Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > राजमाता सिंधिया को पुण्यतिथि पर भजनांजलि के साथ किया याद

राजमाता सिंधिया को पुण्यतिथि पर भजनांजलि के साथ किया याद

ज्योत से ज्योत जलाते चलो, प्रेम की गंगा बहाते चलो

राजमाता सिंधिया को पुण्यतिथि पर भजनांजलि के साथ किया याद
X

ग्वालियर। राजमाता विजयाराजे सिंधिया की 102वीं जयंती पर मंगलवार को अम्मा महाराज की छत्री पर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित करने ग्वालियर-चंबल संभाग से अनेक लोग पहुंचे। इस मौके पर भजन गायकों ने भजनांजलि के माध्यम से श्रद्धासुमन अर्पित किए। कार्यक्रम में केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया सपरिवार मौजूद रहे। उनकी ओर से पहली बार राजमाता जी की जयंती पर बड़ा आयोजन किया गया।


संगीतमय भजनांजलि में भजन गायिका सिन्नी कालविंट ने 'ज्योत से ज्योत जलाते चलोÓ प्रेम की गंगा बहाते चलो, राह में आए जो दीन दुखी सबको गले लगाते चलो... गाकर सबको मंत्रमुग्ध कर दिया। राजेंद्र पारिख ने 'जन्म सफल होगा रे बंदे मन में राम बसाले बोलो राम जय जय रामÓ गाया। वहीं पूर्वी टोणपे ने गणेश वंदना के अलावा हंस अकेला उड़ जाएगा जग में प्रस्तुत किया।

प्रियदर्शनी राजे का हाथ पकड़कर चले सिंधिया


महाआर्यमन अपनी दादी माधवी राजे और श्री सिंधिया अपनी धर्मपत्नी प्रियदर्शिनी राजे को हाथ पकड़कर साथ लाए। प्रियदर्शनी राजे के दाएं पैर में चोट के कारण वह लडख़ड़ा कर चल रही थीं। इसलिए श्री सिंधिया ने उन्हें सहारा देते हुए समाधि तक ले गए। बाद में कार तक भी इसी तरह ले गए।

सड़क पर लगी प्रदर्शनी

राजमाता सिंधिया की जयंती पर कटोराताल मार्ग के सामने की पट्टी पर उनसे संबंधित ऐतिहासिक चित्रों की प्रदर्शनी लगाई गई थी। वहीं समूचे क्षेत्र में सिंधिया समर्थकों ने होर्डिंग बैनर लगा रखे थे। कार्यक्रम के कारण दोनों ओर के मार्ग परिवर्तित कर दिए गए।

इन्होंने अर्पित किए श्रद्धा सुमन

सांसद विवेक शेजवलकर, संध्या राय, प्रदेश के गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र, प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट, डॉ. प्रभुराम चौधरी, प्रद्युम्न सिंह तोमर, बृजेन्द्र यादव, सुरेश राठखेड़ा व ओपीएस भदौरिया, पूर्व मंत्री अनूप मिश्रा, श्रीमती माया सिंह, ध्यानेन्द्र सिंह रूस्तम सिंह, लालसिंह आर्य, इमरती देवी, डॉ. भागीरथ प्रसाद, अशोक अर्गल, पूर्व विधायकगण रमेश अग्रवाल, रामवरन सिंह गुर्जर, मदन कुशवाह, मुन्नालाल गोयल, भाजपा अध्यक्ष कमल माखीजानी, कौशल शर्मा, वेदप्रकाश शर्मा, सुरेंद्र शर्मा, अशोक शर्मा, पीताम्बर प्रताप सिंह, किशन मुद्गल, सुधीर गुप्ता, आशीष प्रताप सिंह राठौर, सुरेंद्र परमार चच्चू, संजय परमार, समीक्षा गुप्ता, सुमन शर्मा, मोहन सिंह राठौर, श्रीकृष्ण दास गर्ग, प्रशांत मेहता, अशोक गोयल, मोहन सिंह राठौर, गुड्डू वारसी, गौरव भोंसले, प्रमोद पांडे, बृजेंद्र सिंह जादौन, राजू कुकरेजा, अभय चौधरी, देवेंद्र सिंह तोमर, नरेंद्र कुशवाह, महेंद्र यादव, जयप्रकाश राजौरिया, डॉ. एएस भल्ला, कमलेश कौरव, रुचिका श्रीवास्तव, प्रियंका गर्ग सहित अधिकारी व बड़ी संख्या में राजनेता व नागरिकगण मौजूद रहे।

धर्म गुरुओं का सम्मान, प्रसादी में मिले लड्ड

कार्यक्रम में श्री सिंधिया ने धर्मगुरूओं एवं भजन-कीर्तन की संगीतमय प्रस्तुति देने वाले कलाकरों को सम्मानित किया। साथ ही उन्होंने श्रद्धांजलि अर्पित करने पहुंचे प्रत्येक व्यक्ति से मुलाकात की। बाद में प्रसादी के रूप में बूंदी के लड्डुओं का वितरण किया गया।

करवा चौथ को मनेगी जयंती

प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष भी राजमाता विजयाराजे सिंधिया की जयंती करवाचौथ के दिन 24 अक्टूबर को मनाई जाएगी। इस मौके पर उनकी सुपुत्री प्रदेश की मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया विशेष रूप से मौजूद रहेंगी। कार्यक्रम में सुमधुर भजन संध्या के बीच गणमान्यजन पुष्पांजलि अर्पित करेंगे।

Updated : 12 Oct 2021 6:50 PM GMT
Tags:    

Swadesh News

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top