Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भोपाल > लॉकडाउन के बाद भी मप्र में संक्रमण की रफ्तार तेज, नए मरीजों के मामले में भोपाल सबसे आगे

लॉकडाउन के बाद भी मप्र में संक्रमण की रफ्तार तेज, नए मरीजों के मामले में भोपाल सबसे आगे

लॉकडाउन के बाद भी मप्र में संक्रमण की रफ्तार तेज, नए मरीजों के मामले में भोपाल सबसे आगे
X

भोपाल। लॉकडाउन और अन्य इंतजामों के बावजूद मध्य प्रदेश में कोरोना की रफ्तार पर विराम नहीं लग रहा है। बड़े शहरों के अलावा अब छोटे शहरों में भी एक दिन में 200 से ज्यादा संक्रमित मरीज मिलने लगे हैं। बीते 24 घंटों में उज्जैन, सागर, खरगोन, शिवपुरी, कटनी, नरसिंहपुर, सतना और शाजापुर में 200 से ज्यादा नए केस सामने आए हैं। वहीं, भोपाल ने कोरोना संक्रमण के मामले में इंदौर को पीछे छोड़ दिया है। यहां 1,681 केस मिले हैं, जो प्रदेश में सबसे ज्यादा है।

भोपाल में कोरोना के नए केस अब इंदौर से ज्यादा आ रहे हैं। यहां 24 घंटे में इंदौर से दो मामले ज्यादा यानी 1,681 मामले आए। भोपाल में वर्तमान में संक्रमण दर 27 फीसदी से ज्यादा है। स्थिति को देखते हुए सरकार कोरोना मरीजों के लिए सुविधाएं जुटाने में लगी है। एम्स में कोरोना मरीजों के लिए 500 बेड रिजर्व किए गए हैं। इसके अलावा 165 बेड का आईसीयू भी होगा। यहां कुल 870 बेड हैं। 19 अप्रैल से जनरल ओपीडी बंद कर दी जाएगी लेकिन इमरजेंसी ओपीडी चालू रहेगी। नियमित ऑपरेशन भी बंद कर दिए जाएंगे। सिर्फ इमरजेंसी केस में ही ऑपरेशन किए जाएंगे।

ग्वालियर में 735 मरीज -

ग्वालियर में 24 घंटे में 735 संक्रमित मिले हैं और दो लोगों की मौत हुई है। सिंधिया कन्या विद्यालय की 23 छात्राएं भी संक्रमित निकली हैं। लगातार चौथे दिन नए संक्रमितों का आंकड़ा 500 के पार रहा है। उधर, शिवपुरी जिले में गुरुवार को पहली बार 248 नए संक्रमित मिले हैं। दतिया, मुरैना, श्योपुर और भिंड में संक्रमितों की संख्या 100 से कम रही है।

जबलपुर में 724 -

जबलपुर में 24 घंटे में 724 नए केस आए हैं, 8 लोगों की मौत हुई है। 24 घंटे में 2,570 सैंपलों की जांच हुई थी। यहां 4,614 एक्टिव केस और 2,082 संदिग्ध केस हो गए हैं। वर्तमान में यहां 20 कंटेनमेंट जोन एक्टिव हैं।

Updated : 16 April 2021 8:13 AM GMT
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top