Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > कैदी को स्थानांतरित करने की सूचना लीक, पुलिस व रिश्तेदारों में झड़प

कैदी को स्थानांतरित करने की सूचना लीक, पुलिस व रिश्तेदारों में झड़प

कैदी को केन्द्रीय जेल से हमीरपुर स्थानांतरित करने से पहले पहुंचे रिश्तेदार

कैदी को स्थानांतरित करने की सूचना लीक, पुलिस व रिश्तेदारों में झड़प
X

ग्वालियर, न.सं.। केन्द्रीय जेल में सजा काट रहे कुख्यात बदमाश को दूसरे राज्य की जेल में स्थानांतरण कर पाते, इससे पहले उसके रिश्तेदार लग्जरी कार लेकर जेल के गेट पर पहुंच गए। जेल प्रशासन और पुलिस को रिश्तेदारों का पता चलते ेेेही उन्हें पकड़ लिया। पुलिस और रिश्तेदारों में झड़प हो गई। बाद में संदेहास्पद नहीं पाए जाने पर दोनों युवकों को जाने दिया। फिलहाल बदमाश को दूसरी जेल में भेजने की प्रक्रिया को रोक दिया गया है।

इन दिनों केन्द्रीय जेल में कुख्यात बदमाश सरदारसिंह सजा काट रहा है। गुरुवार की रात को सारदारसिंह को हमीरपुर बांदा उत्तरप्रदेश की जेल में स्थानांतरण किया जाना था। जेल में बदमाश की सुरक्षा के लिए सुरक्षाकर्मी भी पहुंंच गए और तकरीबन रास्ते में कोई परेशानी न आए, सभी इंताजम कर लिए गए। रात आठ बजे के करीब केन्द्रीय जेल के द्वार के बाहर लग्जरी कार से सरदारसिंह के दो रिश्तेदार, जो दामाद बताए गए हैं वह पहुंच गए और बदमाश का इंतजार करने लगे। बदमाश के हमीरपुर जाने की सूचना लीक होने का पता चलने पर पुलिस सक्रिय हो गई और दोनों युवकों को पकड़ लिया। सूत्र बताते हैं कि पुलिस और युवकों में झड़प तक हो गई। पुलिस ने पूरी गाड़ी और युवकों की तलाशी ली। कोई हथियार और उनकी गतिविधि संदिग्ध नहीं पाए जाने पर युवकों को छोड़ दिया। जबकि सरदारसिंह को हमीरपुर भेजने की कार्रवाई को फिलहाल रोक दिया गया।

भीमा को छुड़ाकर ले गए थे परिजन

महाराजपुरा थाना क्षेत्र में आगरा से पेशी से लौटते समय बदमाश भीमा को उसके परिजन पुलिस पार्टी पर हमला कर छुड़ाकर ले गए थे। हमले में पुलिसकर्मी घायल हो गए थे और उनकी सरकारी इंसाफ रायफल तक लूटकर ले गए थे। हालांकि बाद में बदमाशों को पकड़ लिया था।

इनका कहना है

जेल से बदमाश के उत्तरप्रदेश ले जाने की सूचना लीक हो जाने पर उसके रिश्तेदार जेल के बाहर कार से आ गए थे। उनकी गतिविधि संदेहास्पद नहीं पाए जाने पर उन्हें छोड़ दिया।

-नागेन्द्रसिंह

नगर पुलिस अधीक्षक ग्वालियर

बदमाश सरदारसिंह के जेल से बाहर जाने से पहले खबर कैसे और किसने लीक की इसकी जांच की जा रही है। भेदिए का पता लगाने का पूरा प्रयास करेंगे।

-मनोज साहू

अधीक्षक, केन्द्रीय कारावास ग्वालियर

Updated : 2020-06-24T14:35:00+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top