो सभाएं ली। जनसभा को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि पूरा देश संविधान का सम्मान करता है। डॉ. भीमराव अंबेडकर ने सपने में भी नहीं सोचा होगा कि इस तरह की सौदेबाजी होगी और उप-चुनाव होगा। कमलनाथ ने कहा कि चुनाव प्रजातंत्र का उत्सव होता है, लेकिन मध्यप्रदेश में ये सौदेबाजी का उत्सव हो रहा है। उन्होंने भाजपा पर तंज कसते हुए कहा कि प्रदेश की राजनीति अब बिकाऊ हो गई है और इस तरह की सौदेबाजी कर भाजपा ने चंबल को कलंकित किया है। यह चुनाव मध्यप्रदेश का भविष्य तय करेगा।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह कहते हैं कि कमलनाथ ग्वालियर नहीं आते। उन्होंने कहा यह महाराजाओं की धरती है, मैं न तो मामा हूं और न ही चाय बेचने वाला हूं, मैं तो कमलनाथ हूं। उन्होंने कहा कि मैं 15 माह का हिसाब देने को तैयार हूं। लेकिन शिवराज अपने 15 साल का हिसाब दें। कभी मध्यप्रदेश की पहचान ग्वालियर से होती थी लेकिन आज अंचल के औद्योगिक क्षेत्र चौपट हो चुके हैं। कारखाने बंद हो चुके हैं। अब ग्वालियर को भोपाल-इंदौर से तुलना करने पर काफी पिछड़ा कहा जाता है। उन्होंने कहा कि शिवराज सिंह ने मुख्यमंत्री बनने के बाद अब और अधिक झूठ बोलना शुरू कर दिया है। हमारी सरकार ने अभियान चलाकर माफिया की कमर तोड़ी थी। उन्होंने कहा कि मुंह चलाने और सरकार चलाने में बहुत अंतर होता है। सभा को संबोधित करते हुए आचार्य प्रमोद ने कहा कि ग्वालियर की हवा बता रही है कि मौसम बदलने वाला है और कांग्रेस के प्रत्याशी जीतेंगे। इस अवसर पर सभा को विधायक प्रवीण पाठक, लाखन सिंह एवं कांग्रेस प्रत्याशियों ने भी संबोधित किया

उप-चुनाव में कांग्रेस की लहर है, जनता सिखाएगी सबक: पायलट



राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा कि मैं डंके की चोट पर यहां आया हूं। पूरा देश जानता है कि मध्यप्रदेश में उप-चुनाव क्यों हो रहे हैं। विधानसभा चुनाव में शिवराज की विदाई हुई तो उन्हें यह बात गले नहीं उतरी और उन्होंने तीसरे दरवाजे का उपयोग किया है। उन्होंने कहा कि शिवराज के शासनकाल में डंपर और व्यापमं जैसे कांड हुए और उनकी सरकार चली गई। अगर ऐसा ही करना था तो पूरी विधानसभा भंग कराते फिर चुनाव कराते तो कांग्रेस फिर सरकार बनाती। श्री पायलट ने कहा कि भाजपा पूरी तरह से सौदेबाजी पर उतर आई है। उप-चुनाव में कांग्रेस की लहर है, जनता सबक सिखाना चाहती है और कांग्रेस कार्यकर्ताओं में मनोबल की कमी नहीं है।

ये रहे उपस्थित

कोटेश्वर एवं मुरार बस स्टैंड की सभा में छिंदवाड़ा सांसद नकुलनाथ, कांग्रेस के ग्वालियर पूर्व के प्रत्याशी डॉ. सतीश सिकरवार, ग्वालियर के प्रत्याशी सुनील शर्मा, महाराष्ट्र के मंत्री सुनील केदार, पूर्व मंत्री लाखन सिंह यादव, अशोक सिंह, विधायक प्रवीण पाठक, जिलाध्यक्ष देवेन्द्र शर्मा, रामसेवक गुर्जर, अमर सिंह माहौर सहित अन्य कांग्रेस नेता उपस्थित थे।



Updated : 2021-10-12T16:50:57+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top