Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > संगठन को करेंगे मजबूत, उपचुनाव पहली चुनौती होगी - कमल माखीजानी

संगठन को करेंगे मजबूत, उपचुनाव पहली चुनौती होगी - कमल माखीजानी

कमल मखीजानी भाजपा महानगर और कौशल शर्मा बने ग्रामीण अध्यक्ष

संगठन को करेंगे मजबूत, उपचुनाव पहली चुनौती होगी - कमल माखीजानी
X

ग्वालियर, विशेष प्रतिनिधि। भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश के 24 नए जिला अध्यक्षों की नियुक्ति के आदेश जारी किए हैं। जिसमें ग्वालियर महानगर एवं ग्वालियर ग्रामीण भी प्रभावित हुए हैं। इसमें महानगर अध्यक्ष देवेश शर्मा एवं ग्रामीण अध्यक्ष वीरेंद्र जैन का स्थान क्रमशः कमल माखीजानी एवं कौशल शर्मा लेंगे। यहां बता दें कि स्वदेश ने पहले ही यह संभावना व्यक्त की थी कि ग्वालियर महानगर से किसी व्यापारी नेता और डबरा से ब्राह्मण नेता को अध्यक्ष बनाया जा सकता है।

भाजपा के प्रदेश कार्यालय मंत्री सत्येंद्र भूषण सिंह द्वारा देर रात जारी जिला अध्यक्षों की सूची में कमल मखीजानी को ग्वालियर महानगर अध्यक्ष एवं कौशल शर्मा को ग्रामीण अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। संगठन ने लंबे समय बाद व्यापारिक क्षेत्र से महानगर अध्यक्ष बनाया है। वहीं रिछारी ग्राम डबरा के श्री शर्मा को ग्रामीण अध्यक्ष बनाकर ब्राह्मणों मैं सामान्जस स्थापित करने की कोशिश की गई है। श्री माखीजानी को संघर्षशील एवं जुझारू नेता माना जाता रहा है। 1 जून 1965 को जन्मे श्री माखीजानी के राजनीतिक जीवन शुरू करने के बाद वर्ष 1998 में उन्हें भारतीय जनता युवा मोर्चा का मंत्री बनाया गया। इसके बाद वह वर्ष 2004 में भाजपा के जिला महामंत्री, वर्ष 2007 में जिला उपाध्यक्ष एवं विज्ञान महाविद्यालय स्वशासी समिति के अध्यक्ष रहे। वर्ष 2010 में उन्हें जिला प्रचार प्रमुख बनाया गया। उनकी कार्य कुशलता को देखते हुए वर्ष 2013 से लगातार दो बार महामंत्री बनाया जाता रहा। इसी के साथ सामाजिक एवं धार्मिक कार्यों में रुचि के कारण वे कई समाजसेवी एवं धार्मिक संस्थाओं से भी जुड़े हुए हैं। वहीं ग्रामीण अध्यक्ष बने श्री शर्मा भी जुझारू और संघर्षशील हैं। वह 8 वर्ष तक ग्रामीण मंडल अध्यक्ष रहने के बाद वर्ष 2004 में ग्रामीण अध्यक्ष रहे। वर्ष 2007 से 2014 तक लगातार 7 वर्ष तक केद्रीय नागरिक सहकारी बैंक के जिला अध्यक्ष रहे।

संगठन को देंगे मजबूतीः मखीजानी

नए जिलाध्यक्ष बने श्री माखीजानी ने स्वदेश से चर्चा करते हुए कहा कि वरिष्ठ नेतृत्व ने उन्हें जो जिम्मेदारी दी है, उस ्पर खरा उतरने का प्रयास करेंगे। साथ ही संगठन को मजबूत बनाने पर जोर रहेगा। उन्होंने कहा कि आने वाले उपचुनाव उनके लिए पहली चुनौती होगी, इसके लिए वे एक-एक कार्यकर्ता की मेहनत से यह चुनाव जीतेंगे।

Updated : 2020-05-10T10:25:41+05:30
Tags:    

Swadesh News

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top