Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > ग्वालियर में 02 और कोरोना संक्रमितों की मौत, देर रात परिजनों का हंगामा

ग्वालियर में 02 और कोरोना संक्रमितों की मौत, देर रात परिजनों का हंगामा

ग्वालियर में 02 और कोरोना संक्रमितों की मौत, देर रात परिजनों का हंगामा
X

ग्वालियर, न.सं.। जिले में कोरोना संक्रमण की रफ्तार थमने का नाम नहीं ले रही है। इस बीच गुरुवार को संक्रमित मरीजों की संख्या 162 पहुंच गई है। इस तरह ग्वालियर में संक्रमितों का आंकडा 1569 पहुंच गया है। इस बीच आज और दो संक्रमितों की मौत हुई है। जिले में कोरोना से मरने वालों की संख्या नौ हो गई है। मरने वालों में एक ग्वालियर व एक झांसी निवासी है। इसमें एक किडनी की बीमारी से पीडि़त था। जबकि मरने वाली वृद्धा झांसी की निवासी है।

परिजनों ने जयारोग्य में किया हंगामा

शिंदे की छावनी निवासी 35 वर्षीय सुनील कुशवाह लम्बे समय से किडनी की बीमारी से परेशान थे। जिनका नवजीवन अस्पताल में इलाज चल रहा था। इसी बीच उन्हें कोरोना का संक्रमण भी हो गया। उपचार के दौरान ही नवजीवन अस्पताल प्रबंधन ने सुनील कुशवाह का कोरोना टेस्ट कराया जिसमे वह संक्रमित निकले। इनकी कोरोना रिपोर्ट आने के बाद नवजीवन अस्पताल के डॉक्टर एवं स्टाफ ने मरीज सुनील कुशवाह से दूरी बना ली और बिना उपचार के ही एक दिन बर्वाद कर दिया। तबियत बिगड़ने पर परिजनों ने उन्हें 15 जुलाई को जयारोग्य स्थित सुपर स्पेशिलिटी ब्लॉक में भर्ती कराया। जहां उनकी स्थिति में कोई सुधार नहीं हुआ और गुरूवार की रात करीब 10 बजे उनकी मौत हो गई। संक्रमित की मौत की सूचना चिकित्सकों ने प्रशासन को दी और शव को सुरक्षित रखवाया। इस बीच सुनील कुशवाह के परिजनों को खबर लगते ही सभी इकठ्ठा होकर सुपर स्पेशलिटी ब्लॉक पहुँच गए जहाँ जमकर हंगामा किया। अस्पताल प्रशासन ने घटना की जानकारी कम्पू पुलिस थाने को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने परिजनों को शांत कराया।

रमा गुप्ता को सीवियर निमोनिया के साथ डायबिटीज थी

इसी तरह झांसी निवासी 60 वर्षीय रमा गुप्ता को सांस लेने में परेशानी हो रही थी। इस पर परिजनों ने उन्हें जयारोग्य में भर्ती कराया गया। जहां 14 जुलाई की रिपोर्ट में उन्हें कोरोना निकला। इसके बाद रमा गुप्ता को सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में भर्ती कर दिया गया। रमा गुप्ता को सीवियर निमोनिया के साथ डायबिटीज थी जिसके चलते उनकी हालत काफी खराब हो गई थी और उन्हें वेंटीलेटर पर रखना पड़ा था। कोविड -19 प्रोटोकॉल के अनुसार रमा देवी के परिजनों की मौजूदगी में लक्ष्मीगंज के विद्युत शवदाह गृह में उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया। इसके अलावा जयारोग्य के ही आईसोंलेशन में भर्ती एक संक्रमित की मौत भी हो गई है। जिसकी रिपोर्ट आना बाकी है।

Updated : 2020-07-17T02:07:33+05:30
Tags:    

Swadesh News

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top