Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > मप्र उपचुनाव 2020 > उपचुनाव के अभियान में परवान चढ़ रही जुबानी जंग

उपचुनाव के अभियान में परवान चढ़ रही जुबानी जंग

सहकारिता मंत्री बोले कांग्रेस की मानसिकता खराब कांग्रेस बोली भाजपा महल के साथ या राष्ट्रभक्तों के

उपचुनाव के अभियान में परवान चढ़ रही जुबानी जंग
X

अशोकनगर, ब्यूरो। नामांकन दाखिल होने के साथ ही अब चुनावी जंग तेज होती जा रही है। शुक्रवार को जहां भाजपा नेता अरविंद भदौरिया ने कांग्रेस के आरोपों के जबाव दिए वहीं कांग्रेस की ओर से भी भाजपा प्रत्याशी द्वारा श्रीरामशिला की अयोध्या रवानगी कार्यक्रम में शामिल होने को लेकर आपत्ति उठाते हुए शिकायत चुनाव आयोग से करने की बात कही है। शुक्रवार को मंत्री अरविंद भदौरिया ने अशोकनगर व मुंगावली विधानसभा का दौरा किया। पहले अशोकनगर पहुंचे भदौरिया ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कांग्रेस द्वारा उठाए जा रहे सवालों का जबाव दिया। श्री भदौरिया ने किसान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश गुर्जर के शिवराज सिंह को भूखे नंगे परिवार का कहने पर जबाव देते हुए कहा कि यह केवल दिनेश गुर्जर का बयान नहीं बल्कि पूरी कांग्रेस का बयान है जो उनकी मानसिकता को दर्शाता है। यह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अकेले का अपमान नहीं हैं बल्कि प्रदेश के समस्त गरीब मजदूरों का अपमान है। क्या गरीब लोगों को चुनाव लडऩे का हक नही है। श्री भदौरिया ने चुनाव के दौरान नेताओं की अमर्यादित बयान के बारे में कहा कि यह चुनाव विकास के मुद्दे पर लड़ा जा रहा है भाजपा ने विकास कार्य कराए हैं उनके जरिए ही मतदाता के समक्ष जा रहे हैं कांग्रेस ने काम किए नहीं हैं इस कारण इस तरह के बयान देकर लोगों का ध्यान भटकाने की कोशिश की जा रही है। वहीं सिंधिया को भाजपा में तवज्जो न दिए जाने के सवाल पर मंत्री ने कहा कि भाजपा की एक कार्य पद्यति है। यहां कोई बड़ा-छोटा नहीं है और न ही कार्यकर्ताओं को सौंपे गए कार्य छोटे-बड़े होते हैं। श्री सिंधिया भारतीय जनता पार्टी में एक कार्यकर्ता के रूप में काम कर रहे हैं। पार्टी चाहे उन्हें किसी भी नंबर पर कार्य करा सकती है यह पार्टी जाने।

शहरयार बोले-कैलाश स्पष्ट करें कि महल के पैरोकार या देशभक्तों के साथ:

बीते दिनों भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने अशोकनगर में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कमलनाथ और दिग्विजय सिंह की संपत्ति की तुलना महल की कीमत से लगा कर की थी। कैलाश विजयवर्गीय के इस भाषण पर मप्र कांग्रेस कमेटी के प्रदेश प्रवक्ता शहरयार खान ने प्रतिक्रिया व्यक्त की है। श्री खान ने कहा है कि पीसीसी चीफ कमलनाथ और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने अपनी मेहनत और काबिलियत के दम पर अपनी संपत्ति खड़ी की है जबकि इसके विपरीत महल की संपत्ति खुद की कमाई न हो कर पूर्वजों द्वारा संचित की गई कमाई है। ऐसे में निश्चित ही दोनों में फर्क तो होगा ही। उन्होंने कहा है कि भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय को पता होना चाहिये कि वीरांगना की शहादत पर महल की नींव और दीवारें खड़ी है। उन्हें यह भी स्पष्ट करना चाहिए कि वे वे महल के पैरोकार हैं अथवा देशभक्तों के साथ हैं। उल्लेखनीय है कि शहरयार खान मप्र कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता एवं अशोकनगर-मुंगावली विधानसभा क्षेत्र के मीडिया समन्वयक हैं।

Updated : 17 Oct 2020 1:00 AM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top