Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > ग्वालियर : मंगल किसके लिए रहा मंगलकारी, किस पर रहा भारी, हुआ फैसला

ग्वालियर : मंगल किसके लिए रहा मंगलकारी, किस पर रहा भारी, हुआ फैसला

जिले की जनता ने दो मंत्रियों और एक सांसद को नहीं किया स्वीकार , तीन वर्तमान विधायक जीते, एक ने बचाई भाजपा की लाज

ग्वालियर  : मंगल किसके लिए रहा मंगलकारी, किस पर रहा भारी, हुआ फैसला
X

ग्वालियर/स्वदेश वेब डेस्क। मध्यप्रदेश की 15 वी विधानसभा में कौन सदस्य बनकर जाएगा इसका फैसला आज मंगलवार 11 दिसंबर को हो गया , हालाँकि इस फैसले के लिये आधी रात तक इन्तजार करना पड़ा । 28 नवम्बर को हुए मतदान के बाद से प्रत्याशियों को इसी दिन का इन्तजार था। प्रत्याशियों के लिए मुश्किलभरी रातें रहीं। हालाँकि सभी को ईश्वर पर पूरा भरोसा था, इसलिए कोई प्रत्याशी मंदिर दर्शन करने के बाद मतगणना स्थल पर पहुंचा तो किसी ने अपने घर पर ही पूजा पाठ की ।

मंगलवार का दिन किसके लिए मंगलकारी रहा और किसके लिए भारी, ये तय तो 28 नवम्बर को ही हो गया था जब मतदाता ने ईवीएम में अपना कीमती वोट डाल दिया था, लेकिन इसकी घोषणा मंगलवार 11 दिसंबर को हुई जब वोटों की गिनती की गई । महारानी लक्ष्मीबाई उत्कृष्ट कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय (एमएलबी कॉलेज) में सुबह 8 बजे से मतगणना प्रारम्भ हुई जो देर रात तक चली ।

ग्वालियर दक्षिण विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी मंत्री नारायण सिंह कुशवाह तीन बार से विधायक हैं तो वे थोड़े तनावमुक्त दिखे उन्होंने सामान्य दिनों की तरह घर पर नियमित पूजा पाठ किया और फिर दोपहर में एमएलबी कॉलेज पहुंचेंगे। इसी विधानसभा से पहली बार चुनाव लड़ रहे कांग्रेस के युवा प्रत्याशी प्रवीण पाठक के दिल की धड़कन जरूर बढ़ी हुई रहीं । वे बोले छत्री बाजार स्थित रोकड़िया सरकार बजरंगवली मंदिर सुबह जल्दी दर्शन कर 7 बजे एमएलबी कॉलेज पहुँच गए और दिन भर वहीँ रहे । इस विधानसभा के मुकाबले को त्रिकोणीय बनाने वाली पूर्व महापौर निर्दलीय प्रत्याशी समीक्षा गुप्ता ने घर पर ही पूजा पाठ की और एमएलबी कॉलेज नहीं गई। यहाँ का मुकाबला बहुत कांटे का रहा, यहां सुबह से हर राउंड में आगे चल रहे नारायण सिंह रात के समय पीछे हो गए और उन्हें कांग्रेस के प्रवीण पाठक ने मात्र 121 वोटों से हरा दिया । यहाँ प्रवीण पाठक को 56369 वोट मिले और नारायण सिंह को 56248 वोट मिले समीक्षा गुप्ता तीसरे नंबर पर रहीं उन्हें 30745 वोट मिले

ग्वालियर पूर्व विधानसभा के भाजपा प्रत्याशी सतीश सिकरवार को दो बार पार्षद बनने का अनुभव था तो वे भी थोड़े रिलेक्स रहे । वे घर पर ही रहे पूजा पाठ करने कस बाद अपने समर्थकों से मेल मुलाकात करते रहे। वहीँ इसी विधानसभा से उनके प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस प्रत्याशी मुन्नालाल गोयल नियमित दिनचर्या के तहत सुबह नहाकर सूर्य भगवान को जल देकर सुबह 8 बजे एमएलबी कॉलेज पहुँच गए । यहाँ आठवे राउंड तक सतीश आगे रहे और एक समय उनकी लीड 6000 तक पहुँच गई लेकिन उसके बाद मुन्नालाल गोयल ने बढ़त बनाई और उन्होंने 17819 वोट से चुनाव जीत लिया । मुन्नालाल गोयल को 90133 वोट मिले जबकि सतीश सिकरवार को 72314 वोट मिले

उधर ग्वालियर ग्रामीण विधानसभा के भाजपा प्रत्याशी भारत सिंह कुशवाह भी ईश्वर में आस्था रखने वाले है वे सुबह 7 बजे अचलेश्वर पर भगवान भोलेनाथ के दर्शन करने के बाद एमएलबी गए , वहीँ इसी विधानसभा से कांग्रेस से बागी होकर बीएसपी से चुनाव लड़ रहे साहब सिंह गुर्जर अपने ही गाँव ओहदपुर के प्राचीन बजरंगवली मंदिर पर दर्शन कर माता पिता का आशीर्वाद लेकर एमएलबी पहुंचें। यहाँ मुकाबला त्रिकोणीय था , कांग्रेस के मदन कुशवाह भी इस सीट से मैदान में थे । मुकाबला रोचक रहा , भारत सिंह सुबह से मदन कुशवाह से आगे चलते रहे , लेकिन साहब सिंह गुर्जर भी लगातार बढ़त बना रहे थे,शाम ढलते ढलते साहब सिंह दूसरे नंबर पर पहुँच गए और मदन कुशवाह तीसरे नंबर पर खिसक गए । अंत में भाजपा के भारत सिंह कुश्वार ने जीत दर्ज की भारत को 51033 वोट मिले, साहब सिंह को 49516 वोट मिले और मदन कुशवाह को 38199 वोट मिले


इसके अलावा ग्वालियर विधानसभा से चुनाव लड़ेमंत्री जयभान सिंह पवैया को कांग्रेस के पूर्व विधायक प्रद्युम्न सिंह तोमर ने सीधे मुकाबले में 21044 वोटों से हरा दिया । प्रद्युम्न को 92055 वोट मिले और पवैया को 71011 वोट मिले । वहीँ भितरवार से चुनाव लड़े मुरैना सांसद अनूप मिश्रा भी चुनाव हार गए उन्हें कांग्रेस के विधायक लाखन सिंह ने 12130 वोटों से हरा दिया । लाखन सिंह को 66439 वोट मिले और अनूप मिश्रा को 54309 वोट मिले। यहाँ लाखन सिंह ने एक भी राउंड में अनूप मिश्रा को आगे नहीं निकलने दिया । डबरा विधानसभा का मुकाबला एकतरफा रहा यहाँ कांग्रेस विधायक इमरती देवी ने भाजपा के कप्तान सिंह सहसारी को 57446 वोटों के बड़े अंतर से हरा दिया । इमरती देवी को 90598 वोट मिले और कप्तान सिंह को 33152 वोट मिले

Updated : 2018-12-12T20:20:55+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top