Latest News
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > इंदौर > अग्निपथ योजना के विरोध में इंदौर में उपद्रव, पथराव में एसआई घायल, पुलिस ने छोड़े आंसू गैस के गोले

अग्निपथ योजना के विरोध में इंदौर में उपद्रव, पथराव में एसआई घायल, पुलिस ने छोड़े आंसू गैस के गोले

अग्निपथ योजना के विरोध में इंदौर में उपद्रव, पथराव में एसआई घायल, पुलिस ने छोड़े आंसू गैस के गोले
X

इंदौर। केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना का देश के कई राज्यों में जमकर विरोध हो रहा है। मध्य प्रदेश में सेना भर्ती की तैयारी कर रहे युवा इस योजना का विरोध कर रहे हैं। गुरुवार को ग्वालियर में जमकर उत्पात मचाया गया है। इसके बाद शुक्रवार को इंदौर में भी युवाओं ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया। शहर के भागीरथपुरा और लक्ष्मीबाई नगर रेलवे स्टेशनों पर सुबह 7 बजे सेना भर्ती की तैयारी में जुटे युवा पहुंच गए और हंगामा शुरू कर दिया। रेलवे स्टेशन पर करीब 300 प्रदर्शनकारी छात्रों ने जमकर उत्पात मचाया। उन्होंने इस दौरान एक ट्रेन भी रोकी और उसे भी नुकसान पहुंचाया। मौके पर बड़ी संख्या में अनेक थानों का फ़ोर्स भेजा गया। उपद्रव कर रहे छात्रों ने पुलिस के साथ ही ट्रेन पर भारी पथराव किया। बलवाकारियों ने कई गाड़ियां भी फोड़ दी। पथराव के दौरान बाणगंगा थाने के एसआई स्वराज डाबी का कान फट गया। जवाब में आरपीएफ जवानों ने भी पथराव किया और पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े।

योजना का विरोध करने के लिए छात्र इकट्ठा होकर लक्ष्मीबाई नगर स्टेशन पहुंच गए। यहां उन्होंने जाम लगा दिया, जहां पुलिस के वाहन रवाना किए। उन्होंने पुणे से इंदौर आने वाली ट्रेन भी रोक दी। दो ट्रेनों को निरस्त किया गया है। युवक सुबह पहुंचे तो पुलिस ने आगे जाने से रोका था। इस दौरान वह हंगामा मचाने लगे। कुछ देर बाद यहां भारी फोर्स तैनात किया गया। पुलिसकर्मियों ने हल्का बल प्रयोग किया। यहां मौके पर आसपास के थानों का बल भी लगाया गया है। रद्द दोनों ट्रेनों को कुछ समय बाद निकाला जाएगा।

लक्ष्मीबाई नगर रेलवे स्टेशन पर युवकों ने इंदौर ट्रेन को करीब सवा घंटा रोका। तोड़फोड़ करने की कोशिश की। जीआरपी के जवानों ने उन्हें समझाने की कोशिश की। एसीपी राजेश हिंगणकर ने बताया कि 20-22 उपद्रवियों को हिरासत में लिया गया है। ये संभवत: उज्जैन-शाजापुर के हैं। रेलवे स्टेशन के अंदर और बाहर भारी पुलिस बल तैनात है। उन्होंने कहा कि ट्रेन को नुकसान नहीं पहुंचाया गया है। युवकों ने पूरी कोशिश की थी, लेकिन पुलिस ने बल प्रयोग कर उन्हें रोक दिया। इंदौर रेलवे प्रबंधन के अनुसार चार ट्रेन प्रभावित हुई हैं। वाराणसी-इंदौर महाकाल एक्सप्रेस और दौंड-इंदौर 30 से 45 मिनिट देरी से आईं। रतलाम-महू और महू-इंदौर मेमू ट्रेन को रद्द किया गया है।

पुलिस के अनुसार भारी संख्या में छात्र भगीरथपुरा रेलवे क्रासिंग पर पहुंच गए थे। इन छात्रों की योजना ट्रेन को इसी ट्रैक पर रोकने की थी। जैसे ही पुलिस को इस बात की सूचना मिली वह तुरंत ही मौके पर पहुंची। भारी संख्या में आस-पास के थानों का पुलिस बल घटना स्थल पर पहुंचाया गया। जैसे ही प्रदर्शनकारियों ने पुलिस को देखा, उन्होंने ट्रैक पर से पत्थर उठाए और पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। पथराव के दौरान वहां से गुजर रही कुछ गाड़ियों को भी नुकसान पहुंचा। पत्थरबाजी में ट्रेन के कांच फूट गए। कुछ यात्रियों को भी चोट लगी है। पथराव के बाद पुलिसकर्मियों ने बल प्रयोग कर इन प्रदर्शनकारियों को ट्रैक पर से खदेड़ दिया। इस दौरान कुछ पुलिसकर्मियों को भी चोटें लगीं हैं।

लक्ष्मीबाई नगर रेलवे स्टेशन पर इंदौर से डोंडा ट्रेन को प्रदर्शनकारियों ने रोक लिया। इस पर भी उपद्रवियों ने पथराव किया। इससे ट्रेन को नुकसान पहुंचा है। पुलिस ने बलप्रयोग कर प्रदर्शनकारियों को स्टेशन से खदेड़ दिया। रेलवे स्टेशन से खदेड़े गए प्रदर्शनकारी पूरे शहर में तितर-बितर हो गए। पुलिस ने पूरे शहर में प्रदर्शनकारियों की तलाश शुरू कर दी। इंदौर में अग्निपथ भर्ती योजना के तहत उपद्रव होने के बाद इंदौर पुलिस और इंदौर प्रशासन ने पूरे शहर में अलर्ट जारी कर दिया है। खास तौर पर पूरे शहर और देश में रेलवे स्टेशन पर हो रहे प्रदर्शन के बाद अब डा आंबेडकर नगर, मांगलिया, शिप्रा, राऊ, राजेंद्र नगर के रेलवे स्टेशनों पर अलर्ट जारी किया है। इन सभी जगहों पर पुलिसकर्मियों को भेजा गया है।

Updated : 2022-06-18T17:49:02+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top