Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > इंदौर > वकील की कार से उज्जैन पहुंचा था विकास गुप्ता !

वकील की कार से उज्जैन पहुंचा था विकास गुप्ता !

वकील की कार से उज्जैन पहुंचा था विकास गुप्ता !

इंदौर/उज्जैन कानपुर के बिकरु गांव में 8 पुलिसवालों की हत्या करने वाला 5 लाख का इनामी गैंगस्टर विकास दुबे गुरुवार को उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस का मानना है की विकास ने इसी कार में बैठकर यूपी से उज्जैन तक का सफर पूरा किया है। इस कार पर हाईकोर्ट लिखा हुआ है और यह कार लखनऊ के किसी वकील मनोज यादव के नाम से रजिस्टर्ड है।इस कार का नंबर UP32KS1104 है। पुलिस ने कार को जब्त कर लिया है। पुलिस विकास दुबे के इस कर से जुड़े कनेक्शन की जाँच कर रही है।

सुबह विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने उज्जैन में तलाशी अभियान चलाया। इस तलाशी अभियान के दौरान पुलिस को मिली। जिस पर लखनऊ का नंबर और हाई कोर्ट लिखा हुआ है , पुलिस गाड़ी को जब्त कर थाने ले आई है। जिसके बाद दो लोग इस गाडी को ढूंढते हुए थाने पहुंचे। दोनों ने इस कार को अपना बताया और कहा कि वो उज्जैन घूमने आए है। पुलिस दोनों वकीलों से पूछताछ कर रही है। इस बीच लखनऊ से मनोज यादव की पत्नी का एक बयान सामने आया है। जिसमें उसने विकास दुबे के संपर्क में होने के आरोप को सिरे से खारिज कर दिया है। वकील की पत्नी का कहना है की उसका और उसके परिवार का विकास दुबे के परिवार से किसी प्रकार का रिश्ता नहीं है।

पुलिस को शक है की विकास इसी कार से उप्र से उज्जैन तक आया है। इस कार पर हाईकोर्ट लिखें होने की वजह से ही शायद उसे किसी भी बॉर्डर पार करने में कोई दिक्कत नहीं हुई। अब सच्चाई क्या है,ये तो जांच के बाद ही सामने आएगा। बता दें की आकानपुर एनकाउंटर में आठ पुलिस कर्मियों की मौत के जिम्मेदार कुख्यात विकास दुबे को एमपी पुलिस ने उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार किया है। मंदिर प्रांगण में पहुंचे एक शख्स ने मंदिर के अंदर घुसने के बाद चिल्ला चिल्लाकर खुद को विकास दुबे बताया तो वहां हड़कंप मच गया। मंदिर के गेट पर खड़े गार्ड ने फौरन पुलिस को इसकी सूचना दी जिसके बाद उसे हिरासत में लिया गया है।

Updated : 2020-07-20T06:59:52+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top