Home > राज्य > मध्यप्रदेश > अन्य > उचित बिजली व्यवस्था न होने से स्कूल की पेयजल व्यवस्था ठप

उचित बिजली व्यवस्था न होने से स्कूल की पेयजल व्यवस्था ठप

गौशाला में भी नही हो पा रही जल व्यवस्था

उचित बिजली व्यवस्था न होने से स्कूल की पेयजल व्यवस्था ठप
X

श्योपुर। श्योपुर जिले की तहसील विजयपुर मुख्यालय से करीब 25 किलोमीटर दूर स्तिथि अगरा ग्राम पंचायत मे बने शासकीय हाई स्कूल पर बिजली की उचित व्यवस्था न होने के कारण बच्चे पानी के लिए तरस रहे है एवम टंकी में रखा पुराना पानी पीने पर मजबूर हो गये है। बिजली न पहुँच पाने से पानी की मोटर चालू नही हो पाती जिस कारण बच्चे पेयजल के लिए परेशान रहते है।


शा. हाई स्कूल वही स्कूल है जिसने स्वछता एवं सौंदर्य के लिए जिले मे अपना नाम कमा चुका है तात्कालिक कलेक्टर के द्वारा स्कूल को पुरुष्कृत भी किया गया है ।लेकिन उसी स्कूल में बिजली समय पर न मिलने के कारण बच्चों को पानी के लिए भटकना पड़ रहा है साथ ही स्कूल मे बना बगीचा भी आज सूखने की कगार पर पहुँच गया है, एक ओर बच्चों पर परीक्षाओं का प्रेसर साथ ही दूसरी ओर पानी की समस्या होने से बच्चे दूर दूर से पानी पीने के लिए लाते है ।हाई स्कूल के प्राचार्य के द्वारा कई बार बिजली विभाग के कर्मचारियो से कई बार बिजली को सुचारू रूप से चालू करने के लिए कहा भी गया लेकिन किसी ने भी नही सुनी ।अभी कुछ समय पहले ही बिजली की केवल को दूसरे खम्बे से जोड़ा गया लेकिन बोल्टेज कम मिलने के कारण पानी की मोटर नही चल पाती, आखिर समस्या वही सामने आकर खड़ी होती है। यही नही अगरा गौशाला की लाइट भी उसी डीपी से है लाइट का वोल्टेज कम होने से गौशाला में भी पेयजल संकट गहराया हुआ है।

इनका कहना है

मैं कई बसर मौखिक रूप से बिजली विभाग को इस विषय पर अवगत करा चुका हूं। स्कूल के कम्प्यूटर भी कई बार हैंग हो जाते हैं सारे कार्य ठप्प हो रहे हैं।

बलबीर सिंह जादौन, प्राचार्य शा हाई स्कूल अगरा

स्टूडेंट क्या कहता है

बिजली ना होने से स्कूल की पानी की मोटर नहीं चल पाती है जिससे टंकी में भरा हुआ दो से तीन दिन का पानी हमें पीना पड़ता है। दो से तीन दिन का ठंडा पानी पीने से हमारी तबीयत भी खराब होने की संभावना है।

अजय धाकड़, छात्र कक्षा 9

क्या कहते हैं साहब -

आपके द्वारा मुझे सूचित किया गया है मैं बिजली विभाग से इस विषय पर बात करता हूं उन्हें आदेशित करता हूं।

एसडीएम नीरज शर्मा विजयपुर

Updated : 2021-12-11T11:42:03+05:30

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top