Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भोपाल > लगातार बारिश से पानी-पानी हुआ मप्र, नर्मदा, चंबल, बेतवा, शिप्रा उफान पर

लगातार बारिश से पानी-पानी हुआ मप्र, नर्मदा, चंबल, बेतवा, शिप्रा उफान पर

लगातार बारिश से पानी-पानी हुआ मप्र, नर्मदा, चंबल, बेतवा, शिप्रा उफान पर
X

भोपाल। मध्यप्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में तेज बारिश हो रही है, जिससे नर्मदा, चंबल, बेतवा, ताप्ती, शिप्रा उफान पर आ गई हैं। छोटी नदियां और-नाले भी उफनाए हुए हैं। कई बांधों के गेट खोलना पड़ गए हैं। भोपाल में दो दिन से हो रही लगातार बारिश के चलते कलियासोत, भदभदा और कोलार के गेट खोलकर पानी छोड़ा जा रहा है। भोपाल कलेक्टर अविनाश लवानिया ने सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूलों की छुट्टी कर दी है। मंदसौर में शिवना उफनाने से पशुपतिनाथ मंदिर में पानी आ गया है।

नर्मदापुरम में लगातार बारिश और बाढ़ के खतरे को देखते हुए सभी प्राइवेट और सरकारी स्कूलों की छुट्टी कर दी गई है। बाढ़ के खतरे को देखते हुए अफसरों ने संजय नगर, आदमगढ, महिमानगर, बंगाली कॉलोनी, खोजनपुर के रहवासियों को राहत शिविर में पहुंचने की मुनादी कराई है। यहां नर्मदा खतरे के निशान के करीब 967 फीट पर बह रही है और निचली बस्तियों में पानी आने लगा है। तवा डैम के गेट खोलकर भी पानी छोड़ा जा रहा है। नर्मदापुरम शहर का हरदा और बैतूल से संपर्क टूट गया है। औबेदुल्लागंज-बैतूल नेशनल हाईवे पर सुखतवा नदी के पुल पर पानी है, जिससे करीब 11 घंटे से एनएच-69 बंद है। नर्मदापुरम- हरदा स्टेट हाईवे पर हथेड़ नदी पर बाढ़ का पानी आने से मार्ग बंद हो गया। राजगढ़ में भी स्कूलों की छुट्टी कर दी गई है।

भोपाल में सामान्य से 75 प्रतिशत अधिक बारिश -

भोपाल में लगातार दो दिन से तेज बारिश हो रही है। रविवार रात से शुरू हुआ बारिश का दौर सोमवार रातभर चलता रहा। भोपाल कलेक्टर अविनाश लवानिया ने अत्यधिक बारिश को देखते हुए सभी शासकीय और अशासकीय स्कूलों में आज मंगलवार 16 अगस्त का अवकाश घोषित किया है। राजधानी में 1 जून से अब तक सामान्य से 75% ज्यादा पानी गिर चुका है। सामान्य तौर पर अब तक 24 इंच बरसात होना चाहिए थी, लेकिन पानी 20 इंच ज्यादा गिर चुका है।

बरगी डैम के गेट भी खुले

जबलपुर से लेकर पचमढ़ी, रायसेन, बैतूल और ग्वालियर तक जोरदार बारिश से हालात खराब हैं। जबलपुर में भी नर्मदा पर बने बरगी बांध के गेट खोलकर पानी छोड़ा जा रहा है। सोमवार को रायसेन में जोरदार बारिश के कारण बेगमगंज में बीना नदी के पास पुल धंस गया। इससे तीन दर्जन से ज्यादा गांवों का तहसील मुख्यालय से संपर्क टूट गया है। सीहोर के शाहगंज के जंगल में अमरगढ़ जलप्रपात पर पिकनिक मनाने आए भोपाल के 8 युवक वॉटरफॉल में फंस गए हैं। रात को युवकों ने डायल-100 पर सूचना दी, जिसके बाद से शाहगंज थाना पुलिस युवकों के रेस्क्यू में जुटी।

कहां हुई कितनी बारिश

सोमवार को सबसे ज्यादा बारिश भोपाल शहर और पचमढ़ी में ढाई-ढाई इंच हुई। मंडला, गुना, जबलपुर, भोपाल में 2-2 इंच पानी गिरा। दमोह, बैतूल, नर्मदापुरम, रायसेन और ग्वालियर में 1-1 इंच बारिश हुई। नौगांव, खरगोन, उमरिया, सिवनी, शिवपुरी, मलाजखंड और सागर में आधा-आधा इंच पानी गिरा। सतना, खजुराहो, रीवा, सीधी, धार, खंडवा, इंदौर और उज्जैन में कहीं-कहीं बारिश हुई। मौसम विभाग के अनुसार मंगलवार से बारिश में कुछ राहत मिल सकती है।

Updated : 2022-08-16T11:30:48+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top