Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > अन्य > डाक घर में जमा किए थे 50 हजार, रह गए 20 हजार

डाक घर में जमा किए थे 50 हजार, रह गए 20 हजार

शहर के प्रधान डाकघर में वित्तीय अनियमितता का मामला सामने आया है।

डाक घर में जमा किए थे 50 हजार, रह गए 20 हजार

बेटी की शादी के लिए जमा की थी, राशि भटक रही विधवा महिला

गुना । शहर के प्रधान डाकघर में वित्तीय अनियमितता का मामला सामने आया है। जिसमें एक विधवा महिला ने 3 साल पहले 50 हजार रुपए डाक घर में जमा कराए थे, जो ब्याज लगकर बढऩे के बजाए घटकर 20 हजार रह गए है। महिला का कहना है कि उसने अपने पति की मौत के बाद यह रुपए अपनी बेटी की शादी के लिए जमा किए थे। महिला लगातार डाक घर के चक्कर काट रही है, किन्तु उसे कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिल रहा है।

महिला ने मचाया हंगामा

बुधवार को फिर डाक घर पहुंची महिला को जांच की बात कहकर अधिकारियों ने टरकाने का प्रयास किया। इस पर महिला भड़क गई और उसने प्रबंधन पर धोखाधड़ी का आरोप मढ़ दिया। महिला का कहना है कि उस ऐसे ही चक्कर कटवाए जा रहे है। सबसे बड़ा सवाल महिला के सामने यह है कि उसने यह पैसे अपनी बेटी की शादी के लिए जमा किए थे, अब उसकी बेटी की शादी कैसे होगी?

३ साल पहले जमा की थी रशि

ईदगाहबाड़ी निवासी कल्लो बाई ने बताया कि पति की मौत के बाद 3 साल पहले उसने डाक घर में 50 हजार की राशि जमा की थी। महिला का कहना है कि गत दिवस डाकघर में ब्याज की एंट्री कराने पहुंची तो यहां उनके खाते में कोई रकम ही जमा नहीं थी। बाद में उससे जांच के नाम पर डाक कर्मचारियों ने पासबुक ले ली और अगले दिन 16 अप्रैल 2015 के नाम से 20 हजार की एंट्री चढ़ाकर कुल रकम 22483 रुपए दर्शा दी गई। जबकि हाथ से की गई एट्री में 15 अप्रैल 2015 को 20 हजार रुपए जमा है।

हम पासबुक के अलावा तीन साल पूर्व जमा किए गए बाउचर की भी जांच कर रहे हैं। संबंधित काउंटर पर बैठे कर्मचारी के बयान लिए गए हैं। इसके अलावा यूसीआर खाते की भी जांच की जा रही है कि कहीं वह राशि उसमें तो नहीं पहुंच गई।

बीएस तोमर

डाक अधीक्षक गुना


Updated : 2018-06-21T20:28:15+05:30

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top