Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > अब ई-पास से होंगे ऑनलाइन आरक्षण, कर्मचारियों की सूची तैयार

अब ई-पास से होंगे ऑनलाइन आरक्षण, कर्मचारियों की सूची तैयार

जल्द लागू होगी प्रणाली, आरक्षण में आएगी पारदर्शिता

अब ई-पास से होंगे ऑनलाइन आरक्षण, कर्मचारियों की सूची तैयार
X

ग्वालियर, न.सं.। रेलवे बोर्ड जल्द ही ह्यूमेन रिसोर्स मैनेजमेंट प्रणाली लागू करने जा रहा है। इस प्रणाली में कर्मचारी को ई-पास व पीटीओ जारी होंगे, जिनकी मदद से वे ऑनलाइन आरक्षण कर सकेंगे। इस प्रणाली से पारदर्शिता बढ़ेगी व पेपरलेस काम हो जाएगा। रेलवे अपने पांच साल की नौकरी पूरी करने वाले कर्मचारियों को ट्रेन में मुफ्त यात्रा करने के लिए सालाना तीन सुविधा पास व चार पीटीओ उपलब्ध कराता है। सुविधा पास में कोई किराया नहीं लगता, जबकि पीटीओ में किराए का एक तिहाई पैसा देना पड़ता है।

पांच साल से कम नौकरी वाले कर्मचारियों को साल में एक सुविधा पास व चार पीटीओ मिलते हैं। पास व पीटीओ पर रेलवे काउंटर पर ही आरक्षण मिलता है। कर्मचारी ऑनलाइन आरक्षण नहीं कर सकते हैं। मगर रेलवे अब पास व पीटीओ को ऑनलाइन करने जा रहा है। कर्मचारियों को ई पास व पीटीओ जारी होंगे, जिनकी मदद से वे ऑनलाइन भी आरक्षण करा सकेंगे। इसके लिए सेंटर फॉर रेलवे इंफोरमेशन सिस्टम (क्रिस) ने हूमेन रिसोर्स मैनेजमेंट प्रणाली तैयार किया है, जिसकी टेस्टिंग का काम शुरू हो गया है। इस सुविधा से मंडल के 20 हजार से अधिक कर्मचारी लाभान्वित होंगे।

फर्जी यात्राओं पर लगेगा अंकुश

रेलवे का मानना है कि इस नई व्यवस्था से पासों पर फर्जी यात्राओं का सिलसिला रुक सकेगा। अभी कुछ कर्मचारी आरक्षण बाबू से मिलकर बिना एंट्री कराए एक पास पर कई बार आरक्षण करा लेते थे। ऐसे कई मामले पकड़े जा चुके हैं। इसके बाद यह नई व्यवस्था लागू की जा रही है।

इनका कहना है

बोर्ड के आदेश के बाद रेलवे द्वारा कर्मचारियों का डाटाबेस तैयार किया जा रहा है। मौजूदा सुविधा पास की जगह अब कर्मचारियों का ई-पास बनेगा। इसके चलते आरक्षण कराते समय कर्मचारियों की पिछली यात्राओं की जानकारी मिल जाएगी।

-मनोज कुमार सिंह

जनसंपर्क अधिकारी

झांसी

Updated : 2020-07-02T06:46:49+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top