Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > ट्रेनों से आने-जाने वाले यात्रियों की संख्या बढ़ी, आरपीएफ ने संभाला मोर्चा

ट्रेनों से आने-जाने वाले यात्रियों की संख्या बढ़ी, आरपीएफ ने संभाला मोर्चा

भोपाल, झांसी, आगरा, मथुरा के लिए नहीं मिल रहे टिकट

ट्रेनों से आने-जाने वाले यात्रियों की संख्या बढ़ी, आरपीएफ ने संभाला मोर्चा

ग्वालियर, न.सं.। रक्षाबंधन पर शहर से बाहर जाने वाली महिलाओं का सफर आसान नहीं होगा। रेलवे ने दिन में ग्वालियर से गुजरने वाली ज्यादातर ट्रेन रद्द कर रखी है। शाम से रात तक लगभग 6 एक्सप्रेस ट्रेनें हैं। जबकि शाम को ज्यादातर महिलाओं का घर लौटने का समय है। ऐसे में उन्हें केवल बस का ही सहारा बचा है। कोरोना संक्रमण के चलते ज्यादातर महिलाओं को राखियों को पोस्ट कर दिया है। शनिवार को ग्वालियर से झांसी, भोपाल जाने वाली ट्रेनों में कोरोना को देखते हुए भी भीड़ दिखी। पिछले दो दिनों में यात्रियों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। दो दिन पहले तक जहां एक हजार यात्रियों को आवागमन था, वहीं शनिवार को तीन हजार यात्रियों को आवागमन हुआ है। यात्रियों की भीड़ को देखते हुए आरपीएफ ने सभी जवानों को सतर्क कर दिया है। साथ ही थर्मल स्क्रीनिंग पर तैनात कर्मचारियों को ठीक से स्क्रीनिंग करने के निर्देश आरपीएफ निरीक्षक आनंद स्वरूप पांडे ने दिए हैं।

यहां बता दें कि रक्षाबंधन तीन अगस्त को है। केवल 14 ट्रेनें गुजर रही हैं जो ज्यादातर रात में है। सभी ट्रेनों में आरक्षण फुल हो चुके हैं। भोपाल, झांसी, आगरा और मथुरा जने वाली ट्रेनों में यात्रियों को आरक्षण नहीं मिल रहा है। सामाजिक दूरी के चलते रेलवे ने वेटिंग टिकट के यात्रियों पर ट्रेन में यात्रा करने पर रोक लगा दी है।

Updated : 2 Aug 2020 1:00 AM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top