Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भोपाल > सत्ता में वापसी के लिए कांग्रेस ने जारी किया वचनपत्र

सत्ता में वापसी के लिए कांग्रेस ने जारी किया वचनपत्र

सत्ता में वापसी के लिए कांग्रेस ने जारी किया वचनपत्र
X

भोपाल। उपचुनाव के लिए राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों का प्रचार-प्रसार जोर पकड़ चुका है। उपचुनाव के रास्ते सत्ता में वापसी का प्रयास कर रही कांग्रेस ने आज वचनपत्र का विमोचन किया। पूर्व सीएम कमलनाथ, दिग्विजय सिंह एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचोरी ने वचनपत्र का विमोचन किया।वचन पत्र में कोरोनावायरस परिवारों को आर्थिक सहायता और मुआवजे का वादा। 28 विधानसभा क्षेत्रो के लिए अलग वचन पत्र भी बनाया गया है।

इस अवसर पर कमलनाथ ने कहा की 28 विधानसभाओं के लिए अलग वचन पत्र भी बनाया गया है। पिछले वचन पत्र में शामिल थे 974 मुद्दे शामिल थे। हमने 15 महीने की सरकार में 574 वचन पूरे किये है। जनता इस बात की गवाह है। हम मप्र के विकास के लिए आगामी तीन सालों का विकास का रोडमेप बना रहे है। इनका चुनाव प्रचार तो बीते 7 महीने से चल रहा था हमने अभी 4 दिन से शुरू किया और ये चार दिन के प्रचार से बौखला गए।जनता का ध्यान मोड़ने के लिए कभी पाकिस्तान तो कभी किसी और बात को मुद्दा बनाया जा रहा है।जनता आने वाले दिनों में हमारे इस वचन पत्र में विचार करके अपना फैसला ले। अकेले प्रचार में दिखाई देने पर कहा ऐसी बात नहीं है मैं कोई सुपर स्टार नहीं हूँ बल्कि मैं कोई स्टार ही नहीं हूँ।

वचन पत्र में राहुल-प्रियंका के फोटो गायब, दोबारा किया जारी

कांग्रेस ने पहले 28 विधानसभा क्षेत्रों के अगल-अलग वचन पत्र जारी किये थे। जिनमें पार्टी ने राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा के फोटो नहीं लगाए। इसीलिए कांग्रेस ने शनिवार को राहुल और प्रियंका की फोटो के साथ दोबारा अपना वचन पत्र जारी किया। हालांकि, अब इस वचन पत्र से पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह गायब हैं। इस संबंध में कांग्रेस पार्टी का कहना है कि पहले जो वचनपत्र जारी किए गए थे, वो विधानसभाओं के लिए थे, उनमें राहुल गांधी की तस्वीर होना जरूरी नहीं था। पार्टी द्वारा शारदीय नवरात्रि के मौके पर शनिवार को कांग्रेस मुख्य वचन पत्र जारी किया। यह उपचुनाव के लिए पार्टी का मुख्य वचन पत्र है और इसमें इसमें सभी प्रमुख नेताओं की तस्वीरें हैं।

कांग्रेस के 52 वचन -

  • जय किसान फसल कर्ज माफी योजना पुनः प्रारम्भ की जाएगी
  • बिजली बिल 100 रुपए में 100 यूनिट
  • किसान विरोधी कानून प्रदेश में लागू नही की जाएगी
  • किसान की फसल का सर्मथन मूल्य खरीदने की नई व्यवस्था चालू करेंगे
  • शिवराज सरकार ने फसल बीमा की राशि कर्ज में काट दी,, हम फसल बीमा की राशि पूरी खाते में डालेंगे
  • गो न्याय योजना
  • चबंल के बीहड़ में बंजर भूमि को खेती योग्य बनाकर भूमि हीन,
  • खेतिहर मजदूरों के हित में भूमि के उपयोग की नीति बनाएंगे
  • शुद्ध के लिए युद्ध
  • सामाजिक पेंशन पहले 300 से 600 की थी अब बढ़ाकर 800 से 1000 तक करेंगे
  • कोरोना महामारी के कारण परिवार के मुखिया की मृत्यु होने पर ,
  • कोरोना सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना शुरू करेंगे
  • मंडी शुल्क को लेकर नई नीति लेकर आएंगे
  • कोरोना से मौत होने पर परिवार के सदस्य को रोजगार/स्वरोजगार से जोड़ेंगे
  • कन्या विवाह के लिए 51 हजार रुपए
  • आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका एवं आशा कार्यकर्ता के मानदेय में व्रद्धि
  • महिला सशक्तिकरण के लिए 5 लाख तक का लोन
  • आदिवासी महिलाओं के लिए विशेष सहायता देकर सक्षम बनाएंगे
  • नए स्व सहायता समूहों को शासकीय उचित मूल्य की राशन दुकानें आवंटित करेंगे
  • महिलाओं को सुरक्षा के क्षेत्र में, महिला सुरक्षा वाहिनी
  • रानी लक्ष्मीबाई की वीरता और सौर्य को प्रदेश में चिरस्थाई बनाने के लिए शैक्षणिक संस्थाओं में कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे
  • ग्राम महिला सुरक्षा समितियों का गठन
  • महिलाओं के गौरव को बढ़ाने के लिए, गौरव रानी लक्ष्मी, रानी दुर्गावती, देवी अहिल्याबाई में एक एक रुपए का पुरस्कार प्रतिवर्ष दिए जाएंगे
  • कोरोना संक्रमण काल में, प्रतियोगी परीक्षाओं का शुल्क कांग्रेस सरकार भरेगी
  • पाइवेट सुरक्षा गॉर्ड को प्रशक्षित है, उन्हें बन्दूक के लायसेंस देने की प्रकिया सरल की जाएगी
  • कोरोना में बंद हुए कारखाने से बेरोजगार हुए युवाओं को पुनः रोजगार उपलब्ध कराएंगे
  • शासकीय विभागों में खाली पड़े पदों पर भर्ती प्रकिया शुरू करेंगे
  • ग्वालियर चम्बल में सैनिक स्कूल के तर्ज पर नवीन स्कूल खोलेंगे
  • ग्वालियर चम्बल में नए उद्योग लगाएंगे
  • चबंल हाईवे के दोनों और उद्योगिक इकाइयों की स्थापनाश्रम कानून में संशोधन
  • कोरोना महामारी के दौरान बैंक लोन की क़िस्त चुकाने के लिए अतिरिक्त लोन की व्यवस्था
  • छोटे व्यापारी के लिए 50 हजार तक का लोनवित्त निगमो को नए सिरे से पुर्नजीवितजल अधिकार कानून
  • आवास का अधिकार कानूनआदिवासियों के आस्था के स्थानों के लिए अष्टाआन योजना
  • प्रजापति, रजक, धोबी, सेन समाज के विकास
  • कीर मीना, पारधी को अनुसूचित जनजाति में शामिल कराएंगे
  • ग्वालियर चम्बल में चंबल महोत्सव का आयोजन
  • ग्वालियर एवं निकटवर्ती क्षेत्रो में मेट्रो रेल की सुविधा
  • संविधान बचाओ, देश बचाओ आंदोलन में दर्ज प्रकरण, उन्हें वापस करने की नीति
  • श्रमिकों के बच्चों के लिए सर्वसुविधायुक्त श्रमोदय विद्यालय खोलेंगे
  • कर्मचारियों को महंगाई भत्ता देंगे
  • कर्मचारियों की पदोन्नति की समस्त विभाग में लंबित प्रक्रिया को प्रारंभ करने के लिए उठाएंगे कदम
  • अतिथि शिक्षकों, गुरुजनों, अतिथि विद्वानों आदि की मांगों का निराकरण
  • विद्युत कंपनियों के आउटसोर्स कर्मचारियों की मांगों का सहानुभूति पूर्वक निराकरण करेंगे
  • प्राथमिक लघु वनोपज सहकारी समितियों के कर्मचारियों की मांगों पर तत्काल निराकरण करेंगे
  • कृषि उपज मंडियों एवं मंडी बोर्ड के कर्मियों की मांगों पर सहानुभूति पूर्वक विचार
  • कोरोना संक्रमण काल में सेवाएं दे रहे राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के कर्मियों एवं जन स्वास्थ्य रक्षकों की मांगों का निराकरण
  • फॉरेस्ट गार्ड के पद नाम के स्थान पर विलेज फॉरेस्ट ऑफिसर रखने के लिए कार्रवाई करेंगे



Updated : 2020-10-17T13:59:39+05:30
Tags:    

स्वदेश वेब डेस्क

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Next Story
Share it
Top