Home > राज्य > मध्यप्रदेश > अन्य > सागर बनेगा गंदगी मुक्त, मंत्री भूपेंद्र सिंह ने की "गंदगी भारत छोड़ो " की शुरुआत

सागर बनेगा गंदगी मुक्त, मंत्री भूपेंद्र सिंह ने की "गंदगी भारत छोड़ो " की शुरुआत

सागर बनेगा गंदगी मुक्त, मंत्री भूपेंद्र सिंह ने की गंदगी भारत छोड़ो  की शुरुआत
X

सागर। स्वास्थ्य व समृद्धि के लिये स्वच्छता बेहद आवश्यक है। प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस दिशा में देश और प्रदेश को गंदगी मुक्त बनाने का लगातार कार्य किया है। इसी का परिणाम है कि देश के सबसे स्वच्छ शहरों में प्रथम और द्वितीय स्थान रखने वाले शहर इंदौर, भोपाल मध्यप्रदेश के हैं। उन्होंने कहा कि अगले तीन वर्षों में मध्यप्रदेश के शहरों में कचरे के ढेर देखने को नही मिलेंगे। इस दिशा में कार्य किया जा रहा है। शहरों की गंदगी सबसे बड़ी समस्या है। इसे हमें चुनौती के रूप में लेना है। उन्‍होंने कहा कि कोरोना के नियंत्रण व रोकथाम के लिये मध्यप्रदेश में सरकार ने बेहतर कार्य किया है। जिसके फलस्वरूप आज मध्यप्रदेश 15 वें स्थान पर है। प्रदेश के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने यह बात सागर में गंदगी भारत छोड़ो- मध्यप्रदेश अभियान के शुभारंभ अवसर पर कही।

16 से 30 अगस्त तक चलेगा अभियान

मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि 16 से 30 अगस्त तक चलाये जाने वाले गंदगी भारत छोड़ो अभियान के तहत नगरीय निकायों की रैकिंग की जायेगी और अच्छा कार्य करने वाली नगरीय निकायों को सम्मानित किया जायेगा। उन्होंने मसवासी प्लांट में स्थानीय लोगों को रोजगार की प्राथमिकता देने और ग्राम हफसिली और आमावनी का कचरा तीन माह में उठाने के निर्देश दिये। मंत्री सिंह ने कहा कि सागर के विकास में फन्ड कोई कमी नही होगी और मकरोनिया को स्मार्ट सिटी में शामिल किया जायेगा।

सागर बनेगा गंदगी मुक्त -

कार्यक्रम के दौरान सागर सांसद राजबहादुर ने कहा कि ये बेहद ख़ुशी की बात है कि सागर में एक बड़ी योजना मूर्तरूप रूप ले रही है। जिससे सागर जल्द ही गंदगी मुक्त बनेगा। विधायक प्रदीप लारिया ने कहा कि देश में लगभग 35 प्रतिशत कचरे का ही प्रबंधन हो पाता है। कचरे के कारण कई प्रकार की बीमारियां होती है। उन्होंने सागर को गंदगी मुक्त बनाने की दिशा में किये गए कार्य पर प्रसन्नता व्यक्त की। साथ ही उन्होंने मकरोनिया को स्मार्ट सिटी में शामिल करने की मांग रखी ।

सागर के लिये गौरव की बात -

सागर विधायक शैलेन्द्र जैन ने कहा कि सागर के लिये गौरव की बात है कि गंदगी मुक्त बनाने की दिशा में ठोस प्रबंधन ईकाई शुरू हो रही है। उन्होंने कहा कि कचरे से विद्युत उत्पादन की संभावना पर भी विचार हो। नगरीय प्रशासन आयुक्त निकुंज श्रीवास्वत ने 16 से 30 अगस्त तक चलाये जा रहे गंदगी भारत छोड़ो मध्यप्रदेश अभियान के बारे में जानकारी दी। कार्यक्रम के प्रारंभ में नगर निगम आयुक्त आरपी अहिरवार ने ठोस अपशिष्ट ईकाई के बारे में विस्तार से बताया।

Updated : 2020-08-23T07:04:57+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top