Home > राज्य > मध्यप्रदेश > अन्य > मंत्री जालम सिंह ने झूठे आरोपों के लिए दिग्विजय सिंह को मानहानि नोटिस भेजा

मंत्री जालम सिंह ने झूठे आरोपों के लिए दिग्विजय सिंह को मानहानि नोटिस भेजा

मंत्री जालम सिंह ने झूठे आरोपों के लिए दिग्विजय सिंह को मानहानि नोटिस भेजा
X

नरसिंहपुर। छह अगस्त को जिले के दौरे पर आये पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह द्वारा एक पत्रकारवार्ता मे नरसिंहपुर विधायक एवं प्रदेश के मंत्री जालम सिंह पटैल व उनके परिवार पर अवैध खनन मे लिप्त होने के आरोप लगाये गये थे। जिसे बेहद गंभीरता से लेते हुए जालम सिंह ने गुरुवार शाम को प्रेस कान्फ्रेंस में दिग्विजय के आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए पत्रकारों से कहा कि मैं एवं मेरा परिवार प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से रेत खनन के कार्य में शामिल नहीं हैं, लेकिन मेरी छवि खराब करने के उद्देश्य से दिग्विजय ने यह आरोप लगाये हैं।

जालम सिंह ने बताया कि इन आरोपों से क्षुब्द होकर मैने दिग्विजय सिंह को मानहानि का नोटिस भेजा है। राज्य मंत्री ने कहा कि दिग्विजय सिंह ने अपने द्वारा लगाये गये मनगढ़ंत आरोपों पर यदि 7 दिन के भीतर सार्वजनिक व व्यक्तिगत रूप से माफी नही मांगी तो वे सक्षम न्यायालय में मानहानि हेतु 1 करोड़ रुपए का दावा करेंगे। वहीं मंत्री पटैल ने पत्रकारों के प्रश्नो का उत्तर देते हुये कहा कि यह सही है कि जिले में अवैध रेत उत्खनन होता है। परंतु प्रशासन भी अवैध उत्खनन करने वालों पर लगातार कार्रवाई करता है। उन्होंने कहा कि अभी तक कांग्रेस व अन्य विरोधी संगठनों द्वारा सत्ताधारी दल के विधायकों, सांसदों व नेताओं पर अवैध उत्खननकत्र्ताओं को संरक्षण देने के आरोप लगाये जाते थे, जो कि राजनैतिक होते थे, लेकिन दिग्विजय सिंह ने मुझ पर व्यक्तिगत आरोप लगायें हैं, जिसे गंभीरता से लेना जरूरी हो गया है।

रेप की घटनाएं दुर्भाग्यपूर्ण, नशे की प्रवृत्ति जिम्मेदार

एक प्रश्न के जवाब में जालम सिंह ने कहा कि समस्याएं किसानों का पीछा नही छोड़तीं और वह अक्सर परेशान रहता है, लेकिन पिछले 1 वर्ष से जिले मे जो किसान आंदोलन हो रहे हैं उनमे कुछ पार्टी विशेष के लोग एवं पूर्व मे चुनाव हारे हुए लोग हैं। जिले मे लाखों किसान होने के बावजूद भी इन आंदोनलों को ज्यादा किसानों का समर्थन नही मिल पाता। उन्होंने रेप की बढ़ती घटनाओं को दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए कहा कि इन वारदातों के लिए बढ़ती नशे की प्रवृत्ति जिम्मेदार है। राज्यमंत्री ने कहा कि मैं पहले भी नशे का विरोध करता था और अब भी करता हूं। जिले मे अवैध शराब बिक रही है, जिस पर संबंधित विभागों को कठोर कार्रवाई करनी चाहिए।

Updated : 2018-08-10T17:49:33+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top