Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > अन्य > अवैध निर्माण से लग रहा टेकरी सरकार के सौन्दर्य पर ग्रहण, बड़े पैमाने पर हो रहा अतिक्रमण

अवैध निर्माण से लग रहा टेकरी सरकार के सौन्दर्य पर ग्रहण, बड़े पैमाने पर हो रहा अतिक्रमण

शहर में खाली पड़ी हुई बेशकीमती जमीनों पर भूमाफियाओं की गिद्ध दृष्टि लगी हुई है।

अवैध निर्माण से लग रहा टेकरी सरकार के सौन्दर्य पर ग्रहण, बड़े पैमाने पर हो रहा अतिक्रमण

जमीनों पर लगी हुई है भूमाफिया की गिद्ध दृष्टि अब टेकरी के आसपास कब्जे की होने लगी तैयारी

नपाध्यक्ष ने किया आमजन से आग्रह : बिना जानकारी न खरीदें टेकरी के आसपास प्लॉट

गुना। शहर में खाली पड़ी हुई बेशकीमती जमीनों पर भूमाफियाओं की गिद्ध दृष्टि लगी हुई है। जहां जमीन खाली दिखी वहां निर्माण कर कब्जे की तैयारी होने लगती है। पहले एक प्लॉट काटा जाता है, फिर दूसरा और फिर धीरे-धीरे एक पूरी कॉलोनी बस जाती है। इस बीच जिम्मेदार आँखें मूंदे रहते है। भूमाफियाओं की कारगुजारियों एवं जिम्मेदारों की अनदेखी का ही यह नतीजा है कि आज शहर में 350 से 400 कॉलोनियों का निर्माण हो चुका है और इनमें से एक भी कॉलोनी वैध नहीं है, यानि पूरे का पूरा शहर अवैध है। बावजूद इसके न तो भूमाफिया मानने को राजी है और नाहीं जिम्मेदारों की नींद टूट रही है। नतीजा जमीनों पर कब्जे कर प्लॉट काटकर बेचने का सिलसिला बदस्तूर बना हुआ है। इसी तारतम्य में प्रसिद्ध सिद्ध स्थल हनुमान टेकरी के आसपास भी अतिक्रमण होने लगा है, जो धीरे-धीरे बढ़ता चला जा रहा है। इस अतिक्रमण से टेकरी सरकार के सौन्दर्य को गृहण लग रहा है। नपाध्यक्ष राजेन्द्र सलूजा ने आमजन से आग्रह किया है कि वह टेकरी सरकार मंदिर के आसपास बिना जानकारी के प्लॉट न खरीदें।

टेकरी मार्ग के साथ मंदिर के नीचे हो रहे अवैध निर्माण

प्रसिद्ध सिद्ध स्थल हनुमान टेकरी के आसपास बड़े पैमाने पर अतिक्रमण कर निर्माण किया जा रहा है। करोड़ों की इस जमीन पर प्लॉट काटकर बेचे जा रहे है। टेकरी मार्ग के साथ ही मंदिर के नीचे भी कब्जे हो रहे है। कब्जे की यह कोशिश पिछले लंबे समय से हो रही है और इस रोकने की कोई कोशिश नहीं की जा रही है। स्थिति इस हद तक खराब है कि कुछ जगह प्लॉट काटकर बेचे भी जा चुके है, इसके साथ ही लोगों ने धीरे-धीरे अपने पक्के निर्माण भी शुरु कर दिए है। लोगों का मानना है कि जमीन पर कब्जे की इन कोशिशों पर जल्द ही लगाम नहीं लगाई जाती है तो यहां पूरी तरह क्रांकीट का जंगल बस जाएगा।

बारिश में लुभाता है टेकरी सरकार मंदिर का सौन्दर्य

हनुमान टेकरी मंदिर श्रद्धालुओं की विशेष आस्था का कैन्द्र है। ऊँची पहाडिय़ों पर विराजे भगवान हनुमान जी की प्रतिमा के दर्शन मन को आनंदित करते है, वहीं मंदिर के नीचे हरियालीदार वातावरण है। वैसे तो पूरे समय यहां का वातावरण आकर्षित करता है, किन्तु बारिश के मौसम में प्राकृतिक सौन्दर्य यहां आमंत्रित करता प्रतीत होता है। इस सौन्दर्य को अवैध निर्माण से गृहण लग रहा है। इसके साथ ही मंदिर के नीचे विशाल मैदान है। प्रतिदिन बड़ी संख्या में श्रद्धालु मंदिर पर टेकरी सरकार के दर्शनार्थ पहुँचते है, वहीं हर साल हनुमान जयंती पर यहां मेले का आयोजन किया जाता है, इस दौरान लाखों की संख्या में श्रद्धालु टेकरी सरकार के दर्शन के लिए पहुंचते है, इनमें जिले के साथ ही आसपास के जिले के श्रद्धालु भी शामिल रहते है। ऐसे में यह खाली मैदान काफी सुविधाजनक रहता है। यहंा क्रांकीट का जंगल बसने एवं मार्ग पर निर्माण होने से टेकरी सरकार की राह जहां मुश्किल होगी, वहीं मेले के लिए भी जगह नहीं बचेगी।

जहां देखो तहां कट रहीं कॉलोनियां

उल्लेखनीय है कि एक तरह शासन, प्रशासन अवैध कॉलोनियों को वैध करने की प्रक्रिया अमल में ला रहा है तो दूसरी तरफ शहर में जहां देखों जहां कॉलोनियां कट रहीं है। भगत सिंह कॉलोनी, टेकरी रोड पर कटती कॉलोनी, लूशन बगीचे के पीछे, बूढ़े बालाजी के पास, पुरानी छावनी, वंदना स्कूल के पीछे सहित कई स्थानों पर खेती की जमीन पर धड़ाधड़ प्लॅाट काटकर बेचे जा रहे है। यहां मोटा मुनाफा तो पहले की तरह की कॉलोनीनाईजर सूत रहे है और बाद में नियमितिकरण सहित विकास का व्यय शासन को वहन करना होगा। इसके साथ ही जिन कॉलोनियों में लोगों ने प्लॉट खरीदकर अपना सपनों का आशियाना बनाया है, वहां सालों बाद भी लोग सुविधाओं को तरस रहे है।


Updated : 2018-06-30T18:58:55+05:30

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top