Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > हत्या लूट और नकबजनी करने वाला अंतर्राज्यीय गिरोह दबोचा, घटनाओं के बारे में पूछताछ

हत्या लूट और नकबजनी करने वाला अंतर्राज्यीय गिरोह दबोचा, घटनाओं के बारे में पूछताछ

हत्या लूट और नकबजनी करने वाला अंतर्राज्यीय गिरोह दबोचा, घटनाओं के बारे में पूछताछ
X

ग्वालियर, न.सं.। मुरार थाना पुलिस ने एक अंतर्राज्यीय गिरोह को पकडऩे में सफलता अर्जित की है। गिरोह ने शहर में हत्या, लूट और नकबजनी की घटनाओं को अंजाम दिया है। सोमवार को बदमाश युवक की मारपीट कर मोटर साईकिल लूटकर भोपाल भाग गए थे। पुलिस बदमाशों से अन्य घटनाओं के बारे में पूछताछ कर रही है।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने बताया कि सोमवार को मुरार वंशीपुरा में युवक के साथ मारपीट कर चार बदमाशों ने उसकी मोटर साइकिल लूट ली थी। घटना के बाद से ही पुलिस बदमाशों की तलाश में जुटी हुई थी। मुरार थाना प्रभारी शैलेन्द्र भार्गव को बदमाशों के भोपाल भागने की जानकारी मिली थी। तत्काल मुरार थाने की टीम को भोपाल भेजा गया। पुलिस ने थाना छोला मंदिर के भागनुपर 80 फुटा रोड पर दबिश देकर चारों बदमाशों को पकड़ लिया। पकड़े गए अजय उर्फ चपटा पुत्र मदनलाल बाल्मीक उम्र 28 वर्ष निवासी बंंगाली कॉलोनी तिकोनिया मुरार, गोलू उर्फ राजेश 32 वर्ष, छोटू उर्फ योगेश 26 वर्ष व मोनू उम्र 27 वर्ष पुत्रगण रामौतार जाटव 26 वर्ष निवासी फूटी कॉलोनी हुरावली हैं। पुलिस चारों बदमाशों को पकडक़र शहर ले आई और उनके कब्जे से लूटी गई पल्सर मोटर साइकिल बरामद की। अजय बाल्मीक और छोटू जाटव 6 अगस्त को ग्वालियर थाने में राकेश लोधी की हत्या कर दी थी। इसके अलावा मुरार में मण्णापुरम गोल्ड बैंक में नकबजनी के अलावा हजीरा में दो, गोले का मंदिर में नकबजनी और लूट की घटना करना स्वीकार किया है। गिरोह मध्यप्रदेश के विभिन्न जिलों के अलावा महाराष्ट्र के नागपुर गोदिंया आदि प्रदेशों में संगीन घटनाओं को अंजाम दे चुके हैं। नगर पुलिस अधीक्षक मुरार ऋषिकेश मीणा ने बताया कि गिरोह से अन्य घटनाओं के बारे में रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है।

अजय का अपराधिक रिकार्ड

वर्ष 2019 में छिंदबाड़ा में 14 नकबजनी, थाटीपुर मयूर मार्केट में इन्द्रेश जैन की आभूषण की दुकान में सेंधमारी, ग्वालियर थाने में राकेश लोधी की हत्या अजय ने छोटू जाटव के साथ मिलकर की थी। गिरोह पर वंशीपुरा में लूट व मण्णापुरम बैंक में चोरी के अलावा 40 अपराधिक रिकार्छ पंजीबद्ध हैं।

हत्या करने के बाद कर रहे थे घटनाएं

राकेश लोधी की हत्या के बाद अजय बाल्मीक व छोटू खुलेआम घूमते हुए लगातार लूट नकजबनी व मारपीट की घटनाओं को अंजाम दे रहे थे। वंशीपुरा में मारपीट व लूट के बाद पुलिस सक्रिय हो गई और बदमाशों के पीछे लगने पर सफलता मिली। एसएसपी अमित सांघी ने दस हजार रुपए नगद देने की घोषणा की है।

भोपाल में 24 घंटे में 12 चोरियां

सोमवार को लूटपाट करने के बाद बदमाश भोपाल भाग गए। यहां पर 24 घंटे के भीतर ही अजय व उसके साथियों ने एक दर्जन घर व दुकानों के ताले चटका दिए। कहीं से नगदी तो कहीं से घी चोरी कर लिया। जो भी हाथ में आया लगातार चोरी करते गए।

Updated : 23 Sep 2022 7:02 AM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top