Home > राज्य > मध्यप्रदेश > अन्य > पूर्व सांसद स्व. नंदकुमार के सपनों को साकार करेगी सरकार : मुख्यमंत्री

पूर्व सांसद स्व. नंदकुमार के सपनों को साकार करेगी सरकार : मुख्यमंत्री

बुरहानपुर में पौने दो सौ करोड़ रुपये के विकास कार्यों का लोकार्पण एवं भूमि-पूजन

पूर्व सांसद स्व. नंदकुमार के सपनों को साकार करेगी सरकार : मुख्यमंत्री
X

बुरहानपुर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पूर्व सांसद स्व. नंदकुमार सिंह चौहान के अधूरे सपनों को साकार करने में प्रदेश सरकार कोई कसर नहीं छोड़ेगी। बुरहानपुर जिले के विकास के लिए उनके योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि बिना नंदू भैया के बुरहानपुर जिले के विकास की कल्पना भी नहीं की जा सकती। उक्त बातें मुख्यमंत्री चौहान ने शनिवार को बुरहानपुर के परमानंदजी गोविंदजीवाला ऑडिटोरियम में विकास कार्यों के लोकार्पण एवं भूमि-पूजन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही।


मुख्यमंत्री चौहान ने लगभग पौने दो सौ करोड़ रूपये के विकास कार्यों का भूमि-पूजन और लोकार्पण किया। इनमें 106 करोड़ रूपये के विकास कार्यों का लोकार्पण और 67 करोड़ रूपये की लागत के विकास कार्यों का भूमि-पूजन शामिल है। कार्यक्रम का शुभारंभ राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं पूर्व प्रधानमंत्री स्व.अटल बिहारी वाजपेयी के चित्र पर माल्यार्पण और दीप जला कर किया गया। मुख्यमंत्री चौहान ने कन्या-पूजन भी किया।

हर घर में नल से जल -


मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि जल जीवन मिशन के तहत नागरिकों को उनके घर तक पाईप लाईन और नल के माध्यम से पर्याप्त पानी उपलब्ध कराना है। उन्होंने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि बुरहानपुर में आगामी 25 सितम्बर तक हर घर में नल से शुद्ध पानी पहुँचाना सुनिश्चित करें।

हितग्राहियों से की चर्चा -


मुख्यमंत्री चौहान ने कोरोना की तीसरी संभावित लहर की तैयारियों के संबंध में जिला प्रशासन द्वारा तैयार कार्य-योजना पुस्तिका और बुरहानपुर जिले के आत्म-निर्भर रोडमेप-2023 संबंधी पुस्तिका का विमोचन भी किया। मुख्यमंत्री चौहान ने 5 चिकित्सक का कोरोना योद्धा के रूप में सम्मान किया और शासकीय योजनाओं के हितग्राहियों से वर्चुअली चर्चा की।

बुरहानपुर जिला प्रशासन की सराहना -

मुख्यमंत्री चौहान ने बुरहानपुर जिला प्रशासन द्वारा कोरोना की रोकथाम के लिए किये गये कार्यों की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सीमा पर स्थित होने के बावजूद इस जिले में कोरोना को प्रभावी ढंग से नियंत्रित किया गया है। पिछले 33 दिनों से बुरहानपुर जिले में एक भी कोरोना का पॉजिटिव केस नहीं आया है। इसके बावजूद भी कोरोना से बचाव के लिए मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग की आदत को छोड़ना नहीं है। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि कोविड संक्रमण की रोकथाम के संबंध में बुरहानपुर मॉडल की देश भर में प्रशंसा हो रही है।

Updated : 2021-10-12T15:44:06+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top