Home > राज्य > मध्यप्रदेश > अन्य > AIMIM के टिकट पर हिन्दू महिला बनी पार्षद, खरगोन के हिंसा वाले क्षेत्र में जीती अरुणा उपाध्याय

AIMIM के टिकट पर हिन्दू महिला बनी पार्षद, खरगोन के हिंसा वाले क्षेत्र में जीती अरुणा उपाध्याय

AIMIM के टिकट पर हिन्दू महिला बनी पार्षद, खरगोन के हिंसा वाले क्षेत्र में जीती अरुणा उपाध्याय
X

खरगौन। प्रदेश में हुए निकाय चुनाव के जरिए असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM ने पार्षदों की जीत के साथ जमीन बनाना शुरू कर दी है। बुधवार को आए चुनाव परिणाम में खरगोन नगरपालिका में ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के 3 पार्षद चुनाव जीत गए है। जिसके बाद राज्य में पार्षदों की संख्या 7 हो गई है। इन पार्षदों में सबसे ज्यादा चर्चा वार्ड नंबर 2 से एआईएमआईएम की हिन्दू प्रत्याशी अरुणा बाई उपाध्याय की जीत हो रही है।

एआईएमआईएम द्वारा हिन्दू प्रत्याशी को टिकट दिया जाना और मुस्लिम बहुल क्षेत्र से जितने के कई मायने निकाले जा रहे है। उन्होंने भाजपा प्रत्याशी सुनीता देवी को 31 मतों से हराया. वार्ड नंबर 15 से एआईएमआईएम प्रत्याशी शकील खान ने निर्दलीय प्रत्याशी आसिफ खान को 662 मतों से पराजित किया. वार्ड नंबर 27 से एआईएमआईएम प्रत्याशी शबनम अदीब ने निर्दलीय प्रत्याशी शकीला खान को 774 मतों से हराया।

अरुणा उपाध्याय ने जीत के बाद कहा की ये भाईचारे और वार्ड के मतदाताओं की जीत है।ओवैसी संविधान और देश में कानून और समानता की बात करते हैं. उनकी इसी बात से प्रभावित होकर मैंने इस पार्टी से पार्षद का चुनाव लड़ना ठीक समझा। मेरे लिए मुद्दा जनता की सेवा करना रहा है इसीलिए मैं AIMIM पार्टी में आई हूं। मैं हिंदू और मुसलमान इन सब चीजों को नहीं मानती हूं, क्योंकि सभी इंसान हैं। सब एक होकर रहें, वही अच्छा है। वहीँ ओवैसी ने ट्वीट कर उपाध्याय को बधाई देते हुए लिखा कि अरुणा जी का हम शुक्रिया अदा करते हैं। उनकी जीत ने सही मायनों में खरगोन में सेक्युलरिज़्म और हिन्दू-मुस्लिम इत्तेहाद की मिसाल क़ायम की है।

Updated : 2022-08-15T22:14:12+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top