Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भोपाल > मप्र में पत्रकारों को मिला फ्रंटलाइन वर्कर का दर्जा, मुख्यमंत्री ने की घोषणा

मप्र में पत्रकारों को मिला फ्रंटलाइन वर्कर का दर्जा, मुख्यमंत्री ने की घोषणा

मप्र में पत्रकारों को मिला फ्रंटलाइन वर्कर का दर्जा, मुख्यमंत्री ने की घोषणा
X

भोपाल। प्रदेश में अधिमान्यता प्राप्त पत्रकारों को फ्रंट लाइन वर्कर की श्रेणी में शामिल कर लिया गया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना संक्रमण के दौरान रिपोर्टिंग करने वाले पत्रकारों को भी कोरोना वॉरियर्स मानते हुए उन्हें भी फ्रंट लाइन वर्कर्स को दी जाने वाली सभी सुविधाओं का लाभ दिए जाने का फैसला लिया है।

मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को ट्विट करके यह जानकारी साझा की ''हमारे पत्रकार मित्र कोरोनाकाल में अपनी जान जोखिम में डालकर अपने कर्तव्यों का निर्वाह कर रहे हैं। मध्यप्रदेश में सभी अधिमान्यता प्राप्त पत्रकारों को हमने 'फ्रंटलाइन वर्कर' घोषित करने का निर्णय लिया है। उनका पूरा ध्यान रखा जाएगा और उनकी पूरी चिंता की जाएगी।''

मुख्‍यमंत्री के इस निर्णय पर नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री हरदीप सिंह डंग ने कहा कि पूरे कोरोना काल के दौरान पत्रकारों ने अपनी जान को जोखिम में डालकर लोगों तक कोरोना से बचने के उपाय, कोरोना से संबंधित समाचार पहुंचाने का साहसिक कार्य किया है, इसलिए वे कोरोना वारियर्स की श्रेणी में शामिल होने के वास्तविक पात्र हैं। इसी तरह से पशुपालन मंत्री प्रेम सिंह पटेल ने कहा है कि कोरोना काल में पत्रकारों ने लगातार लोगों तक बचाव, जागरुकता आदि विभिन्न तरह की जानकारी जन-सामान्य तक पहुंचाई। अपने कर्तव्यों का पालन करते हुए अनेक पत्रकार कोरोना संक्रमित हो गए और कुछ पत्रकारों की मृत्यु तक हो गई।फ्रंट लाइन वर्कर की श्रेणी में शामिल होने से उनको इस श्रेणी की सभी सुविधाएं मिलेंगी।

Updated : 3 May 2021 11:57 AM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top