Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भोपाल > मप्र में 21 लाख मजदूरों को तीन माह नि:शुल्‍क राशन और काम मिलेगा : मुख्यमंत्री

मप्र में 21 लाख मजदूरों को तीन माह नि:शुल्‍क राशन और काम मिलेगा : मुख्यमंत्री

मप्र में 21 लाख मजदूरों को तीन माह नि:शुल्‍क राशन और काम मिलेगा : मुख्यमंत्री
X

भोपाल। देश के कई राज्यों में कोरोना महामारी का कहर जारी है। कोरोना मरीजों से संक्रमित होने के साथ मरने वालों की संख्या में भी बढ़ोत्तरी हो रही है। इससे निपटने के लिए कई राज्यों में लॉकडाउन की स्थिति बनी हुई है। लॉकडाउन की संभावना ने मजदूरों के मन में भी उत्पन्न कर दिया है। कट की इस घड़ी में जिस तरह से एक बार फिर जिन्‍दा रहने की जद्दोजहद के बीच पलायन का दौर शुरू हुआ है, उसमें राज्‍य शासन ने मजदूरों के लिए अहम पहल की है। मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश से पलायन कर रहे मजदूरों से आग्रह किया है कि वे राज्‍य से बाहर ना जाएं बल्‍कि उनके लिए अल्‍पाहार से लेकर भोजन और जरूरत पड़ने पर रोजगार तक कि व्‍यवस्‍था सरकार करेगी। इसे लेकर उन्‍होंने ट्वीटर पर एक वीडियो एवं संदेश भी ट्वीट किया है।

मुख्यमंत्री शिवराज ने अपने संदेश में कहा , ''मध्यप्रदेश में मजदूर भाई-बहनों को काम देने की पूरी व्यवस्था की गई है। उनको कहीं जाने की जरूरत नहीं है, आज मनरेगा में लगभग 21 लाख मजदूर नियोजित हैं। उन्हें 3 माह का राशन नि:शुल्क दिया जा रहा है, लेकिन यदि मध्यप्रदेश में मजदूर भाई-बहन आएंगे तो उनका पूरा ध्यान रखा जाएगा।''

मुख्यमंत्री ने कहा आज की तारीख में मनरेगा के 21 लाख के आसपास प्रदेश में मजदूर हैं। सरकार उनके लिए हर संभव सहायता मुहैया कराएगी। उन्‍हें मध्‍य प्रदेश के बारह जाने की कोई जरूरत नहीं। यदि मप्र में मजदूर भाई-बहन रहेंगे तो उनका पूरा ध्‍यान रखा जाएगा, उनको चाय, नश्‍ता, भोजन जरूरत पड़ने पर काम देने तक उनका सारा ध्‍यान रखेंगे, जिससे संकट के समय उन्‍हें कोई परेशानी ना हो। सरकार उन्हें 3 महीने का राशन मुफ्त दे रही है।


Updated : 21 April 2021 1:51 PM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top