Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > समय रहते मतदान केन्द्रों का करें निरीक्षण, लापरवाही पर होगी कार्रवाई

समय रहते मतदान केन्द्रों का करें निरीक्षण, लापरवाही पर होगी कार्रवाई

जिलाधीश ने नोडल अधिकारियों के साथ ली बैठक, दिए दिशा निर्देश

समय रहते मतदान केन्द्रों का करें निरीक्षण, लापरवाही पर होगी कार्रवाई
X

ग्वालियर, न.सं.। पंचायत व नगरीय निकायों के निर्वाचन की अधिसूचना जल्द ही जारी हो सकती है। इसलिए मतदान केन्द्रों का समय रहते निरीक्षण करें। निर्वाचन के संबंध में विभागीय अधिकारियों को जो भी जवाबदारी सौंपी जाए, उसका निर्वहन अधिकारी तत्परता से करें। निर्वाचन के कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। यह निर्देश प्रभारी जिलाधीश आशीष तिवारी ने सोमवार को आयोजित हुए बैठक में संबंधित अधिकारियों को दिए। उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि मतदान केन्द्रों पर साफ-सफाई, विद्युत व्यवस्था के साथ-साथ मतदान केन्द्र के बाहर मतदान केन्द्र अंकित करने का कार्य भी तत्परता से किया जाए। नोडल अधिकारी सभी मतदान केन्द्रों का भौतिक सत्यापन कर अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करें। जिलाधीश श्री तिवारी ने अधिकारियों से यह भी कहा कि चुनाव की अधिसूचना जारी होते ही आदर्श आचार संहिता भी लागू हो जाएगी। आदर्श आचार संहिता का पालन करना भी सभी की जिम्मेदारी है। उन्होंने बताया कि इस बार पंचायत चुनाव बैलेट पेपर से तथा नगरीय निकाय चुनाव इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन के माध्यम से सम्पन्न होंगे।

24 घंटे में उपलब्ध कराएं जानकारी

बैठक में सामने आया कि कुछ विभागों द्वारा अभी तक कार्यालयों में पदस्थ अधिकारियों व कर्मचारियों की जानकारी उपलब्ध नहीं कराई गई है। जिसको लेकर जिलाधीश श्री तिवारी ने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिन विभागों ने अब तक जानकारी प्रस्तुत नहीं की है वे 24 घंटे में अपने अधीनस्थ अमले की जानकारी प्रस्तुत करें। उन्होंने चेतावनी दी कि निर्वाचन कार्यालय द्वारा चाही गई जानकारी न उपलब्ध कराना गंभीर अनियमितता मानी जाएगी। ऐसे विभागीय अधिकारियों के विरूद्ध निर्वाचन की धाराओं के तहत दण्डात्मक कार्रवाई की जाएगी।

संवेदनशील मतदान केन्द्रों का करें भ्रमण: एडीएम

इधर एडीएम इच्छित गढ़पाले द्वारा राजस्व व पुलिस अधिकारियों के साथ एक बैठक बुलाई। बैठक में चुनाव शंतिपूर्ण ढग़ से कराने के लिए चर्चा की गई। इस दौरान एडीएम ने संवेदनशील एवं अति संवेदनशील मतदान केन्द्रों के निर्धारण के लिए राजस्व अधिकारी एवं पुलिस अधिकारी संयुक्त रूप से भ्रमण करने की बात कही। उन्होंने कहा कि भ्रमण के पश्चात निर्धारित अवधि में संवेदनशील एवं अति संवेदनशील मतदान केन्द्रों के निर्धारण के संबंध में अपनी रिपोर्ट भी प्रस्तुत करें। इसके अलावा आचार संहिता लागू होते ही संम्पत्ति विरूपण के तहत सख्त कार्रवाई करने के निर्देश भी दिए गए।

Updated : 2022-05-27T19:29:40+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top