Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > इंदौर > बेटियों से नफरत करते हैं कांग्रेस नेता जीतू पटवारी !

बेटियों से नफरत करते हैं कांग्रेस नेता जीतू पटवारी !

बेटियों से नफरत करते हैं कांग्रेस नेता जीतू पटवारी !

इंदौर/भोपाल। सियासत की लड़ाई में दूसरों पर आरोप लगाते-लगाते अक्सर नेता खुद ही आरोपों के घेरे में आ जाते है। इंदौर से पूर्व मंत्री और राऊ विधायक जीतू पटवारी भाजपा पर आरोप लगाने के चक्कर में बुरे फंस गए है। एक ट्वीट के बाद से वह नारी शक्ति के अपमान के आरोपों से घिरे हुए है। आरोपों से घिरने के बाद अब पटवारी अपने इस ट्वीट पर सफाई देने में जुटे हैं। वही उनके समर्थक भी उनका बचाव करते नजर आ रहें है।

जीतू पटवारी ने किया ट्वीट -

दरअसल, कल पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने एक ट्वीट किया था। जिसमें उन्होंने लिखा था पुत्र के चक्कर में पांच पुत्री पैदा हो गई। 1 नोटबंदी, 2़ जीएसटी, 3़ महंगाई, 4़ बेरोजगारी और 5. मंदी।' ट्वीटर पर इस बात के लिखते ही ट्रोलर्स ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया। उन्हें बेटी विरोधी विरोधी बताया गया। ट्वीटर पर उनके फॉलोवर्स सहित कई यूजर्स ने पटवारी के इस ट्वीट को नारी शक्ति का अपमान बताया। लोगों ने पटवारी से यहाँ तक पूछ लिया की, क्या बेटियों का पैदा होना कोई खराब बात है? क्या आपको बेटियां पसंद नहीं ? क्या बेटियों से नफरत करते हैं ? इस तरह के सवालों से परेशान विधायक जीतू पटवारी ने ट्वीट को डिलीट कर दिया।



इसके बाद अपनी ओर से सफाई पेश करते हुए बेटियों को देवी तुल्य बताने लगे। उन्होंने दो घंटे बाद दूसरे ट्वीट में लिखा की "जहां तक बात बेटियों की है तो वो देवीतुल्य हैं।

डिलीट किया ट्वीट

इस ट्वीट के बाद भी विरोध नहीं थमा। लोगों द्वारा लगातार आलोचना करते देख विधायक पटवारी ने एक और ट्वीट किया। जिसमें उन्होंने लिखा "मोदी जी ने नोटबंदी, जीएसटी, महंगाई, बेरोज़गारी और मंदी से देश की अर्थव्यवस्था की कमर तोड़ दी..! जनता यह सब केवल "विकास" की उम्मीद में सहन करती रही। उपरोक्त आशय के साथ किये गये मेरे ट्वीट से यदि किसी की भावनायें आहत हुई हैं तो मैं खेद व्यक्त करता हूँ। " पटवारी द्वारा इस तरह माफ़ी मांगने के बाद उनके खिलाफ जारी विरोध ट्विटर पर थोड़ा थम गया।


सीएम चौहान ने दी प्रतिक्रिया -

जीतू पटवारी के ट्वीट के बाद मुख्यमंत्री शिवारज सिंह ने ट्वीट कर कहा- "पार्टी के एक घटिया नेता ने कांग्रेस की विकृत मानसिकता को अपने ट्वीट में प्रदर्शित किया है। आज पूरा देश जब वीरांगना रानी दुर्गावती का बलिदान दिवस मना रहा हैं, ऐसे में यह ट्वीट करना कि एक पुत्र के चक्कर में 5 पुत्रियां पैदा हो गईं। क्या बेटियों का पैदा होना अपराध है। क्या बेटियों को अपमानित करने का काम सोनिया गांधी ने इस नेता को दिया है। क्या कांग्रेस की इसी विकृत मानसिकता की बलि नैना साहनी, सरला मिश्रा, प्रीति मिश्रा जैसी अनेक बेटियां चढ़ा दी गईं?धिक्कार है कांग्रेस की ऐसी निकृष्टम विचारधारा पर!

इसके बाद सीएम चौहान ने एक बयान देते हुए कहा मैडम सोनिया यह वही नेता है जो आपके बेटे को मोटरसाइकिल पर घुमाता है। यह वही नेता है जो कहता है पार्टी गई तेल लेने। अब आपकी पार्टी तेल लेने जाए, इससे हमें कोई आपत्ति नहीं है लेकिन बेटियों को अपमानित करने का हक आपको किसने दिया। इस घटिया कृत्य के लिए इस नेता को पार्टी से बाहर करो और मैडम सोनिया गांधी देश से माफी मांगो।'





Updated : 2020-06-27T11:47:52+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top