Home > MP Election 2018 > भाजपा को सुध आई अपने एक करोड़ सदस्यों की

भाजपा को सुध आई अपने एक करोड़ सदस्यों की

चुनावी मौसम: मिस्ड कॉल से जोड़े गए थे यह सदस्य

भाजपा को सुध आई अपने एक करोड़ सदस्यों की
X

भोपाल। बीते लोकसभा चुनाव के समय मिस्ड कॉल से प्रदेश भर से जोड़े गए सदस्यो की भाजपा अब चार साल बीतने के बाद सुध लेने जा रही है। योजना यह थी कि बनाए गए सदस्यों में से 15 लाख सदस्यों का चुनाव किया जाएगा और चुनिंदा सदस्यों को प्रशिक्षण देकर उनमें से पदाधिकारी नियुक्त किए जाएंगे। इसमें सदस्यों के कामकाज का पूरा आंकलन किया जाएगा। लेकिन केन्द्र में सत्ता मिलते ही पूरी योजना को ही ठंडे बस्ते में डाल दिया गया।

अब जब प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने है तब भाजपा को फिर इन मिस्डकाल सदस्यो की याद आई है। भाजपा ने तय किया है कि वो चुनाव से पहले अपने सभी मिस्ड कॉल सदस्यों को कॉल कर उनका हाल चाल जानेगी. इसके लिए प्रदेश भर में मिस्ड कॉल से बने सदस्यों को कॉल करने का कैंपेन शुरु किया जा रहा है. बताया जा रहा है कि कॉल करने के इस अभियान में बीजेपी के तमाम बड़े नेता भी शामिल होंगे.

दरअसल, बीते लोकसभा चुनाव के दौरान बीजेपी ने देश भर में मिस्ड कॉल के जरिए लोगों को पार्टी से जोडऩे का अभियान शुरु किया था. इसी अभियान के तहत मध्य प्रदेश में करीब एक करोड़ सदस्यों को पार्टी से जोडऩे का दावा किया गया. अब चुनाव से पहले बीजेपी उनका हालचाल जानकर सियासी फायदे की जुगत में है.बता दें कि बीजेपी के मिस्ड कॉल के जरिए सदस्यता अभियान हमेशा विरोधियों के निशाने पर रहा है. आरोप लगता रहा हैं कि मिस्ड कॉल के जो आंकड़े बताये जा रहे हैं, वे फर्जी हैं. हालांकि सदस्यों के हिसाब से भारतीय जनता पार्टी भारत की सबसे बड़ी पार्टी ह। मिस्ड कॉल के जरिए भाजपा ने देशभर में 10 करोड़ सदस्य बनाए थे । प्रदेश में एक करोड़ सदस्य मिस्ड कॉल के जरिए बने थे।

Updated : 2018-08-13T17:39:51+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top