Latest News
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भोपाल > गर्मी से मिली राहत, प्री-मानसून के तहत कई इलाकों में बूंदाबांदी के आसार

गर्मी से मिली राहत, प्री-मानसून के तहत कई इलाकों में बूंदाबांदी के आसार

गर्मी से मिली राहत, प्री-मानसून के तहत कई इलाकों में बूंदाबांदी के आसार
X

कोलकाता। बंगाल की खाड़ी में बने सिस्टम से मध्यप्रदेश का मौसम बदलने लगा है और तापमान में भी परिवर्तन हो रहा है। पिछले कुछ दिनों से हवा के गर्म थपेड़ों से परेशान हो रहे प्रदेशवासियों ने तापमान में गिरावट के साथ ही राहत की सांस ली है।

बता दें कि मंगलवार को प्रदेश में सबसे अधिक तापमान नौगांव, दतिया और सीधी का 45 डिग्री सेल्सियस रहा। वहीं नौगांव, सीधी व दतिया में लू भी चली। मौसम विभाग ने 18 मई को जबलपुर के रास्ते से प्री-मानसून के प्रवेश की संभावना जताई है। आने-वाले चार-पांच दिनों में प्री-मानसून एक्टिविटीज के तहत बूंदा-बांदी हो सकती है, लेकिन गर्मी बनी रहेगी। जबलपुर के साथ रीवा और शहडोल जिले में तेज हवाओं के साथ हल्की बारिश होने के आसार हैं।

वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि करीब दो दिन पहले अंडमान-निकोबार पहुंचा दक्षिण पश्चिम मानसून सोमवार को दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी में दाखिल हो गया है। ऐसा अनुमान है कि मानसून तय समय से लगभग 3-4 दिन पहले केरल पहुंचेगा। अगर सब कुछ ठीक रहा तो केरल से मध्यप्रदेश आने में इसे 15-18 दिन लग सकते हैं। इस तरह जून के पहले-दूसरे हफ्ते में लोगों को गर्मी से निजाद मिलनी शुरू हो जाएगी।

जून के दूसरे हफ्ते में तापमान 38 डिग्री सेल्सियस से ऊपर नहीं जाएगा। वहीं बंगाल की खाड़ी में बन रहे सिस्टम के कारण उत्तर-पूर्वी मध्यप्रदेश से तमिलनाडु तक ट्रफ लाइन बन गई है, इसके प्रभाव से अगले 24 घंटे में जबलपुर, रीवा और शहडोल में कहीं-कहीं हल्की बारिश हो सकती है। हालांकि इंदौर सहित पश्चिमी मप्र में इसका कोई विशेष असर नहीं होगा। 22 मई से प्रदेश के कुछ इलाकों भोपाल, नर्मदापुरम, उज्जैन और इंदौर में हल्की बारिश के आसार है। इस बार मानसून भोपाल, इंदौर, नर्मदापुरम और उज्जैन संभागों में ज्यादा मेहरबान रहेगा।

Updated : 2022-05-20T16:41:25+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top