Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > इंदौर > कमलनाथ ने कर्जमाफी के झूठे सर्टिफिकेट बंटवाए और बैंकों में पैसे मैंने भरे : मुख्यमंत्री

कमलनाथ ने कर्जमाफी के झूठे सर्टिफिकेट बंटवाए और बैंकों में पैसे मैंने भरे : मुख्यमंत्री

सांवेर विधानसभा में भाजपा कार्यकर्ताओं को जीत का दिलाया संकल्प

कमलनाथ ने कर्जमाफी के झूठे सर्टिफिकेट बंटवाए और बैंकों में पैसे मैंने भरे : मुख्यमंत्री
X

सांवेर। भाजपा आगामी उपचुनाव के लिए सभी सीटों पर तैयारियों में जुटी हुई है।इसी क्रम में इंदौर जिले की हॉट सीट मानी जा रही सांवेर सीट पर प्रचार करने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह इंदौर आये। बायपास स्थित गार्डन में सीएम ने कार्यकर्ताओं को जीत का मंत्र दिया। उन्होंने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा भाजपा हमारी मां है और इसके दूध की लाज रखना है।कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा एक तरफ कांग्रेस की सरकार थी जब तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ पैसे न होने का रोना रोते रहते थे। हमारी सरकार ने छह महीने में गरीब जनता में इतने लाभ बाँट दिए हैं कि लोग हिसाब करते-करते ही थक जाते हैं!

उन्होंने पिछली कमलनाथ सरकार पर निशाना साधते हुए कहा की उन्होंने जब किसानो की फसल खराब हुई तो मुआवजा नहीं दिया। वे कहते थे पैसा नहीं है, सब मामा लूट कर ले गया। मैं पूछता हूँ,ऐसा कौनसा औरंगजेब का खजाना था जो मामा लूट कर ले गया। हमेशा पैसों की कमी को लेकर रोते रहते थे।उन्होंने कहा की सीएम ऐसा होना चाहिए जो पैसा नहीं है तो उसका रास्ता निकाले, हाँ परेशानी है हमने रास्ता निकाला। हमने सरकार बनने के 6 माह के भीतर ही करीब 21 हजार 640 करोड़ रुपए किसानों के दिए।

खोदा पहाड़ निकली चुहिया

मुख्यमंत्री ने किसान कर्जमाफी पर कहा की कमलनाथ कहते है सब किसानों का कर्जा माफ़ कर दिया। जब देखा तो पता चला की खोदा पहाड़ निकली चुहिया वो भी मरी हुई। कमलनाथ ने कर्जमाफी के झूठे सर्टिफिकेट बंटवाए और बैंकों में पैसे मैंने भरे।झूठ क्यों बोल रहे हो। किसानों को साफ बता दो सच क्या है। दिग्विजय सिंह और कमलनाथ ने मिलकर वल्ल्भ भवन को दलाली का अड्डा बन दिया था। इसलिए ज्योतिरादित्य और तुलसी सिलावट ने मिलकर सड़क पर ला दिया। कांग्रेस की सरकार गिराने के विषय में हमने नहीं सोचा था। ये निर्णय सिंधिया और तुलसी सिलावट ने किया।

ये चुनाव सभी कार्यकर्ताओं का है

कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा भाजपा हमारी माँ है, हमें इसके दूध की लाज रखना है।उन्होंने कहा ये चुनाव ना तुलसी सिलावट का है और नाही कमल के फूल का। ये चुनाव सिर्फ शिवराज सिंह को मुख्यमंत्री बनाए रखने का चुनाव है। ये चुनाव सभी कार्यकर्ताओं का है। शिवराज ने भाजपा कार्यकर्ताओं से कहा मेरे कार्यकर्ता भाइयों-बहनों, मेरे साथ आज आप संकल्प लीजिए कि 3 नवंबर तक के लिए समर्पित भाव से कार्य करेंगे और इस उपचुनाव में पार्टी को विजयी बनाकर ही चैन की सांस लेंगे।

Updated : 8 Oct 2020 12:51 PM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top