Home > राज्य > मध्यप्रदेश > अन्य > कमलनाथ ने सीएम और सिंधिया पर कसा तंज कहा - ना मैं मामा, ना मैं महाराजा ...

कमलनाथ ने सीएम और सिंधिया पर कसा तंज कहा - ना मैं मामा, ना मैं महाराजा ...

कमलनाथ ने सीएम और सिंधिया पर कसा तंज कहा - ना मैं मामा, ना मैं महाराजा ...
X

अशोकनगर। प्रदेश में होने वाले विधानसभा उपचनाव का समय नजदीक आने के साथ ही प्रचार तेज होता जा रहा है। भाजपा और कांग्रेस दोनों दलों के नेता सभी सीटों पर जीत के लिए पूरजोर कोशिश करते नजर आ रहे है। चुनाव प्रचार ने जुटे पूर्व सीएम कमलनाथ ने आज अशोकनगर का दौरा किया। उन्होंने राजपुर में एक जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया पर निशाना साधते हुए कई तंज कसे।

मैं कोई महाराजा या मामा नहीं -

उन्होंने कहा मैं कोई महाराजा नहीं, मेरा कोई गुलाम नहीं, मैं मामा भी नहीं, मैं अपनी जेब में नारियल लेकर भी नहीं चलता, मैं घोषणा भी नहीं करता, मैं झूठ भी नहीं बोलता, मैंने कभी चाय भी नहीं बेची, मैं तो सिर्फ कमलनाथ हूं। मैंने कुत्ते की समाधि भी नहीं बनाई, मैंने तो मध्यप्रदेश की धर्म प्रेमी जनता के लिए छिंदवाड़ा में विशाल हनुमान मंदिर बनवाया है। कमलनाथ ने कहा कि यह साधारण उपचुनाव नहीं है। जनता को सोचना होगा कि आज उपचुनावों की आवश्यकता क्यों पड़ी? भाजपा ने किस प्रकार से हमारे प्रजातंत्र और संविधान के साथ खिलवाड़ किया। किस प्रकार से एक सौदेबाजी और बोली की सरकार बनाई, भाजपा ने इस प्रजातंत्र को धन तंत्र बना दिया। भाजपा का बस चलेगा तो सरपंच का चुनाव भी नहीं होगा, बोली लगाओ और सरपंच बनाओ, आज यह तस्वीर हमारे सामने हैं।

15 माह का हिसाब देने को तैयार

कमलनाथ ने कहा कि हमने शिवराज सरकार में देखा था कि " प्रदेश में स्कूल बिना शिक्षक के, अस्पताल बिना डॉक्टर के, डॉक्टर बिना दवाई के, खंभा बिना तार का, तार बिना बिजली के, किसान बिना दाम के, नौजवान बिना काम के इसीलिए तो जनता ने फैसला लिया था कि फिर शिवराज जी आप किस काम के और इनको घर बैठा दिया था "। उन्होंने कहा कि ये लोग कितने बड़े बड़े और झूठे दावे करते हैं। ना यहां कन्या महाविद्यालय, ना कृषि कालेज ना यूनिवर्सिटी, ना तहसील बनवा पाये , कितना यह क्षेत्र उपेक्षित रहा। मैं शिवराज जी को कई बार चुनौती दे चुका हूँ कि अपने 15 वर्ष का हिसाब लेकर जनता के सामने आ जाए, मैं अपने 15 माह का हिसाब देने को तैयार हूं।



Updated : 2021-10-12T16:52:45+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top