Home > राज्य > मध्यप्रदेश > अन्य > 7 फुट के अजगर का हुआ सफल ऑपरेशन, दो लेयर में 12 टांके लगाए

7 फुट के अजगर का हुआ सफल ऑपरेशन, दो लेयर में 12 टांके लगाए

7 फुट के अजगर का हुआ सफल ऑपरेशन, दो लेयर में 12 टांके लगाए
X

बैतूल। आपने अब तक किसी इंसान की सर्जरी होते देखी होगी। लेकिन बैतूल के घोड़ाडोंगरी पशु चिकित्सालय में एक 7 फुट के भुजंग की सर्जरी की गई। जिसका पेट एक दुर्घटना में फट गया था। इस अजगर को बाकायदा बेहोश किया गया और फिर डेढ़ घंटे चले ऑपरेशन के बाद उसकी सफल सर्जरी कर फिलहाल ऑब्जर्वेशन में रखा गया है।

दरअसल 29 जून की शाम को बैतूल जिले के सारनी नगर निवासी पर्यावरणविद और सांपों के संरक्षण का कार्य कर रहे आदिल खान ने बताया कि उन्हें शाम को सूचना मिली कि सारनी के पास स्थित मोरडोंगरी गांव में खेत की जुताई करते समय एक अजगर का पेट कट गया है और उसकी आंतें बाहर आ गई है। जिसके बाद आदिल के माध्यम से सारनी रेंजर अमित साहू को इसकी सूचना दी गई, जिस पर रेंजर अमित साहू ने तत्परता दिखाते हुए वन विभाग से वन रक्षक करण सिंह मर्सकोले को आदिल के पास भेजा। फिर अपने दो सहयोगी अपूर्व, अर्पित सिंह और वन विभाग के आरक्षक के साथ आदिल मोरडोंगरी गांव पहुंचे और वहां से अजगर का रेस्क्यू कर उसे सारनी लाए।

डेढ़ घंटे चला ऑपरेशन -

इसके बाद क्षेत्र की वेटरनरी डॉक्टर सीमा ठाकुर को आदिल ने इस संबंध में जानकारी दी और एसडीओ फॉरेस्ट सारनी विजय कुमार मौर्य को भी जानकारी दी गई। वन विभाग ने वाहन उपलब्ध कराकर घायल अजगर को घोड़ाडोंगरी स्थित पशु चिकित्सालय पहुंचाया। रात को लगभग 9.30 बजे घोड़ाडोंगरी पशु चिकित्सालय में 7 फीट लंबे अजगर का वेटरनरी डॉक्टर सीमा ठाकुर, डिस्पेंसरी अटेंडेड दशरथ गीत ने सांप का ऑपरेशन शुरू किया, जो रात को 11 बजे तक चला।

बारह टांके लगाए -

घोड़ाडोंगरी की पशु चिकित्सक सीमा ठाकुर ने बताया कि सात फीट लंबे अजगर की आंतें बाहर आ गई थी जिसे अंदर करके दो लेयर में लगभग बारह टांके लगाए गए। अजगर को अभी ऑब्जर्वेशन में रखा है स्वस्थ होने पर जंगल में छोड़ दिया जाएगा।

Updated : 2021-10-12T15:54:41+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top