Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भोपाल > भोपाल से पकडे गए आतंकियों के कोलकाता से जुड़े है तार, छानबीन के लिए जाएगी पुलिस

भोपाल से पकडे गए आतंकियों के कोलकाता से जुड़े है तार, छानबीन के लिए जाएगी पुलिस

भोपाल से पकडे गए आतंकियों के कोलकाता से जुड़े है तार, छानबीन के लिए जाएगी पुलिस
X

भोपाल। भोपाल में पकड़ाए जमात-ए-मुजाहदीन बांग्लादेश (जेएमबी) के चारों आतंकियों से पूछताछ नित नए खुलासे हो रहे हैं। प्रदेश के गृहमंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि सायबर सेल सक्रियतापूर्वक कार्य कर रही है। भोपाल से पकड़े गए संदिग्ध आतंकियों के तार कोलकाता से जुड़ रहे हैं। इसकी जांच के लिए पुलिस आज ही कोलकाता के लिए रवाना हो गई है।

गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बुधवार को मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि जांच एजेंसी को आतंकियों के पास से पेट्रोल बम बनाने का वीडियो मिले हैं। संदिग्धों को फंडिंग और दूसरी सहायता पहुंचा रहे दो और स्थानीय लोगों की भी जांच की जा रही है। इन आतंकियों को भोपाल के ऐशबाग में किराए पर मकान दिलाने वाले सलमान को एटीएस ने गिरफ्तार कर लिया है, और उससे पूछताछ की जा रही है। पड़ोसियों का कहना है कि सलमान का भाई घर पर ही कोचिंग सेंटर चलाता है। वह अपने समाज के पहली से दसवीं तक के छात्रों को कोचिंग देता है। वह आलिम की तालीम भी देता है। एटीएस अब यह जांच कर रही है कि कहीं आतंकी भी आलिम की तालीम लेने सलमान के भाई के पास तो नहीं जाते थे।

आतंकियों के पास जो जिहादी साहित्य मिला है, वो अधिकतर डिजिटल फॉर्म में है। इसी के आधार पर उन्होंने किताबें छापी हैं। आतंकियों ने पूछताछ में स्वीकार किया है कि उन्होंने भोपाल में जेहादी लिटरेचर को छापने के लिए प्रकाशकों से संपर्क किया था, लेकिन कंटेंट देखकर प्रकाशकों ने किताबें छापने से मना कर दिया। ऐसे में प्रिंटिंग, बाइंडिंग से जुड़े उपकरण खरीद लाए और खुद ही छपाई कर ली। यह भी पता चला है कि वे युवकों में जिहादी साहित्य बांटते थे।

Updated : 16 March 2022 3:47 PM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top