Top
Latest News
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > ग्वालियर मेला से मायूस होकर लौटे भिण्ड-मुरैना के ऑटो मोबाइल कारोबारी

ग्वालियर मेला से मायूस होकर लौटे भिण्ड-मुरैना के ऑटो मोबाइल कारोबारी

- कटी हुईं रसीदें होंगी निरस्त

ग्वालियर मेला से मायूस होकर लौटे भिण्ड-मुरैना के ऑटो मोबाइल कारोबारी

ग्वालियर। पिछले चार दिनों से मेला के ऑटोमोबाइल सेक्टर में अपना स्टॉल लगाने की आशा लेकर आ रहे, ऑटो मोबाइल कारोबारी मेला प्राधिकरण से सकारात्मक जवाब नहीं मिलने के कारण शुक्रवार को बैठक के बाद मायूस होकर वापस लौट आए।

उल्लेखनीय है कि मेला में ऑटो मोबाइल सेक्टर के लिए ग्वालियर के व्यापारियों को 102 प्लाटों का आवंटन हो चुका है। अब भिण्ड-मुरैना के ऑटोमोबाइल कारोबारियों की इच्छा है कि उन्हें भी इस सेक्टर के लिए प्लाटों का आवंटन किया जाए जिससे वह भी यहां अपना स्टॉल लगा सकें। मगर नोटिफिकेशन नहीं आने के कारण मेला प्राधिकरण इन कारोबारियों को प्लाट देने में अपनी मजबूरी बता रहा है। पिछले वर्ष मेला में वाहनों पर रोड टैक्स में छूट दिए जाने के लिए जो नोटिफिकेशन जारी हुआ था उसमें लिखा था कि ऐसे ऑटोमोबाइल व्यवसायी, जिन्होंने राज्य में अन्य परिवहन कार्यालय से व्यवसाय प्रमाण पत्र प्राप्त किया है तथा अन्य राज्यों के ऑटोमाबाइल व्यवसायी ग्वालियर व्यापार मेला से वाहन का विक्रय नहीं कर सकेंगे।

किसने क्या कहा:-

- मेला अध्यक्ष प्रशांत गंगवाल ने कहा कि मैं नोटिफिकेशन जारी होने के बाद ही आपको वाहनों के लिए स्टॉल देने या ना देने का निर्णय लूंगा। इसके पहले न तो आपको प्लांटो का आवंटन किया जाएगा न रसींदें काटी जाएंगी। ऐसा करना नियम के विरूद्ध है। श्री गंगवाल ने कहा कि अगर नोटिफिकेशन में ग्वालियर से बाहर के डीलरों को मेला में व्यापार करने की अनुमति दी जाती है तो हम बोर्ड की आपात बैठक बुलाकर आपको प्लाट अवश्य देंगे। रही बात कि मेरे पर किसी का दवाब है कि मैं उनके कहने पर प्लाट नहीं दे रहा हूँ, यह पूर्ण रूप से निराधार है। श्री गंगवाल ने कहा कि प्राधिकरण में जो भी काम होंगे वह नियमों के अंतर्गत ही होंगे। मैं किसी भी तरह के गलत निर्णय लेकर अपने हाथ नहीं कटवा सकता हूँ। श्री गंगवाल ने कहा कि आप मेला कार्यालय में आने से अच्छा तो परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत से मिले या भोपाल जाकर जल्दी से जल्दी नोटिफिकेशन जारी करवाएं। यही आपके लिए अच्छा होगा।

- वहीं भिण्ड और मुरैना के ऑटो मोबाइल कारोबारियों ने कहा कि आप ग्वालियर के डीलरों के दवाब में आकर हमें प्लाट आवंटित नहीं कर रहे हैं। डीलरों का कहना था कि आप तो हम आठ-दस लोगों की रसीद काट दो। हम पिछले चार दिन से अपना घर-द्वार छोडक़र मेला प्राधिकरण के चक्कर काट रहे हैं। अंत में निराशा हाथ लगने के बाद सभी डीलर वापस लौट गए।

- पूर्व विधायक रमेश अग्रवाल ने कहा कि मेला परिसर में धरना देना गलत है। यह धरना मेला के लिए सिंधिया जी के लिए होगा। उन्होंने कहा कि मैं दिल्ली जाकर इस संबंध में ज्योतिरादित्य सिंधिया से बात करूंगा।

मेला प्राधिकरण ने बुलाया प्रशांत मेहता व रमेश अग्रवाल को

मेला में सांस्कृतिक कार्यक्रमों को लेकर पूर्व वरिष्ठ आईएस ऑफिसर प्रशांत मेहता, पूर्व विधायक रमेश अग्रवाल एवं पूर्व संभागआयुक्त बी.एम. शर्मा के अनुभवों का लाभ लेने के लिए उन्हें शुक्रवार को मेला की बैठक में बुलाया गया। इस बैठक में मेला शुभारंभ में किसको बुलाना है, सांस्कृतिक कैलेण्डर कैसे बनना है एवं सफाई पर चर्चा की गई। इस बैठक में मेला अध्यक्ष प्रशांत गंगवाल, उपाध्यक्ष डॉ. प्रवीण अग्रवाल, सुधीर मण्डेलिया, शील खत्री, महबूब चेन वाले एवं नवीन परांडे उपस्थित थे।

मेला में 20 जनवरी से होगा दंगल

ग्वालियर व्यापार मेला में महिला-पुरूष का दंगल 20 से 26 जनवरी तक आयोजित किया जाएगा। इसमें चार महिला और चार पुरूष के दंगल होंगे।

Updated : 2019-12-22T04:15:38+05:30
Tags:    

Swadesh News ( 0 )

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top