Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > कमलनाथ को घेरने सड़कों पर आई भाजपा, मंडलों में फूंके पुतले

कमलनाथ को घेरने सड़कों पर आई भाजपा, मंडलों में फूंके पुतले

केन्द्रीय मंत्री रहते चीनी कंपनियों को दिया था फायदा

कमलनाथ को घेरने सड़कों पर आई भाजपा, मंडलों में फूंके पुतले
X

ग्वालियर, न.सं.। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा केन्द्रीय मंत्री रहते चीनी कंपनियों को दी गईं रियायतों को लेकर भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता सड़कों पर उतर आए हैं। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री को घेरने के लिए प्रदेश सहित ग्वालियर महानगर के सभी मंडलों में उनके पुतले जलाए और आरोप लगाया कि उनकी करतूत आज पूरा देश भुगत रहा है। कमलनाथ द्वारा दी गईं रियायतों का ही नतीजा है कि चीन ने भारतीय बाजार पर कब्जा कर लिया है। उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होना चाहिए।

भाजपा के सभी नौ मंडलों में हुए पुतला दहन का नेतृत्व सांसद विवेक शेजवलकर, पूर्व मंत्री व विधानसभा प्रसारी गौरीशंकर बिसेन, भाजपा जिलाध्यक्ष व अन्य पूर्व मंत्रियों एवं भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने किया। सभी मंडलों में एक साथ कमलनाथ के पुतले फूंके गए। इस मौके पर भाजपा नेता और कार्यकर्ता के हाथों में तख्तियां लिए हुए थे, जिन पर चीनी दलाल, कमलनाथ हाय-हाय के स्लोगन लिखे थे। कमलनाथ के खिलाफ नारेबाजी के बीच भाजपा नेताओं ने कमलनाथ का पुतला फूंका। इस दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं में भारी आक्रोश देखा गया है और उन्होंने कमलनाथ का विरोध करने के साथ ही आमजन से आह्वान किया कि वह चीनी सामान का पूरी तरह बहिस्कार करें।

जिले के हेमू कालानी मंडल द्वारा महाराज बाड़े, दीनदयाल मंडल द्वारा केआरजी महाविद्यालय के सामने, सावरकर मंडल का इंदरगंज चौराहे पर, विवेकानन्द मंडल द्वारा राम मंदिर, फालका बाजार, कोटेश्वर मंडल द्वारा किला गेट पर, दुर्गा दास मंडल का हजीरा चौराहे पर, रामकृष्ण मंडल का थाटीपुर चौराहे पर तथा भगत सिंह मंडल द्वारा बारादरी चौरहे पर पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का पुतला दहन किया गया। वहीं पुतला दहन के दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच छीना-झपटी भी हुई। इस अवसर पर पूर्व मंत्री नारायण सिंह कुशवाह, प्रद्युम्न सिंह तोमर, पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल, पूर्व जीडीए अध्यक्ष अभय चौधरी, पूर्व साडा अध्यक्ष राकेश जादौन, जयप्रकाश राजौरिया, पारस जैन, अशोक पटसारिया, राकेश माहौर, अशोक बांदिल, राकेश गुप्ता, कनवर मंगलानी, विनोद शर्मा, सुसेन्द्र परिहार, राकेश शर्मा, राजेश्वर राव, चेतन मंडलोई, रामप्रकाश परमार, अखिल शर्मा, गुड्डू तोमर, राजेश वादवानी आदि उपस्थित रहे।

कमलनाथ ने चीनी कंपनियों को दी थी भारी छूट, देश भुगत रहा उनकी करतूत

वहीं पत्रकारों से चर्चा करते हुए ग्वालियर पूर्व विधानसभा के प्रभारी एवं पूर्व मंत्री गौरीशंकर बिसेन ने कमलनाथ पर आरोप लगाते हुए कहा कि यूपीए सरकार में केंद्रीय मंत्री रहते हुए कमलनाथ ने चीन के साथ समझौता किया था। जिसके तहत चीनी उत्पादों के भारत में विक्रय को लेकर भारी भरकम टैक्स में छूट दी गई थी। विशेषकर जिनका उत्पादन भारत में होता है उनके आयात शुल्क घटाए गए थे। परिणाम स्वरूप देश के लघु, कुटीर और हस्तकरघा उधोग प्रभावित हुए।

जिसके चलते चीनी उत्पादों ने भारतीय बाजार पर कब्जा कर लिया। पूर्व मंत्री का कहना है वर्तमान में चीन के साथ सीमा पर तनाव है, ऐसे में कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी और राहुल गांधी जो बयानबाजी कर रहे हैं उसमें कहीं भी राष्ट्रवाद नहीं झलक रहा है। पूर्व मंत्री श्री बिसेन ने कहा कि कमलनाथ मुख्यमंत्री व केंद्रीय मंत्री रहे, उनके कार्यकाल में देश को नुकसान हुआ, जिसका पुरजोर विरोध करते हुए भाजपा ने प्रदेशव्यापी मंडल स्तर पर कमल नाथ का पुतला दहन कर अपना विरोध दर्ज कराया

Updated : 2020-07-02T06:46:27+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top