Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > आंध्र प्रदेश में व्यापक स्तर पर कनवर्जन

आंध्र प्रदेश में व्यापक स्तर पर कनवर्जन

ईसाई मिशनरियां कर रहीं धनबल का दुरूपयोग

आंध्र प्रदेश में व्यापक स्तर पर कनवर्जन
X

नई दिल्ली। ईसाई मिशनरियां अपने स्रोतों से पैसा जुटाकर देशभर में कनवर्जन को अंजाम दे रहीं हैं। वैसे तो कर्नवर्जन के मामले किसी भी राज्य में देखने में मिलते रहते हैं लेकिन आंध्र प्रदेश में इसे व्यापक स्तर पर अंजाम दिया जा रहा है। आंध्र प्रदेश की जगनमोहन रेड्डी सरकार में मंत्री रघु रामकृष्णा राजू ने खुद स्वीकार किया है कि प्रदेश में कनवर्जन की प्रक्रिया तेजी से चल रही है। एक चैनल पर बातचीत में राजू ने स्वीकार किया है कि ईसाई मिशनरियां कनवर्जन को व्यापक स्तर पर अंजाम दे रही हैं। मंत्री ने कहा कि यदि मिशनरी के लोग धर्मांतरण करवा रहे हैं, तो उसमें वो क्या कर सकतें हैं। इसमें सरकार का कोई हाथ नहीं है। इसके पीछे मिशनरियों के पास धनबल का होना है।

मंत्री रघु का बयान ऐसे समय आया है जब राज्य में कनवर्जन की प्रक्रिया तेजी से चल रही है। इस बीच वे कनवर्जन को उचित ठहराने से भी नहीं चूके, इसके पीछे उन्होंने दलील यह दी कि धर्मनिरपेक्ष राष्ट्र में ऐसा होना कोई अपराध नहीं है। लेकिन तब सवाल उठता है कि क्या पैसे के बल पर कनवर्जन उचित ठहराया जाना चाहिए? जबकि पैसे के बल पर कनवर्जन अपराध की श्रेणी में आता है।

सर्व इंडिया मिनिस्ट्री गैर सरकारी संस्था का खुलासा-

मंत्री रघु का बयान ऐसे समय आया है जब राज्य में कनवर्जन का मामला तेजी से चर्चा में आया है। अभी हाल ही में तमिननाडु के कोयंबटूर के एक ईसाई एनजीओ सर्व इंडिया मिनिस्ट्री पर अवैध धर्मांतरण, हिंदुओं के खलिाफ घृणात्मक बोल, जैसे आरोप लगे हैं। जिसका खुलासा लीगल राइट्स प्रोटेक्शन फोरम ने गृह मंत्रालय को पत्र लिखकर किया है। जिसमें एनजीओ प्रमुख इबेनेजर सैम्यूल के खिलाफ साम्प्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने का आरोप लगाया है। इसके अलावा इस एनजीओ पर बड़े स्तर पर धर्मांतरण, जादू टोने, प्रलोभन आदि उपाय करने का आरोप भी लगाया गया है।

Updated : 2020-05-28T16:53:42+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top