Home > राज्य > मध्यप्रदेश > अन्य > होशंगाबाद में नर्मदा खतरे से ऊपर, घरों में घुसा बाढ़ का पानी

होशंगाबाद में नर्मदा खतरे से ऊपर, घरों में घुसा बाढ़ का पानी

होशंगाबाद में नर्मदा खतरे से ऊपर, घरों में घुसा बाढ़ का पानी
X

होशंगाबाद। नर्मदा का जलस्तर खतरे के निशान को पार कर गया है। बिगड़ते हालात को देखते हुए प्रशासन ने सेना बुलाई है। संभागयुक्त रजनीश श्रीवास्तव ने इसकी पुष्टि की है। एनडीआरएफ की टीम भी बुलाई गई हैं। नर्मदा का रौद्र रूप देखकर याद आई 1973 की भीषण बाढ़, आज ही दिन पानी-पानी हुआ था पूरा शहर। शनिवार सुबह 9 बजे तक नर्मदा का जलस्तर 973 फीट तक पहुंच गया है। जो खतरे के निशान से 6 फीट ऊपर चल रहा है।

आज सुबह जब लोगों आंख खुली उस समय नर्मदा उफन रही थी। कई मोहल्लों में पानी भर चुका था। जलस्तर खतरे के निशान के ऊपर चल रहा है। कई मोहल्लों में पानी भरने के कारण उन्हे लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया जा रहा है। नर्मदा का जलस्तर 973 फीट तक पहुंच गया है। जो खतरे के निशान से 6 फीट ऊपर चल रहा है।

होम साइंस कॉलेज के पास बनी पिचिन के टूटने से शहर के कई हिस्सों में पानी पहुंच गया है।कई मकान भी धराशायी हो गए । तूफानी बरसात में जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है।

जिले में 1973 जैसे हालात-

साल 1973 में भी बारिश के साथ तीनों बांधों के गेट खोल दिए जाने से बाढ़ आई थी, ऐसे ही हालात 47 साल बाद फिर आज भी बन रहे हैं। जिसमें सराफा चौक के पास तक नर्मदा का पानी पहुंच गया था। तटीय बस्तियां भी जलमग्न हो गईं थी। बीटीआई, एसपीएम पुलिया, महिमा नगर, ग्वालटोली रोड, धानाबड़, बांद्राभान में बैक वाटर भरा रहा है।

होशंगाबाद में बांधों का जलस्तर अपडेट

समय 10 बजे सुबह

नर्मदा नदी - 974.40 फीट

तवा जलाशय - 1166.10 फीट

बरगी जलाशय - 422.40 मीटर

बारना जलाशय -348.22 मीटर

Updated : 2020-08-29T15:31:44+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top