Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > जिला अस्पताल में एक ही चिकित्सक मिला ड्यूटी पर

जिला अस्पताल में एक ही चिकित्सक मिला ड्यूटी पर

जिला अस्पताल में एक ही चिकित्सक मिला ड्यूटी पर
X

एसडीएम ने किया निरीक्षण, जगह-जगह मिली गंदगी

ग्वालियर/न.सं.। जिला अस्पताल के चिकित्सकों व कर्मचारियों की लेटलतीफी जिलाधीश के निर्देशों के बाद भी थमने का नाम नहीं ले रही है। अस्पताल में आए दिन मरीज चिकित्सक के इंतजार में घंटों परेशान होते रहते हैं। जिसका उदाहरण मंगलवार को देखने को मिला, जब एसडीएम ने अस्पताल का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान अस्पताल में सुबह 8 बजे तक सिर्फ आपातकालीन सेवा में एक ही चिकित्सक उपस्थित थे। जबकि अन्य सभी चिकित्सक अस्पताल में पहुंचे ही नहीं थे। इतना ही नहीं एसडीएम की सूचना मिलते ही चिकित्सक आनन-फानन में 8.30 बजे तक अस्पताल पहुंचे और बाद में फिर गायब हो गए। जिस कारण मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ा।


एसडीएम पुष्पा पुषाम बिना किसी को सूचना दिए मंगलवार की सुबह 8 बजे जिला अस्पताल जा पहुंची। जहां उन्होंने देखा कि अस्पताल में एक भी चिकित्सक मौजूद नहीं है और सिर्फ आपातकालीन सेवा में ही एक चिकित्सक बैठे हुए हैं। इसके साथ ही कई कर्मचारी भी अनुपस्थित मिले।

इतना ही नहीं एसडीएम 9 बजे तक अस्पताल में रूकी और सभी चिकित्सकों के आने का समय नोट किया। इसके बाद वह मेडिसिन वार्ड पहुंची, जहां उन्होंने देखा कि पलंग कम होने के कारण मरीज जमीन पर लेटे हुए हैं। वार्ड में साफ-सफाई ठीक नहीं थी। इतना ही नहीं हड्डी रोग में उन्होंने देखा कि मरीजों की हड्डी फिक्स करने के लिए पैरों में पत्थर डाला हुआ है। जबकि अस्पताल पैर पर वेट रखने के लिए उपकरण उपलब्ध हैं।

इस पर उन्होंने संबंधित चिकित्सक के प्रति नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि जब आपके पास उपकरण उपलब्ध हैं तो फिर पत्थर क्यों टांगे जा रहे हैं। पिछले निरीक्षण में अपने कहा था कि उपकरण लगाए जा रहे हैं। इधर एसडीएम के जाने के कुछ समय बाद ही हड्डी रोग विभाग की ओपीडी से सुबह 11 बजे चिकित्सक गायब हो गए और मरीजों की भीड़ लगी हुई थी। जिस कारण कई मरीज बिना उपचार के ही लौट गए। उल्लेखनीय है कि एसडीएम द्वारा गत दिवस 16 मार्च को भी अस्पताल का निरीक्षण किया गया था। उस समय भी चिकित्सक सहित कर्मचारी अनुपस्थित मिले थे। एसडीएम पुष्पा पुषाम का कहना है कि अस्पताल में कई चिकित्सक अनुपस्थित थे, साथ ही साफ-सफाई भी संतोषजन नहीं मिली। इसलिए निरीक्षण की रिपोर्ट जिलाधीश को सौंपी जाएगी।

Updated : 2019-03-27T01:09:06+05:30

Naveen

Swadesh Contributors help bring you the latest news and articles around you.


Next Story
Share it
Top