Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भोपाल > Amazon और Flipkart को गृहमंत्री मिश्रा ने दी चेतावनी, हटाए चाकू और मादक पदार्थ

Amazon और Flipkart को गृहमंत्री मिश्रा ने दी चेतावनी, हटाए चाकू और मादक पदार्थ

Amazon और Flipkart को गृहमंत्री मिश्रा ने दी चेतावनी, हटाए चाकू और मादक पदार्थ
X

भोपाल। ई-कॉमर्स कंपनियों पर हथियार और मादक पदार्थ की ब्रिकी को लेकर सरकार सख्त हो गई है। जबलपुर जिले में ई-कामर्स कंपनी फ्लिपकार्ट द्वारा चाकू जैसा घातक हथियार बेचे जाने का प्रकरण सामने आने के बाद गृहमंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने इसका संज्ञान लेते हुए आनलाइन शापिंग कंपनियों को चेतावनी दी है। उन्होंने ई- कामर्स कंपनियों को अपने प्लेटफार्म से नशे और हथियार जैसी चीजों को जल्द से जल्द हटाने के आदेश दिए है।

गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बुधवार को मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि जबलपुर में ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट को अपने प्लेटफॉर्म से चाकू और ऐसे अन्य आपत्तिजनक समान हटाने के आदेश दिए गए है। संभवत: उन्होंने हटा दिया होगा। यदि नहीं हटाते है तो उसे हटा देंगे। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन और फ्लिपकार्ट को अपने प्लेटफॉर्म से नशे और हथियार से जुड़ी घातक सामग्री हटाने का आग्रह कर रहा हूं। ऐसा नहीं करने पर हम अगली दिशा के बारे में सोचेंगे। बता दें ई-कॉमर्स कंपनी से हाल ही में मादक पदार्थ और चाकू जैसे हथियार खरीदी के मामले सामने आए है।

मॉब लीचिंग कांग्रेस की देन -

इसके अलावा कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा माब लिंचिंग को लेकर दिए गए बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए मंत्री मिश्रा ने कहा कि 1984 के सिख विरोधी दंगों में कांग्रेस के लोगों ने देश में मॉब लिंचिंग की शुरुआत की थी। तुष्टिकरण की राजनीति करने राहुल गांधी जी को चुनाव के समय उत्तर प्रदेश में तो मॉब लिंचिंग दिखाई दे रही है लेकिन केरल में नहीं, जहां भाजपा कार्यकर्ताओं को बेरहमी से मारा गया। केरल के बारे में नहीं बोलेंगे। यहीं इनकी तुष्टीकरण की राजनीति है। इसी का परिणाम कांग्रेस भोग रही है और आगे भी भोगेंगी।


Updated : 2022-01-01T14:38:47+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top