Home > MP Election 2018 > कई भाजपा विधायकों के बदले जा सकते हैं विधानसभा क्षेत्र

कई भाजपा विधायकों के बदले जा सकते हैं विधानसभा क्षेत्र

कई भाजपा विधायकों के बदले जा सकते हैं विधानसभा क्षेत्र
X

भोपाल। स्थानीय परस्थितियों के चलते भारतीय जनता पार्टी के कई वर्तमान विधायकों को इस बार अपनी सीट बदलना पड़ सकती है। कुछ को पार्टी दूसरे क्षेत्र से चुनाव लड़वाना चाहती है। कुछ विधायक स्वयं अपनी सीट बदलना चाहते हैं इन विधायकों ने पार्टी को अपनी मंशा से अवगत भी करा दिया है।

सूत्र बताते हैं कि सामान्य प्रशासन विभाग के राज्यमंत्री लालसिंह आर्य इस बार अपनी विधानसभा सीट बदलने की तैयारी कर रहे हैं। सूत्र बताते हैं कि मंत्री श्री आर्य ने इस बार भाजपा की सबसे सुरक्षित मानी जाने वाली एक अन्य सीट से चुनाव लडऩे की इच्छा जताई है। पार्टी के विश्वस्त सूत्रों की मानें तो इस संबंध में वे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को भी अपनी इच्छा बता चुके हैं। लालसिंह आर्य वर्तमान में भिंड के गोहद सीट से विधायक हैं। इसी तरह कृषि मंत्री गौरीशंकर बिसेन द्वारा बेटी के लिए सीट छोड़ देने की चर्चाएं हैं। उनकी बेटी मौसमी बिसेन बालाघाट से चुनावी तैयारियां कर रही है। हाल ही में उन्होंने महिलाओं की एक मोटर साईकिल रैली भी निकाली थी। भोपाल से भाजपा के वरिष्ठ विधायक बाबूलाल गौर की विधानसभा सीट गोविंदपुरा में भी इस बार बदलाव की चर्चााएं हैं। इस बार पार्टी किसी अन्य उम्मीदवार को यहां से टिकट दे सकती है। हालांकि गौर का दावा है कि पार्टी उन्हें ही टिकट देगी। श्री गौर की इस सीट से भाजपा के मनोरंजन मिश्रा, तपन भौमिक, महापौर आलोक शर्मा सहित अन्य नेता दावेदारों में शामिल हैं।

सांसद नहीं, विधायक बनेंगे ये दिग्गज

इस बार भाजपा सांसद अनूप मिश्रा भी विधायक का चुनाव लडऩ़े की तैयारी कर रहे हैं। वे वर्तमान में मुरैना से सांसद हैं, लेकिन इस बार उन्होंने विधायक का चुनाव लडऩे की इच्छा जताई है। इसके लिए वे सत्ता और संगठन को भी अवगत करा चुके हैं। बताया जा रहा है कि इस वार वे ग्वालियर पूर्व विधानसभा सीट से चुनाव लडऩे की इच्छा जता रहे हैं। इसी तरह कांग्रेस के पूर्व सांसद अरूण यादव के भी विधायकी का चुनाव लडऩे की चर्चाएं हैं। चर्चा है कि अरुण यादव सांसद प्रत्याशी अपने भाई को बनाना चाहते हैं। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह टिकट के दावेदारों को लेकर जिलाध्यक्षों एवं पूर्व जिलाध्यक्षों से सीधी चर्चा कर रहे हैं। वे टिकट के दावेदार एवं कांग्रेस के संभावित दावेदारों को लेकर भी चर्चा कर रहे हैं। पार्टी सूत्रों की मानें तो इस बार टिकट पार्टी द्वारा तय मानकों के आधार पर ही दिए जाएंगे।

Updated : 2018-09-22T19:56:44+05:30
Tags:    

Swadesh Digital

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top