Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > बैंकों में कोरोना का कहर, फिर निकले तीन संक्रमित

बैंकों में कोरोना का कहर, फिर निकले तीन संक्रमित

1447 संदिग्ध में 50 संक्रमित, एक की मौत

बैंकों में कोरोना का कहर, फिर निकले तीन संक्रमित

ग्वालियर, न.सं.। जिले में कोरोना के मामले बढऩे के साथ ही अब बैंकों में भी इसका कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। शहर में शासकीय से लेकर निजी बैंकों में प्रतिदिन तीन से चार संक्रमित निकल रहे हैं। इसी के चलते फिर से बैकों से तीन संक्रमित निकले हैं। इसके अलावा आरक्षक, जेल में बंद आरोपी, नर्स व परिवाहर आयुक्त कार्यालय से भी संक्रमित सामने आए हैं। जबकि एक बिरला नगर निवासी 67 वर्षीय वृद्ध महिला निर्मला की उपचार के दौरान केडीजे अस्पताल में मौत हो गई। महिला को दो दिन पूर्व ही निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

गजराराजा चिकित्सा महाविद्यालय की लैब में शुक्रवार को 1447 संदिग्ध नमूनों की जांच की गई। इसमें 50 संक्रमित सामने आए हैं। रिपोर्ट में लधेड़ी निवासी 46 वर्षीय संक्रमित सिटी सेन्टर स्थित आईसीआईसीआई बैंक में टीम लीडर है। अल्कापुरी निवासी 32 वर्षीय संक्रमित पिंटो पार्क स्थित पंजाब नेशनल बैंक की गोले का मंदिर शाखा में वरिष्ठ प्रबंधक हैं। सिंध विहार कॉलोनी निवासी 30 वर्षीय संक्रमित महिला संजय कॉम्पलेक्श स्थित बैंक ऑफ इंडिया में प्रबंधक हैं। मोतीझील निवासी 30 वर्षीय संक्रमित टीएमसी फाइनेंस कम्पनी में रिलेशनशिप मैनेजर है। उधर गजराराजा चिकित्सा महाविद्यालय के निश्चेतना विभाग की महिला जूनियर चिकित्सक भी संक्रमित निकली है। छात्रा गत दिवस ही अपने घर इंदौर से लौटी है और ज्वाइन करने से पहले जांच कराई। वहीं परिवाहन आयुक्त कार्यालय में पदस्थ 56 वर्षीय लेखा शाखा प्रभारी व 49 वर्षीय कम्प्यूटर ऑपरेटर को भी संक्रमण ने अपनी चपेट में लिया है। जबकि शिवाजी नगर निवासी 35 वर्षीय संक्रमित महिला कमलाराजा अस्पताल के एसएनसीयू में स्टॉफ नर्स हैं और इंद्रा कॉलोनी निवासी 52 वर्षीय संक्रमित महिला मंगल नर्सिंग होम में नर्स हैं। इसी तरह नाका चन्द्रवदनी निवासी 46 वर्षीय संक्रमित रेलवे का लाइन मैन है। इन संक्रमितों के आने से जिले में संक्रमितों की संख्या 2357 पहुंच गया है। इसमें 1717 ठीक हो चुके हैं। जबकि 20 की मृत्यु हो चुकी है। इसके अलावा शुक्रवार को भी 45 मरीजों को घर भेजा गया।

नमूना देकर पहुंचे थाने, कैदी भी संक्रमित

रिपोर्ट में जनकगंज थाने से 55 वर्षीय प्रधान आरक्षक व कोतवाली थाने से 46 वर्षीय आरक्षक को संक्रमण निकला है। प्रधान आरक्षक ने बताया कि उन्हेंने शुक्रवार की शाम 8 बजे तक थाने में ड्यूटी भी की है। इसके अलावा हस्तनापुर निवासी 22 वर्षीय संक्रमित धारा 354 का आरोपी है। जिसे दो दिन पूर्व ही केन्द्रीय जेल भेजा गया है। वहीं समाधिया कॉलोनी निवासी भवानी परिवार के घर में 11 सदस्य हैं। इसमें से आठ सदस्यों को सर्दी, जुखाम हो रहा था। इसलिए आठ की जांच कराई तो पांच सदस्य एक साथ संक्रमित निकले। इसी तरह इंद्रा नगर निवासी राजपूत परिवार के घर में पूर्व में दो संक्रमित निकले थे। बॉक्स

मंघाराम का कर्मचारी व सीआरपीएफ का जवान संक्रमित

पिंटो पार्क निवासी 44 वर्षीय संक्रमित सीआरपीएफ का जवान है। जवान की पोस्टिंग झारखण्ड में हैं, जहां से वह दो दिन पूर्व ही लौटा है। जबकि मंघाराम फैक्ट्री से एक और उटीला स्थित एक बोरा फैक्ट्री के दो कर्मचारी संक्रमित निकलें हैं।

चेम्बर के पूर्व पदाधिकारी मैक्स में भर्ती

चेम्बर के पूर्व पदाधिकारी एवं दाल बाजार के थोक तेल कारोबारी को बुखार एवं संक्रमण होने पर नई दिल्ली के मैक्स अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वह कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इसके अलावा चेम्बर के एक पदाधिकारी भी अस्वस्थ्य हैं। वह अपने घर पर ही क्वारेंटाइन हैं।

Updated : 1 Aug 2020 1:00 AM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top