Latest News
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > ग्वालियर में ईवीएम में कैद हुआ 823 प्रत्याशियों का भाग्य, 17 को होगा फैसला

ग्वालियर में ईवीएम में कैद हुआ 823 प्रत्याशियों का भाग्य, 17 को होगा फैसला

ग्वालियर में ईवीएम में कैद हुआ 823 प्रत्याशियों का भाग्य, 17 को होगा फैसला
X

ग्वालियर।शहर सरकार चुनने के लिए नगर निगम ग्वालियर के 10 लाख 68 हजार 267 मतदाताओं में 49.3 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का उपयोग किया है। खास बात यह है कि मतदान के पहले चार घंटों में लोग घर से कम ही निकले, लेकिन दोपहर 1.30 बजे के बाद मौसम में जब परिवर्तन हुआ तो मतदान ने थोड़ी रफ्तार पकड़ी। लेकिन कुल मतदान में महिलाओं से ज्यादा पुरूषों का प्रतिशत अधिक रहा।

मतदान सुबह सात बजे से शाम पांच बजे तक पूरे दस घंटे चला। नगर निगम के सभी 1169 मतदान केन्द्रों में डाले गए वोटों की वास्तविक जानकारी सभी पीठासीन अधिकारियों से मिलने के बाद मतदान प्रतिशत की सही-सही स्थिति सामने आएगी। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार हुए कुल मतदान में पुरूष मतदान का प्रतिशत 51.6 और महिला मतदान का प्रतिशत 46.6 रहा।

इसके अलावा जिले की बात करें तो प्रारंभिक जानकारी के अनुसार सायंकाल 5 बजे तक जिले के नगरीय निकायों में मतदान का औसत प्रतिशत लगभग 52.7 प्रतिशत रहा। इसमें 54.9 प्रतिशत पुरूष व 50.2 प्रतिशत पुरूषों ने अपने मतों का उपयोग किया। हालांकि प्रशासन का कहना है कि जिले के सभी नगरीय निकायों के समस्त मतदान केन्द्रों में डाले गए मतों की वास्तविक जानकारी मिलने के बाद मतदान प्रतिशत में कमी-बढ़ोत्तरी संभव है।

इस तरह रही मतदान की चाल

- सुबह 9 बजे कुल मतदान प्रतिशत 9.7 (पुरूष 11.8 व महिला 7.4 प्रतिशत)

- प्रात: 11 बजे कुल मतदान प्रतिशत 21.1 (पुरूष 24.3 व महिला 17.5 प्रतिशत)

- दोपहर एक बजे कुल मतदान प्रतिशत 31.7 (पुरूष 34.6 व महिला 28.4 प्रतिशत)

- अपरान्ह 3 बजे कुल मतदान प्रतिशत 39 (पुरूष 41.5 व महिला 36.1 प्रतिशत)

- अपरान्ह 5 बजे कुल मतदान प्रतिशत 49.3 (पुरूष 51.6 व महिला 46.6 प्रतिशत)

यहां इतने प्रतिशत हुआ मतदान

नगरीय निकाय महिला पुरूष कुल प्रतिशत

नगर परिषद आंतरी 88 91.7 89.9

नगर परिषद पिछोर 81.3 84.6 83

नगर परिषद भितरवार 79.4 82.5 81

नगर परिषद बिलौआ 74.4 79 76.8

नगर परिषद मोहना 75.2 74.7 74.9

नगर पालिका डबरा 70.2 73.8 72.1

नगर निगम ग्वालियर 46.6 51.6 49.3

बूथ पर मदद करने वाले कर्मचारी रहे गायब

मतदान केंद्र बदलने के कारण कई मतदाता परेशान हुए। मतदान केंद्र कहां है ये जानने के लिए प्रशासन ने प्रत्येक बूथ पर ही कर्मचारी को तैनात करने की व्यवस्था बनाई थी। इसके लिए खुद जिलाधीश कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने गत दिवस वीडियों जारी कर मतदाताओं को जानकारी दी थी, लेकिन कई मतदान केंद्रों पर कर्मचारी नहीं मिले। इस कारण मतदाताओं को परेशानी उठानी पड़ी।

निगम के 66 वार्डों में यहां हुआ इतना मतदान

वार्ड मतदाता मतडले प्रतिशत

01-11 192774 93553 48.53

12-22 221608 97370 43.94

23-33 178285 82146 46.08

34-44 146521 75366 51.44

45-55 156337 80868 51.73

56-66 172742 96963 56.13

कई केन्द्रों पर बदलना पड़ीं ईवीएम

चुनाव शुरू होते ही कई मतदान केन्द्रों पर इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) सही तरह से काम नहीं किए जाने की शिकायतें भी सामने आईं। जिस कारण कई जगह दस मिनट से लेकर पचास मिनट तक मतदान प्रभावित रहा है।

इसमें एक पोलिंग बूथ क्रमांक 581 पर सुबह सात बजे ही ईवीएम ने काम करना बंद कर दिया। करीब पचास मिनट बाद जब नई ईवीएम मंगाई गई तभी मतदान शुरू हो सका। मार्डन कान्वेंट स्कूल के बूथ क्रमांक 480 पर भी ईवीएम खराब होने के कारण आध घंटे तक मतदान रुका रहा। इसी तरह नई सडक़ स्थित तेरहपंथी धर्मशाला स्थित पोलिंग बूथ क्रमांक 491 पर ईवीएम खराब होने के कारण करीब तीस मिनट तक मतदान प्रभावित रहा। वहीं विज्ञान महाविद्यालय में भी ईवीएम बंद होने से मतदान प्रभावित हुआ। इसके अलावा वार्ड 54 में एक, वार्ड तीन में एक, वार्ड 9 में दो, वार्ड 38 में एक, वार्ड 62 में तीन ईवीएम मशीनें खराब होने पर दूसरी ईवीएम पहुंचाईं गई। उधर कुछ मतदान केन्द्रों पर तो मोकपोल के दौरान ही मशीनें बंद पड़ गईं, जिन्हें बाद में बदल दिया गया।

मस में देर रात तक सामग्री जमा करने परेशान होते रहे मतदानकर्मी

मतदान समाप्ती के बाद शाम 6.30 बजे से मतदान दलों की वापसी हुई। विज्ञान महाविद्यालय में सबसे पहले दुर्ग स्थित मतदान केन्द्र का दल लौटा। यह दल सबसे पहले रवाना भी हुआ था। वहीं बरसात के कारण विज्ञान महाविद्यालय में लगा वाटर प्रूफ टेंट उखड़ जाने के कारण जगह-जगह कीचड़ होने के साथ ही व्यवस्था पूरी तरह बिगड़ गई थी। इतना ही नहीं टेंट के नीचे लगाए गए पंखे भी गायब थे, जिस कारण मतदनकर्मी ईवीएम व सामग्री जमा कराने के लिए देर रात तक परेशान होते रहे।

ईवीएम में कैद हुआ 823 प्रत्याशियों का भाग्य, 17 को होगा फैसला

जिले के सभी 7 नगरीय निकायों में कुल 823 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला ईवीएम में कैद हो गया है। जिनका फैसला मतगणना दिवस 17 जुलाई को होगा।इनमें ग्वालियर नगर निगम में महापौर का चुनाव लड़ रहे 7 एवं सभी 66 वार्डों के 358 प्रत्याशी शामिल हैं। नगर पालिका डबरा के 30 वार्डों में 146, नगर परिषद आंतरी के 15 वार्डों में 37, नगर परिषद भितरवार के 15 वार्डों में 83, नगर परिषद बिलौआ के 15 वार्डों में 62, नगर परिषद पिछोर के 15 वार्डों में 50 और नगर परिषद मोहना के 15 वार्डों में पार्षद पद के लिये 80 उम्मीदवार शामिल हैं।उधर स्ट्रांग रूम में ईवीएम को कड़ी सुरक्षा के बीच रखा गया है।

Updated : 2022-07-18T11:42:09+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top