Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भोपाल > रविवार को राजधानी में मिले 149 कोरोना पॉजिटिव

रविवार को राजधानी में मिले 149 कोरोना पॉजिटिव

1283 एक्टिव केस, अब तक 134 संक्रमितों की मौत

भोपाल, स्वदेश संवाददाता। प्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना संक्रमण की दर दिन-प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है। लगातार चौथे दिन एक सैकड़ा से अधिक संक्रमित मिलने के क्रम में रविवार सुबह एक साथ 149 कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आए। हालांकि रविवार को 42 संक्रमित मरीज स्वस्थ होने के बाद अपने घर वापस पहुंचे।

राजधानी भोपाल के जिन क्षेत्रों में सर्वाधिक कोरोना पॉजीटिव सामने आए हैं, उनमें रविवार को जहांगरीराबाद क्षेत्र से 4, एसबीआई मुख्य शाखा से 2, इब्राहिमगंज से एक, एम्स पुरुष छात्रावास से एक चिकित्सा छात्र, डी सेक्टर पिपलानी कॉलोनी से एक ही परिवार के तीन लोग, गुप्ता कॉलोनी आनंद विहार से एक ही परिवार के दो लोग, धोबीघाट पातरा बरखेड़ी से एक ही परिवार के दो लोग और जैन कालोनी चंदन नगर से एक ही परिवार के 4 सदस्यों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसी के साथ भोपाल में अब तक कुल 4392 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिल चुके हैं, इनमें से 2960 स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं। कोरोना की वजह से भोपाल में 134 लोग अपनी जान गवां चुके हैं और 1283 मरीज अस्पतालों में इलाज करवा रहे हैं।

रविवार को स्वस्थ हुए 42 पीडि़त

राजधानी भोपाल में कोरोना संक्रमण के आंकड़े जिस गति से बढ़ रहे हैं, उसी क्रम में स्वस्थ होकर घर लौटने वालों की संख्या भी सर्वाधिक है। रविवार को भोपाल में अस्पतालों से स्वस्थ होकर 42 व्यक्ति अपने घर रवाना हुए। इनमें पंडित खुशीलाल शासकीय आयुर्वेदिक अस्पताल से 3, शासकीय होम्योपैथिक अस्पताल से 5 और निजी अस्पताल से 34 व्यक्ति स्वस्थ हुए। इनमें रायसेन का एक और विदिशा का एक व्यक्ति शामिल हैं। इन सभी ने अपने सफल इलाज के लिए शासन-प्रशासन का आभार व्यक्त किया।

आरजीपीवी में में बनेगा 350 बिस्तर का कोविड केयर सेंटर

राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय में 350 बिस्तरों का कोविड केयर सेंटर बनाया जाएगा। नए महिला छात्रावास में 140 और पुरुष छात्रावास में 210 बिस्तरों की व्यवस्था होगी। बिना लक्षणों वाले और माइल्ड श्रेणी के कोविड पॉजिटिव मरीजों को यहां आइसोलेशन में रखा जाएगा। संभागायुक्त कवींद्र कियावत रविवार को इस सेंटर की तैयारियों का निरीक्षण करने पहुंचे और संबंधित अधिकारियों को व्यवस्था हेतु आवश्यक निर्देश दिए। जिलाधीश अविनाश लवानिया भी उनके साथ उपस्थित थे । इस दौरान संभागायुक्त ने व्यवस्थाओं में सुधार हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उल्लेखनीय है कि आरजीपीवी वर्तमान में आइसोलेशन सेंटर के रूप में कार्य कर रहा है जिसे अब कोविड केयर सेंटर में विकसित किया जा रहा है।

बिना पीपीई किट के प्रवेश नहीं

संभागायुक्त ने निरीक्षण के दौरान निर्देश दिए कि यहां भर्ती मरीजों को भोजन, पीने का पानी, टॉयलेट और जरूरत का सामान उपलब्ध कराएं। प्रोटीन युक्त खाने और आवश्यक दवाइयों के साथ रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने के लिए विटामिन सी, मल्टीविटामिन भी दे। मानसिक तनाव कम करने और मनोरंजन के लिए टीवी लगाएं, लूडो, केरम जैसे खेल खिलाए। सुरक्षा की दृष्टि से सभी मेडिकल स्टाफ और सफाईकर्मी मास्क/ग्लवस आदि पहनकर ही प्रवेश करें। नगर निगम की कचरा गाड़ी अलग से कचरा एकत्रित कर यहां के कचरे का निस्तारण करे। सेंटर में स्वच्छता, साफ -सफाई, सेनिटाइजेशन और सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध करे। कोई भी व्यक्ति अनाधिकृत रूप से या बिना पी पी ई किट प्रवेश नहीं कर पाए।

Updated : 20 July 2020 5:57 AM GMT
Tags:    

Vinod Dubey

Journalist from Bhopal


Next Story
Share it
Top