Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > आरक्षक, वार्ड बॉय, आरएमपी, भाजपा ग्रामीण जिलाध्यक्ष, शाखा प्रबंधक निकले संक्रमित

आरक्षक, वार्ड बॉय, आरएमपी, भाजपा ग्रामीण जिलाध्यक्ष, शाखा प्रबंधक निकले संक्रमित

जिले में फिर सामने आए 64 संक्रमित, 1912 पहुंचा आंकड़ा

आरक्षक, वार्ड बॉय, आरएमपी, भाजपा ग्रामीण जिलाध्यक्ष, शाखा प्रबंधक निकले संक्रमित
X

ग्वालियर, न.सं.। गजराराजा चिकित्सा महाविद्यालय व जिला अस्पताल की लैब में की गई जांच में बुधवार को फिर 64 संक्रमित सामने आए। इसमें आरक्षक, वार्ड बॉय, बैंक के कैशियर, शाखा प्रबंधक, भाजपा के तीन नेता सहित दो आरएमपी को भी संक्रमण निकला है।

महाविद्यालय व जिला अस्पताल की लैब में 1103 संक्रमितों की जांचे की गई। रिपोर्ट में रामबाग कॉलोनी निवासी 37 वर्षीय व्यक्ति संक्रमित शिन्दे की छावनी स्थित न्यू लाइफ अस्पताल में नर्सिंग का काम करने के साथ ही बामौर में दवा खाने के नाम से एक फर्जी क्लीनिक भी संचालित करता है। इतना ही नहीं संक्रमित के पास न तो नर्सिंग की डिग्री है और न ही चिकित्सक की। उसके बाद भी संक्रमित खुलेआम मरीजों को दो दिन पूर्व तक देखता रहा। ऐसे में संक्रमित फर्जी चिकित्सक ने कई लोगों को संक्रमण फैलाया होगा। इसी तरह समाधिया कॉलोनी निवासी 52 वर्षीय संक्रमित भी फर्जी क्लीनिक संचालित करता है। इधर द्वितीय बटालियन में पदस्थ 37 वर्षीय आरक्षक को संक्रमण निकला है। आरक्षक विधानसभा ड्यूटी में भोपाल गए थे, जहां से 19 जुलाई को लौटे हैं। इसके अलावा गोल पहाडिय़ा निवासी 55 वर्षीय संक्रमित महिला गजवानी नर्सिंग होम में सफाई कर्मचारी है। महलगांव निवासी 65 वर्षीय संक्रमित पड़ाव स्थित विद्या एमआरआई सेन्टर पर वार्ड बॉय है और वार्ड बॉय के पड़ोस में ही रहने वाला 27 वर्षीय युवक भी संक्रमित निकला है। युवक आर्टिफीशियन ज्वेलरी की फेरी लगाता है। रामबाग कॉलोनी निवासी 58 वर्षीय संक्रमित जनकगंज स्तित सेन्ट्रल बैंक में कैशियर, गोले का मंदिर निवासी 33 वर्षीय संक्रमित डबरा स्थित चोला मंड़ल फायनेंस कंपनी में शाखा प्रबंधक और ऊषा कॉलोनी निवासी 40 वर्षीय युवक भी फायनेंस कम्पनी में काम करता है। इन मरीजों के आने से जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1912 पहुंच गई है। इसमें 1133 ठीक हो चुके हैं। जबकि 13 की संक्रमण से मौत भी हो चुकी है। उधर बुधवार को भी 50 मरीजों की छुट्टी करते हुए घर भेजा गया।

फल का ठेला लगाने वाले का परिवार संक्रमित

सागरताल रोड स्थित जहांगीर कटरा निवासी 29 वर्षीय संक्रमित फल का ठेला लगाता है। पिछले दिनों शिविर में ठेले वाले के साथ ही घर के अन्य सदस्यों की जांच कराई तो उसके साथ उसकी 28 वर्षीय पत्नी, 24 वर्षीय बहू और 29 वर्षीय भाभी को संक्रमण निकला।

जैन परिवार के छह सदस्य संक्रमित

दाना ओली निवासी जैन परिवार में एक सदस्य को संक्रमण निकला था। इसलिए घर के अन्य सदस्यों की जांच कराई तो 32 व 38 वर्षीय महिला, 38 वर्षीय व्यक्ति, 8 वर्षीय बच्चा, 62 वर्षीय बुजुर्ग सहित 12 वर्षीय बच्ची को संक्रमण निकला है। संक्रमित परिवार की दानाओली में ही तारा दूध वाले के नाम से डेयरी भी है।

डबरा से भाजपा के तीन नेता संक्रमित

रिपोर्ट में डबरा से तीन भाजपा नेताओं को संक्रमण निकला है। इसमें डबरा वार्ड-21 निवासी भाजपा के 52 वर्षीय ग्रामीण अध्यक्ष, वार्ड-17 निवासी भाजपा से विधानसभा संयोजक सहित सीसक कॉलोनी निवासी 37 वर्षीय भाजपा के नेता और एक नेता के 40 वर्षीय भंजे को भी संक्रमण निकला है।

परिवार में भर्ती वृद्धा को निकला संक्रमण

रिपोर्ट में 84 वर्षीय वृद्धा को भी संक्रमण निकला है। वृद्धा को उल्टी, दस्त होने के साथ ही भूख नहीं लग रही थी। इस पर परिजनों ने परिवार अस्पताल में पिछले दिनों भर्ती कराया था। जहां उपचार के दौरान चिकित्सकों ने कोरोना की जांच कराई तो उन्हें संक्रमण निकला। इस पर वृद्धा को सुपर स्पेशलिटी में शिफ्ट कराया गया।

डाबर व जे.के. टायर से भी निकले संक्रमित

लोके स्थित डाबर फूड फैक्ट्री में काम करने वाले 45 वर्षीय व्यक्ति व 27 वर्षीय युवती के साथ ही जे.के. टायर के प्रोडक्शन में काम करने वाले 47 वर्षीय व्यक्ति को संक्रमण निकला है। इसके साथ ही जे.के. टायर के कर्मचारी के दो बच्चे भी संक्रमित हुए हैं।

गहना परिवार ने जीती कोरोना से जंग

शहर के प्रतिष्ठित व्यापारी गहना परिवार के पांच सदस्यों सहित स्टाफ के 20 कोरोना संकमितों ने 21 दिन के भीतर यह जंग जीत ली। गहना ज्वेलर्स के संचालक राकेश मंगल ने बताया कि वे दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल से पूर्ण स्वस्थ होकर वापस ग्वालियर आ गए हैं। इसी तरह उनकी पत्नी, दोनों बेटे, एक बेटे की पत्नी घर में ही क्वॉरेंटाइन रहकर स्वस्थ हुए। स्टाफ की 20 लड़कियां भी ठीक हो गई हैं। उन्होंने बताया कि इसके लिए विशेष दवा तो नहीं, हल्की फुल्की दवाओं, काढ़ा और अपने में विश्वास बढ़ाकर इस जंग पर सफलता पाई। इसीलिए इस बीमारी से घबराने की कोई जरूरत नहीं है।

Updated : 2020-07-23T06:30:21+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top