Latest News
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > ग्वालियर स्टेशन के पुनर्विकास का रास्ता साफ, तीन फर्मो ने दिखाई रूचि

ग्वालियर स्टेशन के पुनर्विकास का रास्ता साफ, तीन फर्मो ने दिखाई रूचि

432 करोड़ से एयरपोर्ट जैसा बनेगा ग्वालियर स्टेशन

ग्वालियर स्टेशन के पुनर्विकास का रास्ता साफ, तीन फर्मो ने दिखाई रूचि
X

ग्वालियर,न.सं.। ग्वालियर के रेलवे स्टेशन को अब एयरपोर्ट की तर्ज पर विकसित करने का काम 432 करोड़ रुपये में होगा। इसके लिए मंगलवार को प्रयागराज में टेंडर भी खोल दिए गए है। इससे अब स्टेशन के पुनर्विकास का रास्ता साफ हो गया है। टेंडर प्रक्रिया में तीन बड़ी कंपनियों ने रुचि दिखाई है।

जिसमें केपीसी प्रोजेक्ट हैदराबाद, डीवी प्रोजेक्ट लिमिटेड कोरबा, यूआरसी कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड शामिल है। अब इन कंपनियों के दस्तावेजों की एक माह में जांच की निर्णय लिया जाएगा कि कौन सी कंपनी स्टेशन के पुनर्विकास का कार्य करेगी। पुनर्विकास की निगरानी के लिए सलाहकार कार्य पांच करोड़ 78 लाख 63 हजार 885 रुपये में कराया जाएगा।

ग्वालियर रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास की योजना वर्ष 2019 से चल रही है। इसके तहत वर्ष दिसंबर 2019 में आइआरएसडीसी ने रिक्वेस्ट फार कुटेशन जारी किया था। इसके तहत स्टेशन को पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) माडल पर विकसित किया जाना है। स्टेशन का पुनर्विकास करने वाली कंपनी को रेलवे द्वारा 9900 वर्गमीटर जमीन 99 वर्षों की लीज पर दी जाएगी, जिस पर वह व्यवसायिक व आवासीय निर्माण कर सकता है। इस स्टेशन की डिजाइन पूरी तरह से एयरपोर्ट सरीखी रखी गई थी, ताकि इसका दृश्य भव्य नजर आ सके और यात्रियों को भी बेहतर सुविधाएं मिल सकें, लेकिन वर्ष 2020 में कोरोना संक्रमण के लाकडाउन के चलते प्रोजेक्ट आगे नहीं बढ़ पाया था। इसी बीच 18 अक्टूबर 2021 को आइआरएसडीसी को बंद कर दिया गया और स्टेशनों के पुनर्विकास की जिम्मेदारी जोनल स्तर पर सौंप दी गई थी।

ये होंगे विशेष कार्य

वर्तमान स्टेशन की इमारत के ऊपर आकर्षक छत बनाई जाएगी, जिसमें एक पोर्च होगा। यहीं से प्लेटफार्म तक पहुंचने के लिए स्वचालित सीढिय़ां और लिफ्ट होगी। सर्कुलेटिंग एरिया में तीन लेन की सडक़ और पैदल चलने वालों के लिए फुटपाथ होगा। बस स्टैंड को स्टेशन से जोडऩे के लिए फुटओवर ब्रिज बनाने की भी योजना है। यहां यात्रियों को प्लेटफार्म पर ही खरीदारी की सुविधा भी मिल सकेगी, साथ ही रेस्टोरेंट तैयार करने की भी योजना है।

ऐतिहासिक लुक रहेगा बरकरार

भले ही रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास के लिए काम नया होगा, लेकिन इस दौरान स्टेशन के ऐतिहासिक लुक को बरकरार रखा जाएगा। इसके निर्देश केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया भी दे चुके हैं। इसे हेरिटेज लुक पर विकसित किया जाएगा। इसके अलावा प्लेटफार्म नंबर एक की तरफ तीन द्वार तैयार होंगे। इसमें पहला द्वार सर्कुलेटिंग एरिया में प्रवेश से पहले होगा। दूसरे और तीसरे द्वारों को भव्य रूप दिया जाएगा। स्टेशन पर ग्वालियर के हेरिटेज से संबंधित हर चीज होगी।

इनका कहना है

मुख्यालय में मंगलवार को टेंडर खोल दिए गए है, जिसमें तीन कंपनियों ने भाग लिया है। इससे ज्यादा हमारे पास जानकारी नही है।

मनोज कुमार सिंह

जनसंपर्क अधिकारी

झांसी मंडल

Updated : 6 July 2022 7:44 AM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top