Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > मंगला एक्सप्रेस से जाने थे 47 यात्री, डर के कारण गए सिर्फ 35

मंगला एक्सप्रेस से जाने थे 47 यात्री, डर के कारण गए सिर्फ 35

मंगला एक्सप्रेस से जाने थे 47 यात्री, डर के कारण गए सिर्फ 35
X


ग्वालियर, न.सं.। स्पेशल ट्रेनों में यात्रियों की आवाजाही नौवें दिन तक कम रही। ट्रेनों से बेहद कम यात्री यात्रा कर रहे हैं। हालांकि दूसरे शहरों से आने वाले यात्रियों की संख्या तीन गुना है, जिनमें अधिकांश लॉकडाउन में फंसे लोग रहते हैं। अभी तक रेलवे स्टेशन से पांच हजार से ज्यादा यात्री अलग-अलग ट्रेनों से रवाना हो चुके हैं। जबकि उतरने वाले यात्रियों की संख्या दस हजार से ज्यादा हैं। कोरोना महामारी के डर के चलते एक जून से चलाई गईं स्पेशल ट्रेनों में बहुत कम संख्या में यात्री यात्रा कर रहे हैं। इनमें ग्वालियर होकर अप और डाउन की 14 ट्रेनें निकल रहीं हैं। अभी भी इन ट्रेनों में सिर्फ जरूरतमंद लोग ही टिकट बनवा रहे हैं।

मंगलवार को एर्नाकुलम से निजामुद्दीन की ओर जाने वाली मंगला एक्सप्रेस से 47 यात्रियों ने टिकट बुक कराए थे। लेकिन कोरोना के कारण सिर्फ 35 यात्री ही इस ट्रेन में सवार हुए। इनमें अधिकांश वे लोग शामिल हैं जो लॉकडाउन में किसी न किसी वजह से फंस गए हैं या किसी के नजदीक के नाते रिश्तेदार का दूसरे शहर में निधन हो गया है। दूसरे शहर में पढ़ाई कर रहे बच्चों को लेने जाना है। दूसरा यह कारण भी है कि ट्रेनों में सिर्फ कंफर्म टिकट वाले यात्री ही यात्रा कर पा रहे हैं।

दूरदराज के लोग सबसे ज्यादा परेशान

रेलवे स्टेशन के अंदर ट्रेन आने के एक घंटे पहले ही प्रवेश मिलने से दूरदराज से आ रहे यात्री परेशान हो रहे हैं। यात्रियों को डेढ़ घंटे पहले बुलाया जाता है, जिसके बाद उनकी थर्मल स्क्रीनिंग होती है। इसके बाद ही उनको अंदर प्रवेश दिया जाता है। वहीं दूरदराज क्षेत्रों से आने वाले यात्री घंटों पहले ही स्टेशन पर आ जाते हैं। ऐसे मेें उनको रेलवे परिसर में वक्त गुजारना परेशानी बना हुआ है।

तत्काल के लिए 24 घंटे पहले आना होगा स्टेशन

स्पेशल ट्रेनों में तत्काल कोटे की सुविधा नहीं है, लेकिन 29 जून से तत्काल कोटे की सुविधा शुरू होने वाली है। इस बार तत्काल कोटे के लिए नियमों में बदलाव किया गया है। स्टेशनों के बुकिंग काउंटरों पर टोकन सिस्टम के साथ बुकिंग होगी। श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के बाद रेलवे ने 200 स्पेशल ट्रेनों का संचालन शुरू किया है। इन ट्रेनों में यात्रा करने वाले यात्रियों को तत्काल कोटे की सुविधा नहीं दी गई है। 29 जून से ट्रेनों का आवागमन सामान्य होने की उम्मीद की जा रही है। रेलवे में तत्काल कोटे के लिए 29 जून को प्रस्तावित किया है। इस दफा तत्काल कोटा लेने के लिए आवेदक को पहले की तरह ही 24 घंटे पहले आना होगा। यात्री को अपने मोबाइल का नंबर ही फॉर्म में लिखना होगा।

Updated : 2020-06-14T07:08:00+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top