Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > ग्वालियर दक्षिण विधानसभा से रश्मि पंवार शर्मा होंगी कांग्रेस प्रत्याशी !

ग्वालियर दक्षिण विधानसभा से रश्मि पंवार शर्मा होंगी कांग्रेस प्रत्याशी !

भाजपा की एक बड़ी नेत्री कांग्रेस के संपर्क में, टिकट मिला तो छोड़ सकती हैं पार्टी

ग्वालियर दक्षिण विधानसभा से रश्मि पंवार शर्मा होंगी कांग्रेस प्रत्याशी !
X

ग्वालियर/स्वदेश वेब डेस्क। आपसी सामंजस्य के अभाव के चलते कांग्रेस ने लम्बे इंतजार के बाद शनिवार रात अपनी पहली सूची जारी कर दी है। इस सूची में 155 उम्मीदवारों के नाम हैं । कांग्रेस ने ग्वालियर जिले की छह सीटों में से पांच सीटों पर नाम तय कर लिए है। जिसमें भितरवार से लाखन सिंह, डबरा से इमरती देवी, ग्वालियर पूर्व से मुन्नालाल गोयल, ग्वालियर से प्रद्युम्न सिंह तोमर, ग्वालियर ग्रामीण से मदन सिंह कुशवाह के नाम है।

ग्वालियर सीट पर राहुल गांधी द्वारा तय किया गया क्राईटेरिया प्रद्युम्न के नाम में आड़े आ रहा था तो सुनील शर्मा के नाम की चर्चा होने लगी थी। लेकिन प्रद्युम्न का ही टिकट तय हुआ है।

उधर ग्वालियर दक्षिण विधानसभा सीट पर भारी कशमकश के बाद रश्मि पंवार शर्मा का नाम फायनल माना जा रहा है। सूत्र बताते हैं कि रश्मि की पैरवी अहमद पटेल और वर्षा गायकवाड़ सहित कई अन्य वरिष्ठ नेताओं ने की है। यहाँ से पहले किशन मुदगल का नाम तय माना जा रहा था लेकिन उनके नाम पर सहमति नहीं बन पाई। हालाँकि रश्मि का नाम तय होने की जानकारी बाहर आते ही आरटीआई एक्टिविस्ट आशीष चतुर्वेदी ने ट्विट कर सवाल खड़े कर दिए। आशीष ने अपने ट्विटर हेंडल पर लिखा कि व्यापम घोटाले के आरोपी अमरीश शर्मा की बहू का टिकट लगभग तय। अब आशीष के ट्विट के बाद मामले में नया पेंच आ गया है।

भाजपा की तरह वो भी जोड़तोड़ में लगी है और उसने आज सीएम शिवराज के साले को पार्टी में शामिल कर प्रेमचंद गुड्डू को शामिल करने का जवाब दे दिया। उधर ग्वालियर में भी कुछ उठापटक के संकेत मिल रहे हैं । शहर में नेताओं, खासकर कांग्रेस नेताओं के बीच एक चर्चा जोरों से वायरल हो रही है वो ये कि भाजपा की एक बड़ी नेत्री कांग्रेस के बड़े नेताओं के संपर्क में है। और यदि उन्हें पार्टी ग्वालियर दक्षिण से टिकट देती है तो वे भाजपा को छोड़कर कांग्रेस ज्वाइन कर लेंगी। और यदि ऐसा हुआ तो रश्मि का टिकट खटाई में पड़ जायेगा इसके अलावा सवाल ये भी पैदा होता है कि क्या भाजपा से आई नेत्री के लिए कांग्रेस कार्यकर्ता काम करेगा ?

बहरहाल अभी तो दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया ही एक दूसरे के साथ शह और मात का खेल खेल रहे हैं ये भाजपा को कैसे टक्कर दे पाएंगे कहना मुश्किल है।

Updated : 2018-11-05T01:59:28+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top