Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भोपाल > अटल जी पुण्यतिथि : किसी दल या देश के नहीं, बल्कि पूरी दुनिया के नेता थे - शिवराज सिंह चौहान

अटल जी पुण्यतिथि : किसी दल या देश के नहीं, बल्कि पूरी दुनिया के नेता थे - शिवराज सिंह चौहान

अटल जी पुण्यतिथि : किसी दल या देश के नहीं, बल्कि पूरी दुनिया के नेता थे - शिवराज सिंह चौहान
X

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के भाषण देने की शैली के उनके विरोधी विचारधारा वाले भी कायल थे और भी अटल जी का भाषण सुनने का अवसर नहीं छोड़ते थे। शिवराज ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कायार्लय में वाजपेयी की द्वितीय पुण्यतिथि के अवसर पर श्रद्धांजलि सभा में यह बात कही। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा और वरिष्ठ नेता प्रभात झा भी मौजूद थे।

शिवराज सिंह चौहान ने वाजपेयी को अजातशत्रु बताते हुए कहा कि वे किसी दल या देश के नहीं, बल्कि पूरी दुनिया के नेता थे।

उन्होंने कहा, 'पंडित जवाहरलाल नेहरु की लोकप्रियता के काल में भी वाजपेयी तत्कालीन सरकार की नीतियों की आलोचना करते थे। उनकी भाषण शैली इस तरह की थी कि प्रत्येक व्यक्ति उन्हें सुनने के लिए लालायित रहता था। जनसंघ के विरोधी भी उनका भाषण सुनने जाते थे। वाजपेयी के लिए दल से ज्यादा महत्वपूर्ण देश था और जब भारत पाकिस्तान का युद्ध हुआ, तब वे तत्कालीन प्रधानमंत्री मती इंदिरा गांधी के साथ खड़े थे।'

सीएम शिवराज ने कहा कि वाजपेयी देश का परमाणु शक्ति संपन्न बनाने के पक्षधर थे और उनके कार्यकाल में इस दिशा में कार्य हुआ था। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर घोषणा की कि राज्य के उत्तरी अंचल की महत्वाकांक्षी चंबल प्रोग्रेस वे योजना का नामकरण वाजपेयी के नाम पर 'वाजपेयी चंबल प्रोग्रेस वे' होगा। उन्होंने कहा कि इसके अलावा भोपाल में वाजपेयी की भव्य प्रतिमा स्थापित की जाएगी।

इस मौके पर पूर्व सांसद प्रभात झा ने भी वाजपेयी की जन्मस्थली ग्वालियर से जुड़े पूर्व प्रधानमंत्री के संस्मरण सुनाए। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा और अन्य भाजपा नेताओं ने भी वाजपेयी के प्रति श्रद्धासुमन अर्पित किए।

Updated : 16 Aug 2020 8:21 AM GMT
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top