Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > जनसमस्याओं का अंबार, चुनावी आहट, दावेदारों को आने लगी जनता की सुध

जनसमस्याओं का अंबार, चुनावी आहट, दावेदारों को आने लगी जनता की सुध

वार्ड 21 में मूलभूत समस्याओं के लिए पड़ता है भटकना, स्वच्छ अभियान को स्थानीय लोग दिखाते हैं ठेंगा

जनसमस्याओं का अंबार, चुनावी आहट, दावेदारों को आने लगी जनता की सुध
X

ग्वालियर, न.सं.। जगह-जगह गंदगी के ढेर और तंग गलियों में उफनते सीवर से फैलत पानी की समस्या वार्ड की पहचान बन गई हैं। नालों में पसरी गंदगी बरसात में सडक़ पर फैलने का इंतजार कर रही है। चुनावी आहट शुरु होते ही अब दावेदार जनता के बीच पहुंचना शुरु हो गए हैं।

वार्ड 21 में कुछ क्षेत्र को छोडक़र पूरे वार्ड में लोगों को अक्सर जनसस्मयाओं के लिए अपनू पूर्व पार्षद जनप्रतिनिधी और क्षेत्रीय कार्यालय पर चक्कर लगाने पड़ते हैं। नारायण विहार, शांति नगर, दुल्लपुर, मेला परिसर की दीवार किनारे बड़े बड़े गंदगी ढेर आसानी से देखे जा सकते हैं। गोला का मंदिर के पास बनी बस्तियों में नागरिकों की समस्या है कि उनके यहां पर प्रत्येक दिन साफ कर्मचारी ही नहीं आता है तो वहीं दुल्लपुर के कुशवाह और माहौर मौहल्ले में नालियां उफनती रहती हैं। कचरा गाड़ी भी यहां पर रोज नहीं आती है। खम्बों पर आज भी यहां पर पुरानी हेलोजन लाइट देखी जा सकती है। जो अब लम्बे समय से बंद पड़ी है। नगर निगम के विद्युत विभाग में शिकायत के बाद भी लाइटों का सुधारा नहीं जा रहा है जो नई लाइट लगी हैं वह भी बेकार हो चुकी हैं। भीषण गर्मी में पेयजल संकट से जूझना से पड़ रहा है। वार्ड में कुछ बोर सूख चुके हैं और जो नए बोर हुए हैं उनका अभी तक कई घरों से कनेक्शन नहीं हो सका है। लम्बे समय से जनसमस्या से जूझ रहे लोगों के बीच अब पार्षद के दावेदर पहुंंचने लगे हैं और एक बार फिर उनको स्वच्छ और साफ वार्ड के सपने दिखाना शुरु कर दिए हैं।

एडीबी योजना के लाखों रुपए पानी में बहे

डेढ़ दशक पहले कृष्णा नगर में बनी पानी की टंकी से एडीबी योजना के तहत पानी की लाइन कृषि महाविद्यालय के पास तक डाली गई थी। इतने दिनों के बाद भी आज तक पानी की लाइन को जोड़ा नहीं गया। लाखों रुपए योजना के नाम पर बर्वाद हो गए।

व्हीव्हीआई मार्ग वार्ड की पहचान

जब भी शहर में अतिविशिष्ट अतिथि राष्ट्रपति या प्रधानमंत्री शहर में आते हैं तो उनको व्हीव्हीआईपी मार्ग बैंक कॉलोनी इन्द्रमणी नगर वाया मेला होते हुए सूर्य नमस्कार वाले मार्ग से निकाला जाता है।

विधायक निधी से बन रही हैं सडक़ें

वर्तमान में सूर्य नमस्कार चौराहा से लेकर बैंक कॉलोनी और पंचशील नगर व इन्द्रमणी नगर में विधाक निधी से सड़ेंक बनाई जा रही हैं। पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल ने भी वार्ड में विधायक निधी से कई कार्य कराए हैं।

युवाओं ने बनाया आदर्श पार्क

पंचशील नगर के युवा राघव पाठक, मनीष जोशी, अभिषेक जादौन,प्रमोद दिवाकर, हरि कृष्णा सहित अन्य युवाों ने जर्जर पड़े पार्क को आज श्रमदान करके आदर्श पार्क बनाया है। यहां पर सुबह शाम कॉलोनी के लोग बैठते हैं। एक सेल्फी पाइंट भी बनाया है। इसके अलावा पौधारोपण किया जिससे शुद्ध वायु लोगों को मिल रही है।

वर्षों से बंद पड़े नालों पर हो गए अतिक्रमण

पूर्व निर्दलीय पार्षद विशाल सिंह गुर्जर ने बताया कि वार्ड 21 में बहने नालों पर लोगों ने अतिक्रमण कर लिया साथ ही उनका निकासी के द्वार भी बंद कर दिए हैं। जेसीमिल से वृंदावन गार्डन, जेबी मंघाराम शांतिनगर से बहने वाला नाला भिंड रोड पर जाकर बंद हो गया है। तो वहीं दुल्लपुर सुरेश नगर से होते हुए मुरार मुक्तिधाम पुलिया के पास निकलने वाला नाला भी बंद पड़ा हुआ है। नालों का पानी सीवर लाइन में न जाकर खुले पड़े नालों में बह रहा है।

अमृत योजना से पानी व सीवर की लाइन का कराया निर्माण

कांग्रेस के पूर्व पार्षद और नेता प्रतिपक्ष चतुर्भुज धनौलिया का कहना है कि उनके पाषर्द के दौरान अमृत योजना के तहत पानी व सीवर लाइन डलवाई हैं। 25 नई बोरिंग भी करवाई हैं और 29 करोड़ के विकास कार्य आज वार्ड में दिखाई देते हैं। धनौलिया ने बताया कि उनके पास जो भी समस्या लेकर आता है वह उसका निराकरण करने का प्रयास करते हैं।

जनता को होना पड़ता है परेशान

इन्द्रमणी नगर में रहने वाले अविनाश शर्मा ने बताया कि वार्ड में गंदगी और सफाई की समस्या है। जो भी भविष्य में पाषर्द बने वह जनता की जनसमस्या का समाधान करें स्वयं का विकास नहीं। आज पार्षदों को क्षेत्र के विकास के लिए जो राशि मिलती है उसका सदुपयोग हो।

Updated : 29 May 2022 7:48 AM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top